कश्मीर में खराब माहौल का असर क्रिकेट पर, सरकार ने इरफान पठान से की घर आने की अपील

कश्मीर में खराब माहौल का असर क्रिकेट पर, सरकार ने इरफान पठान से की घर आने की अपील

Kapil Tiwari | Updated: 05 Aug 2019, 12:25:22 PM (IST) क्रिकेट

इरफान पठान ( Irfan Pathan ) जम्मू-कश्मीर में क्रिकेट एसोसिएशन के साथ जुड़े हुए हैं। भारत सरकार ( Indian Govt ) ने कश्मीर भारी संख्या में आर्मी की तैनाती कर दी है।

श्रीनगर। केंद्र की मोदी सरकार ने जम्मू-कश्मीर में जबसे भारी सुरक्षाबलों की तैनाती की है, तभी से घाटी में कुछ बड़ा होने की अटकलें लगाई जा रही हैं। एहतियात के तौर पर कश्मीर में मौजूद टूरिस्टों और अमरनाथ यात्रियों को सरकार ने वापस बुलाने के आदेश दे दिए हैं। इस बीच टीम इंडिया के पूर्व क्रिकेटर इरफान पठान को भी कश्मीर से रवाना होने के लिए कहा दिया गया है। आपको बता दें कि इरफान पठान कश्मीर में क्रिकेट एसोसिएशन के साथ जुड़े हुए हैं।

विंडीज के खिलाफ फिर वही गलत शॉट खेलकर ऑउट हुए ऋषभ पंत, ट्रोलर्स ने कर दी खिंचाई

पठान समेत सपोर्टिव स्टाफ भी लौटेगा अपने घर

जानकारी के मुताबिक, जम्मू-कश्मीर क्रिकेट एसोसिएशन मेंटर इरफान पठान सहित कोच मिलाप मीवाड़े, ट्रेनर सुदर्शन वीपी अन्य चयनकर्ताओं को तुरंत कश्मीर छोड़ने का आदेश दे दिया है। एक अंग्रेजी अखबार की खबर के मुताबिक, जम्मू-कश्मीर क्रिकेट एसोसिएशन मुख्य कार्यकारी अधिकारी सैयद आशिक हुसैन बुखारी ने कहा कि, पठान और अन्य सहायक कर्मचारियों को जम्मू-कश्मीर छोड़ने की सलाह दी गई है। वो रविवार को घाटी से उड़ान भरेंगे। टीम के चयनकर्ताओं को भी अपने-अपने स्थानों के लिए रवाना होने के लिए कहा गया है।

IND vs WI 2nd T20: सीरीज जीतने के इरादे से उतरेगा भारत, विंडीज चाहेगा वापसी

घाटी में घरेलू सीजन के लिए चल रहा था ट्रायल

आपको बता दें कि जम्मू-कश्मीर में आगामी घरेलू क्रिकेट सीजन को देखते हुए अंडर-16, अंडर-19 और रणजी टीम के लिए ट्रायल चल रहा था। ये सेलेक्शन प्रक्रिया श्रीनगर के शेर-ए-कश्मीर स्टेडियम में पिछले दो सप्ताह से चल रहा है। इसमें जम्मू संभाग से 110 के करीब खिलाड़ियों सहित जेकेसीए के मेंटर इरफान पठान, कोच मिलाप आैर अन्य स्पोर्टिंग स्टॉफ मौजूद था। कश्मीर में बने हालात के उपरांत जेकेसीए के चीफ एग्जीक्यूटिव आफिसर सैयद आशिक हुसैन बुखारी ने तुरंत सभी खिलाड़ियों को अपने घरों की ओर लौटने के दिशा निर्देश जारी किए। उन्होंने बताया कि खिलाड़ियों की जिंदगी वे दांव पर नहीं लगा सकते हैं इसलिए सभी को जल्द से जल्द घरों की ओर लौटने के लिए कहा है।

कश्मीर में खराब माहौल की वजह से क्रिकेट पर पड़ा असर

घरेलू क्रिकेट सीजन का आगाज आगामी 17 अगस्त से शुरू होने वाली दिलीप ट्रॉफी से हो रहा है। इसके उपरांत विजय हजारे, सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी सहित रणजी और अन्य घरेलू क्रिकेट श्रृंखला के मुकाबले शुरू होने वाले हैं। इसमें जम्मू-कश्मीर के बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद लिए शेर-ए-कश्मीर स्टेडियम में कैंप का आयोजन किया गया था, लेकिन अब सभी तैयारियां बीच में ही छोड़नी पड़ रही हैं।

आपको बता दें कि केंद्र सरकार ने घाटी में दो एडवाइजरी जारी कर करीब 30 हजार से ज्यादा जवानों की तैनाती कर दी है। घाटी में भारी संख्या में सुरक्षाबलों की तैनाती होने की वजह से वहां कुछ बड़ी कार्रवाई का अंदेशा है।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned