दूसरे टेस्ट में तीन विकेट लेने के बाद बुमराह बोले, आलोचनाओं से नहीं पड़ता फर्क

Jasprit Bumrah कीवी दौरे पर अब तक आउट ऑफ फॉर्म चल रहे थे। दूसरी पारी में वह फॉर्म में लौटे और उन्होंने कीवी टीम की पहली पारी में शानदार गेंदबाजी की।

By: Mazkoor

Updated: 01 Mar 2020, 05:52 PM IST

क्राइस्टचर्च : टीम इंडिया (Team India) के शीर्ष तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह (Jasprit Bumrah) के लिए न्यूजीलैंड दौरा अच्छा नहीं रहा है। उन्होंने पांच मैचों की टी-20 सीरीज में छह विकेट जरूर लिए थे, लेकिन अहम मौके पर रन रोकने और विकेट निकालने में कामयाब नहीं हो जाए थे, जिसके लिए उन्हें जाना जाता है। तीन मैचों की वनडे सीरीज तो उनके लिए और खराब रही। वह वनडे सीरीज में एक विकेट तक लेने के लिए तरस गए थे। अगर टेस्ट सीरीज के पहले टेस्ट की बात करें तो वह उसमें भी नाकाम रहे थे। इस कारण उनकी आलोचना हो रही है। लेकिन बुमराह को को इन आलोचनाओं से कोई फर्क नहीं पड़ता। उन्होंने कहा कि वह जब तक अच्छी गेंदबाजी कर रहे हैं, तब तक उन्हें इससे कोई फर्क नहीं पड़ता।

बोले बुमराह, निजी प्रदर्शन पर नहीं, प्रक्रिया पर देता है ध्यान

जसप्रीत बुमराह ने कहा कि वह निजी प्रदर्शन पर ध्यान नहीं देते। उनका ध्यान प्रक्रिया को सही रखने का होता है। उन्होंने कहा कि अगर आप अच्छी गेंदबाजी करते हैं। दबाव बनाए रखते हैं, तब किसी दिन विकेट उनके खाते में जाता है और किसी दिन किसी अन्य के खाते में। खेल के दौरान उनका ध्यान बस इस बात पर रहता है कि वह क्या कर सकते हैं।

श्रीलंका पर जीत के बाद कप्तान हरमनप्रीत ने की शेफाली वर्मा की तारीफ, कहा- उन्हें बड़े शॉट खेलना पसंद

मानसिकता सही रखने की जरूरत

वेलिंगटन टेस्ट में टीम इंडिया को कीवी टीम ने 10 विकेट से बड़ी मात दी थी। अब वह दूसरे टेस्ट की दूसरी पारी में भी 90 रन पर छह विकेट खोकर हार के कगार पर खड़ी है। इस पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए बुमराह ने कहा कि उन्हें सिर्फ इस चीज से फर्क पड़ता है कि उनकी मानसिकता सही है या नहीं। बता दें कि इस टेस्ट की पहली पारी में बुमराह ने अच्छी गेंदबाजी करते हुए कीवी टीम की पहली पारी में तीन विकेट निकाले हैं।

गेंदबाजों के पास दबाव बनाने का था मौका

हेगले ओवल की पिच से मिल रही मदद के बारे में बुमराह ने कहा कि इस पिच पर पहले दिन नमी थी। इस कारण कीवी टीम ने जब गेंदबाजी की तो पिच पर कुछ निशान पड़ गए। दोनों टीमों को सीम मूवमेंट मिल रही है और गेंदबाजों के पास मौका मिला। उन्होंने कहा कि अगर आप सही लाइन और लेंथ पर गेंदबाजी कर रहे हैं तो बल्लेबाजों पर दबाव बना सकते हैं।

भारतीय महिला टीम की गेंदबाजी को खतरनाक बनाने का श्रेय नरेंद्र हिरवानी को जाता है, जानें कैसे

शमी के प्रदर्शन पर खुशी जताई

जसप्रीत बुमराह मोहम्मद शमी के प्रदर्शन पर खुशी जताते हुए कहा कि वह लगातार मौके बनाने में सफल रहे। इस कारण टीम इंडिया पहली पारी में सात रन की बढ़त हासिल करने में कामयाब रही। मोहम्मद शमी ने पहली पारी में चार विकेट लिए थे।

Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned