जसप्रीत बुमराह ने कहा, नहीं मढ़ सकते बल्लेबाजों पर दोष

Jasprit Bumrah ने कहा कि जब हम बतौर बल्लेबाजी ईकाई विकेट नहीं ले पाते हैं तो बल्लेबाजों को भी यह हक नहीं कि वह हम पर सवाल उठाएं।

By: Mazkoor

Updated: 01 Mar 2020, 05:12 PM IST

क्राइस्टचर्च : टीम इंडिया (Team India) न्यूजीलैंड (New Zealand Cricket Team) के खिलाफ सीरीज के दूसरे और अंतिम टेस्ट की दूसरी पारी में 90 रन पर छह विकेट खोकर संकट में है। वह इस टेस्ट में भी हार के कगार पर खड़ी है। हालांकि भारतीय तेज गेंदबाजों की जोड़ी मोहम्मद शमी और जसप्रीत बुमराह (Jasprit Bumrah) ने कीवी टीम को पहली पारी में 235 रन पर समेट कर टीम इंडिया की मैच में वापसी कराई थी, लेकिन पहली पारी की तरह दूसरी पारी में भी भारतीय बल्लेबाजों के लापरवाह अंदाज में बल्लेबाजी करने के कारण भारत इस सीरीज में एक और हार के कगार पर खड़ा है, लेकिन टीम इंडिया के तेज गेंदबाज बल्लेबाजों पर कोई दोष मढ़ना नहीं चाहते।

किसी पर दोष मढ़ना हमारी संस्कृति नहीं है

लगातार दूसरे टेस्ट में फेल हुई भारतीय बल्लेबाजी के बावजूद जसप्रीत बुमराह ने इनका बचाव किया। उन्होंने कहा कि वह बल्लेबाजों के खराब प्रदर्शन के लिए किसी पर दोष मढ़ना नहीं चाहते। उन्होंने कहा कि देखिए यह हमारी टीम संस्कृति नहीं है। हम किसी पर दोष डालने की कोशिश नहीं करते। उन्होंने कहा कि जब गेंदबाजी इकाई के रूप में हम विकेट नहीं ले पाते तो बल्लेबाजों को इससे यह हक नहीं मिलता कि वह हमारे प्रदर्शन पर बात करें। इसलिए हमें भी भी ऐसा करने का कोई हक नहीं है।

श्रीलंका पर जीत के बाद कप्तान हरमनप्रीत ने की शेफाली वर्मा की तारीफ, कहा- उन्हें बड़े शॉट खेलना पसंद

पंत और विहारी पर भरोसा जताया

दूसरे दिन स्टंप तक भारत की ओर से हनुमा विहारी और ऋषभ पंत क्रमश: पांच और एक रन बनाकर मौजूद थे। जसप्रीत बुमराह ने कहा कि उन्हें ऋषभ पंत और हनुमा विहारी की क्षमताओं पर पूरा भरोसा है और मैच के तीसरे दिन वह विपक्षी टीम को टीम के लिए परेशानी खड़ी कर सकते हैं।

पारी लंबा खींचने की होगी कोशिश

न्यूजीलैंड की पहली पारी में जसप्रीत बुमराह भारत की तरफ से दूसरे सफल गेंदबाज रहे थे। उन्होंने 235 रन पर कीवी टीम को समेटने में तीन विकेट लेकर अहम भूमिका निभाई थी। बुमराह ने कहा कि बतौर टीम हम विपक्षी टीम को कड़ी टक्कर देना चाहते हैं और अच्छा प्रदर्शन करना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि वर्तमान स्थिति सभी के सामने है। हमारे दो बल्लेबाज बचे हैं। कल हमारी कोशिश पारी को लंबा खींचने की होगी। इसके लिए हम प्रयास कर सकते हैं और कड़ी मेहनत कर सकते हैं। जितना अधिक संभव हो, उतना अधिक रन बना सकते हैं। इसके बाद देखते हैं कि आगे क्या होता है।

भारतीय महिला टीम की गेंदबाजी को खतरनाक बनाने का श्रेय नरेंद्र हिरवानी को जाता है, जानें कैसे

हमने उम्मीद से अधिक विकेट गंवाए

जसप्रीत बुमराह ने कहा कि एक इकाई के रूप में टीम के सभी खिलाड़ी एक-दूसरे के काफी करीब हैं और बेहतर प्रदर्शन के लिए कड़ी मेहनत करते हैं। उन्होंने स्वीकार किया कि उम्मीद से अधिक विकेट हमने गंवाए हैं, लेकिन इसके लिए हम किसी पर दोष नहीं मढ़ सकते। हमारी कोशिश एकजुट रहने की होती है। बता दें कि जसप्रीत बुमराह ने मोहम्मद शमी के साथ मिलकर कीवी टीम की पहली पारी में सात विकेट चटकाए थे। बुमराह के तीन विकेट के अलावा शमी के लिए चार विकेट के कारण ही टीम इंडिया कीवी टीम को पहली पारी में 235 रन पर समेटकर सात रनों की बढ़त लेने में कामयाब रही थी। लेकिन उसके बाद टीम इंडिया ने अपनी दूसरी पारी में 90 रन पर छह विकेट खो दिए हैं। इस कारण उस पर हार का खतरा मंडराने लगा है।

Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned