जन्मदिन मुबारक : सबसे उपयोगी खिलाड़ी बनकर उभरे हैं राहुल, इनके नाम है कई अद्भुत रिकॉर्ड्स

KL Rahul एक ऐसे खिलाड़ी हैं, जो गेंदबाजी छोड़कर क्रिकेट की हर विधा में माहिर हैं। इस कारण वह Team India के सबसे उपयोगी क्रिकेटर बनते जा रहे हैं।

By: Mazkoor

Updated: 18 Apr 2020, 05:15 PM IST

नई दिल्ली : टीम इंडिया के युवा बल्लेबाज केएल राहुल (KL Rahul) एक ऐसे खिलाड़ी हैं, जो गेंदबाजी छोड़कर क्रिकेट की हर विधा में माहिर हैं। इस कारण वह टीम इंडिया (Team India) के सबसे उपयोगी क्रिकेटर बनते जा रहे हैं। शनिवार 18 अप्रैल को वह अपना 29वां जन्मदिन मना रहे हैं। इनके नाम बतौर सलामी बल्लेबाज क्रिकेट के टेस्ट और वनडे दोनों की पहली पारी में शतक लगाने का अद्भुत रिकॉर्ड है। ऐसा विश्व का कोई क्रिकेटर नहीं कर सका है। आइए जानते हैं उनकी जिंदगी और करियर की कुछ रोचक बातें।

किसी भी क्रम पर बल्लेबाजी के साथ विकेटकीपिंग भी

केएल राहुल की खास बात है कि वह टीम इंडिया में आए तो बतौर सलामी बल्लेबाज, लेकिन धीरे-धीरे अपनी पहचान ऐसे बल्लेबाज के रूप में बनाई, जो किसी भी क्रम पर बल्लेबाजी करने में सक्षम है। इसके साथ जब उन्हें सीमित ओवरों के क्रिकेट में विकेटकीपिंग का मौका तो उसमें भी खुद को साबित किया। इस कारण उन्हें सीमित ओवरों के क्रिकेट का काफी उपयोगी खिलाड़ी माना जाने लगा है। वह टीम को अतिरिक्त बल्लेबाज या गेंदबाज खेलाने का विकल्प प्रदान करते हैं। इसके अलावा उन्हें तकनीकी रूप से भी काफी दक्ष बल्लेबाज माना जाता है। इसलिए टेस्ट क्रिकेट के लिए भी वह उपयुक्त हैं।

2021 में टीम इंडिया रहेगी बहुत बिजी, टेस्ट चैम्पियनशिप फाइनल समेत 15 टेस्ट खेलेगी

गलती से नाम पड़ा राहुल

केएल राहुल का पूरा नाम कन्नौर लोकेश राहुल है। उनका जन्म 18 अप्रैल 1992 में हुआ था। इनके पिता डॉक्टर केएन लोकेश इंजीनियर और मां राजेश्वरी प्रोफेसर हैं। राहुल के पिता सुनील गावस्कर के प्रशंसक थे। इसलिए उन्होंने अपने बेटे का नाम गावस्कर के बेटे रोहन के नाम पर रखने की सोची थी। जब लोकेश का नामकरण हो रहा था तो वह गावस्कर के बेटे का नाम भूल गए। उन्हें लगा कि गावस्कर का बेटे का नाम लोकेश है और उन्होंने बेटे का यही नाम रख दिया।

तीनों फॉर्मेट में छक्के से शतक पूरा करने वाले इकलौते बल्लेबाज

राहुल के पिता अपने बेटे को इंजीनियर बनाना चाहते थे। वह पढ़ाई में अच्छे थे। लेकिन उनका रुझान क्रिकेट की तरफ था। 11 साल की उम्र में उन्होंने क्रिकेट को गंभीरता से लेना शुरू कर दिया। 18 साल की उम्र में वह 2010 में कर्नाटक की रणजी टीम में आ गए और आज वह टीम इंडिया के स्थायी सदस्य बन गए हैं। उनके नाम कई रिकॉर्ड भी हैं। इनमें से एक अद्भुत रिकॉर्ड और उनके नाम है कि वह क्रिकेट के तीनों फॉर्मेट में सिक्स लगाकर शतक पूरा करने वाले वह विश्व के इकलौते बल्लेबाज हैं। इसके अलावा टी-20 अंतररराष्ट्रीय क्रिकेट में चौथे या इससे निचले क्रम पर आकर शतक लगाने वाले इकलौते बल्लेबाज हैं।

अश्विन को हटाकर किंग्स इलेवन के बनाए गए हैं कप्तान

केएल राहुल पिछले कुछ सीजन से आईपीएल में किंग्स इलेवन पंजाब की ओर से खेलते हैं। इस साल उन्हें फ्रेंचाइजी ने आर अश्विन को हटाकर अपना कप्तान बनाया है। इसके अलावा वह रॉयल चैलेंजर्स बेंगलूरु और सनराइजर्स हैदराबाद की ओर से भी खेल चुके हैं।

स्विंग और तेजी है मोहम्मद शमी का मुख्य हथियार, बोले- कोहली ने दी आजादी

लोकेश के आदर्श हैं द्रविड़

केएल राहुल पूर्व भारतीय क्रिकेटर राहुल द्रविड़ को अपना आदर्श मानते हैं। इन दोनों की खास बात यह है कि इन दोनों की तकनीक जबरदस्त है और दोनों उपयोगी विकेटकीपर भी हैं। राहुल द्रविड़ ने विकेटकीपिंग की जिम्मेदारी गांगुली की टीम के लिए संभाली थी तो वहीं राहुल यही काम कर कोहली की टीम को मजबूती दे रहे हैं। वह जब अंडर-13 में खेलते थे, तब उन्हें राहुल द्रविड़ से टिप्स मिली थी। इसी ने उनका करियर और जिंदगी बदल दिया। बता दें कि राहुल अब तक अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 11 शतक लगा चुके हैं। इनमें पांच टेस्ट, पांच वनडे और एक टी-20 अंतरराष्ट्रीय में शतक लगाए हैं। उन्होंने अब तक 36 टेस्ट, 32 वनडे और 42 टी-20 मैच खेले हैं।

हार्दिक पांड्या ने दी बधाई

बता दें कि केएल राहुल को जन्मदिन की बधाई टीम इंडिया के स्टार हरफनमौला हार्दिक पांड्या ने भी दी है। बता दें कि कॉफी विद करण के एक शो में गए थे। इसमें हार्दिक पांड्या ने महिलाओं को लेकर विवादित टिप्पणी कर दी थी। इस कारण इन दोनों को कुछ समय तक क्रिकेट से निलंबन भी झेलना पड़ा था।

Show More
Mazkoor Content
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned