जानिए कैसे आज 'संपूर्ण' कप्तान बनेंगे विराट कोहली

राष्ट्रीय चयनकर्ता शुक्रवार को इंग्लैंड के खिलाफ तीन वनडे तथा तीन मैचों की टी-20 सीरीज के लिए टीम इंडिया का चयन करेंगे।

मुंबई। भले ही महेन्द्र सिंह धौनी के अचाकन वनडे और टी-20 टीमों की कप्तानी छोडऩे के हैरानी भरे फैसले के बाद यह बिल्कुल तय हो कि टेस्ट कप्तान विराट कोहली खेल के तीनों फॉर्मेट में टीम इंडिया की कप्तानी संभालेंगे। लेकिन इस पर ऑफिशियल मुहर शुक्रवार को लगेगी, जब राष्ट्रीय चयनकर्ता शुक्रवार को इंग्लैंड के खिलाफ तीन वनडे तथा तीन मैचों की टी-20 सीरीज के लिए टीम इंडिया का चयन करेंगे।



टी-20 में पहली बार बनेंगे कप्तान
विराट हालांकि 17 वनडे मैचों में भारत की कप्तानी कर चुके हैं, लेकिन यह कप्तानी उन्होंने धौनी के विश्राम करने या चोटिल होने की स्थिति में की थी। वह पहली बार टी-20 मैचों में टीम इंडिया की कप्तानी संभालेंगे। टी-20 में धौनी के अलावा विरेंदर सहवाग ने एक मैच में, सुरेश रैना ने तीन मैचों में और अजिंक्या रहाणे ने दो मैचों में टी-20 टीम की कप्तानी की है।

Photo published for South Africa v India, 13th Match, Pool B Cricket Photos

टीम चयन में होगी माथापच्ची

चयनकर्ताओं को विराट को कप्तान बनाने के बारे में ज्यादा सोचना नहीं होगा, लेकिन उन्हें खिलाडिय़ों की चोटों के कारण टीम चयन में जरूर माथापच्ची करनी पड़ेगी। मुंबई के दो बल्लेबाज रोहित शर्मा और अजिंक्या रहाणे चोट की वजह से बाहर हो चुके हैं, ऐसे में खराब फॉर्म में चल रहे शिखर धवन को लोकेश राहुल के साथ ओपनिंग का मौका दिया जा सकता है। चयनकर्ता किसी नए खिलाड़ी को भी मौका दे सकते हैं। बाएं हाथ के बल्लेबाज धवन ने अपना आखिरी वनडे मैच ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पिछले वर्ष जनवरी में खेला था। पहले दो मैचों में फ्लॉप रहने के बाद धवन ने शानदार प्रदर्शन करते हुए शेष तीन मैचों में एक शतक तथा दो अर्धशतक जमाए थे।

करुण को मिल सकता है स्थान
इंग्लैंड के खिलाफ चेन्नई टेस्ट में रिकॉर्ड तिहरा शतक •ामाने वाले करुण नायर को रहाणे के स्थान पर टीम में शामिल किया जा सकता है। मनीष पांडे और केदार जाधव को भी टीम में जगह मिलना तय नजर आ रहा है।





ऑफ स्पिनर चुनने की चुनौती
भारत के सामने ऑफ स्पिनर के रूप में खिलाड़ी का चयन करने की दुविधा रहेगी। रविचंद्रन अश्विन और जयंत यादव दोनों चोटिल हैं, अब देखना होगा कि क्या इनमें से किसी को बिना मैच फिटनेस साबित किए खेलने का मौका मिलेगा। ऑलराउंडर रवींद्र जडेजा की टीम में वापसी की उम्मीद है। जडेजा को न्यूजीलैंड के खिलाफ सीमित ओवरों के मैचों में आराम दिया गया था। लेग स्पिनर अमित मिश्रा दूसरे स्पिनर की भूमिका अदा कर सकते हैं।



पांड्या की वापसी पर रहेंगी निगाहें
तेज गेंदबाजी विभाग में भारतीय टीम इशांत शर्मा के साथ जसप्रीत बुमराह और उमेश यादव को मौका दे सकती हैं क्योंकि मोहम्मद शमी और धवल कुलकर्णी चोटिल हैं। हार्दिक पांड्या भी इंग्लैंड के खिलाफ चोटिल हुए थे, लेकिन डीवाई पाटिल टूर्नामेंट में खेलकर उन्होंने अपना दावा पेश किया है।





रैना पर भी रहेंगी निगाहें
यह भी देखना दिलचस्प होगा कि चयनकर्ता बाएं हाथ के बल्लेबाज और ट््वंटी-20 के महारथी सुरेश रैना पर भरोसा जताते हैं या नहीं। रैना ने अपना आखिरी वनडे अक्टूबर 2015 में और आखिरी ट््वंटी-20 मार्च 2016 में खेला था। उन्हें न्यूजीलैंड के खिलाफ टीम में जगह मिली थी, लेकिन बुखार के कारण वह कोई मैच नहीं खेल पाए थे। इंग्लैंड की टीम लंबे ब्रेक के बाद रविवार को भारत को लौट रही है। दोनों देशों के बीच पहला वनडे 15 जनवरी को खेला जाएगा। भारत ने टेस्ट सीरीज में इंग्लैंड का 4-0 से सफाया किया था।
Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned