बढ़ी मुसीबतें: मो. शमी को कोलकाता पुलिस ने रोका, 18 अप्रैल को होगी पूछताछ

PRABHANSHU RANJAN

Publish: Apr, 17 2018 05:08:42 PM (IST)

Cricket
बढ़ी मुसीबतें: मो. शमी को कोलकाता पुलिस ने रोका, 18 अप्रैल को होगी पूछताछ

पत्नी हसीन जहां की शिकायत पर कोलकाता पुलिस ने क्रिकेटर मो. शमी को बुधवार को पूछताछ के लिए समन जारी किया है।

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट टीम के तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी की मुश्किलें थमती नजर नहीं आ रही है। पत्नी हसीन जहां की ओर से लगाए गए आरोपों के चलते उन्हें अब पुलिसिया कारवाई का सामना करना पड़ रहा है। अभी इंडियन प्रीमियर लीग खेल रहे मो. शमी सोमवार को कोलकाता में थें। जहां कोलकाता पुलिस ने उन्हें बुधवार तक के लिए रोक लिया है। पुलिस मुख्यालय ने उन्हें तलब करते हुए बुधवार (18 अप्रैल) को दोपहर दो बजे पूछताछ के लिए लाल बाजार आने का कहा है। कोलकाता पुलिस ने (आज) मंगलवार की सुबह मो. शमी के मैनेजर को यह नोटिस सौंपा।

क्या कहा पुलिस आयुक्त ने -
मामले पर संयुक्त पुलिस आयुक्त (अपराध) प्रवीण त्रिपाठी ने बताया कि बुधवार को दोपहर 2 बजे शमी के अलावा उसके बड़े भाई मोहम्मद हसीम अहमद को भी लालबाजार में आने को कहा गया है। बता दें कि इन दोनों के खिलाफ हसीनजहां ने भी आरोप लगाया था। शमी के बड़े भाई हसीम के नाम उत्तर प्रदेश के अमरोहा स्थित उनके आवास पर भेजे गए इस नोटिस में उन्हें पूछताछ के लिए 18 अप्रैल को लालबाजार बुलाया गया है।

 

अवैध संबंध रखने का था आरोप-
भारतीय क्रिकेटर मोहम्मद शमी के खिलाफ उनकी पत्नी हसीनजहां ने मैच फिक्सिंग, घरेलू हिंसा सहित अवैध संबंध रखने का आरोप लगाया था। जिसके बाद उन्हें बीसीसीआई ने अपने सलाना करार से बाहर का कर दिया था। हालांकि बाद में बोर्ड की जांच में मैच फिक्सिंग के आरोप गलत साबित होने के बाद उन्हें सलाना अनुबंध में फिर से जोड़ा गया था। साथ ही दिल्ली डेयर डेविल्स ने भी उन्हें अपनी टीम की ओर से खेलने को हरी झंडी दे दी थी।

शमी के परिजनों पर है इन दफाओं के आरोप-
लालबाजार स्थित वूमेन्स ग्रिवांस सेल के सूत्रों मुताबिक हसीनजहां ने शमी के अलावा उनके बड़े भाई मोहम्मद हशीम अहमद, उनकी पत्नी समां परवीन, बहन सबीना अंजुम और मां अंजुमन आरा बेगम के खिलाफ मानसिक व शारीरिक उत्पीडऩ का केस दर्ज कराया है। इन सब के खिलाफ भारतीय दण्ड विधि की धारा 498ए, 323, 307, 376, 506 और 328 के तहत प्राथमिकी दर्ज है। पहली शिकायत के बाद हाल ही में हसीन ने एक और मुकदमा दायर करते हुए शमी से प्रति महीने 10 लाख रुपये गुजारा भत्ता देने की मांग की थी।

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

1
Ad Block is Banned