राशिद-मुजीब को ट्रेनिंग देने वाला ये भारतीय अब जिम्बाब्वे क्रिकेट का सुधारेगा भविष्य

राशिद-मुजीब को ट्रेनिंग देने वाला ये भारतीय अब जिम्बाब्वे क्रिकेट का सुधारेगा भविष्य

PRABHANSHU RANJAN | Publish: May, 17 2018 10:39:08 PM (IST) क्रिकेट

मुंबई इंडियंस और अफगानिस्तान क्रिकेट टीम को कोचिंग देने वाले पूर्व भारतीय क्रिकेटर लालचंद राजपूत को जिम्बाब्वे टीम का कोच नियु्क्त किया गया है।

नई दिल्ली। आईपीएल-11 में सबसे ज्यादा विकेट चटकाने की लिस्ट में भले ही आस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाज एंड्रयू टाई सबसे ऊपर हो। लेकिन किफायदी गेंदबाजी के दम पर टीम को जीत दिलाने की बात हो तो दो अफगानिस्तानी गेंदबाजों ने बेहतरीन गेंदबाजी की है। अफगान से आईपीएल खेल रहे राशिद खान और मुजीब उर रहमान की गेंदबाजी तो आप अपने टीवी पर देख ही रहे होंगे, लेकिन आपको बता दें कि इनके इस बेहतरीन प्रदर्शन के पीछे एक भारतीय का हाथ है। ये भारतीय और कोई नहीं अफगानिस्तान क्रिकेट टीम के कोच लालचंद राजपूत हैं, जिनकी ट्रेनिंग में अफगानिस्तान की क्रिकेट टीम यहां तक पहुंची है। लेकिन अब लालचंद राजपूत इस टीम का साथ छोड़ने वाले है। जी हां, अब वे जिम्बाब्वे क्रिकेट टीम का भविष्य सुधारने की भूमिका में आ गए है। उन्हें जिम्बाब्वे क्रिकेट टीम का अंतरिम कोच नियुक्त किया गया है।

संभालेंगे हीथ स्ट्रीक की विरासत-
जिम्बाब्वे क्रिकेट (जेडसी) ने गुरुवार को भारत के पूर्व सलामी बल्लेबाज लालचंद राजपूत को अपना अंतरिम मुख्य कोच बनाया है। बोर्ड ने मार्च में हीथ स्ट्रीक को टीम के मुख्य कोच पद से हटा दिया था। साथ ही पूरे सहयोगी स्टाफ को भी बर्खास्त कर दिया था।

इन भूमिकाओं को निभा चुके है राजपूत-
जेडसी ने एक बयान में कहा, "राजपूत पाकिस्तान और आस्ट्रेलिया के साथ होने वाली त्रिकोणीय टी-20 सीरीज से पहले तत्काल प्रभाव से काम संभालेंगे। राजपूत 2007 में टी-20 विश्व कप जीतने वाली भारतीय टीम के कोचिंग स्टाफ में शामिल थे। वह अफगानिस्तान के कोच भी रह चुके हैं और इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में मुंबई इंडियंस के कोच का भार भी संभाल चुके हैं। वह भारत की राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी (एनसीए) के कोच रह चुके हैं।

लालचंद के सामने ये होगी चुनौती -
राजपूत की पहली चुनौती हरारे में जुलाई में शुरू हो रही त्रिकोणीय टी-20 सीरीज है। जिम्बाब्वे की क्रिकेट टीम कई सालों से खराब क्रिकेट खेल रही है। टीम के खराब प्रदर्शन को देखते हाल ही में बोर्ड ने पूरी कोचिंग स्टाफ को बदल दिया था। अब देखना होगा कि लालचंद राजपूत जिम्बाब्वे क्रिकेट टीम के भविष्य को किस हद तक सुधार सकते है।

 

Ad Block is Banned