टी20 विश्व कप के आयोजन पर मिस्बाह का बड़ा बयान, कोई भी फैसला जल्दबाजी में ना लिया जाए

- मिस्बाह उल हक ( Misbah Ul haq ) ने कहा है कि टी20 विश्व कप ( T20 world cup ) को लेकर कोई फैसला जल्दबाजी में ना लिया जाए

- टी20 वर्ल्ड कप का आयोजन 19 अक्टूबर से 15 नवंबर के बीच होना है

By: Kapil Tiwari

Updated: 25 May 2020, 05:34 PM IST

लाहौर। कोरोना वायरस ( coronavirus ) की वजह से दुनियाभर में क्रिकेट के आयोजन पूरी तरह से बंद हैं। दुनिया की सबसे बड़ी लीग आईपीएल ( IPL ) का आयोजन भी कोरोना की वजह से अभी तक टलता ही आ रहा है। ऐसे में इसी साल ऑस्ट्रेलिया ( Australia ) में होने वाले टी20 वर्ल्ड कप ( T20 World cup ) पर भी खतरा बराबर मंडरा रहा है। हालांकि अभी इसके आयोजन को लेकर आईसीसी ( ICC ) की तरफ से कोई फैसला नहीं लिया गया है। ऐसे में पाकिस्तान के पूर्व कप्तान और मौजूदा कोच मिस्बाह उल हक ( Misbah ul haq ) ने बड़ा बयान दिया है।

वर्ल्ड कप पर सोचने के लिए लिया जाए एक महीने से अधिक समय

मिस्बाह ने कहा कि हर कोई T-20 विश्व कप देखना चाहता है, ऐसे में जरूरी है कि इसपर फैसला सोच-विचार के ही लिया जाना चाहिए। एक यूट्यूब चैनल पर पाकिस्तानी क्रिकेट कोच ने कहा,'16 टीमों के लिए व्यवस्था करना आसान बात नहीं है। अधिकारियों को इसके लिए समय देना चाहिए। इसपर फैसला लेने से पहले एक या उससे ज्यादा महीने का इंतजार करना चाहिए।' आपको बता दें कि टी20 विश्व कप का आयोजन इस साल 19 अक्टूबर से 15 नवंबर के बीच होना है।

इस साल आईपीएल का होना भी बहुत मुश्किल!

मिस्बाह ने आगे कहा, 'हर कोई T-20 विश्व कप देखना चाहता है। एक बार अंतरराष्ट्रीय स्तर पर जब क्रिकेट शुरू हो जाएगा, तो यह खेल सामने रखने का सर्वश्रेष्ठ साधन होगा।' आपको बता दें कि कोविड-19 के कारण पहले ही IPL को अनिश्चितकाल के लिए स्थगित किया जा चुका है। अब BCCI इसे अक्टूबर-नवंबर के बीच आयोजित करना चाहती है, लेकिन यह तभी मुमकिन है, जब विश्व कप स्थगित हो।

'लोगों को नहीं मिल रहा मनोरंजन'

मिस्बाह यह भी मानते हैं कि पूरी दुनिया में इस वक्त कोरोना के चलते तनाव का माहौल है। लोग कहीं से मनोरंजन नहीं पा रहे हैं। ऐसे में लोग आगे बढ़ना चाहते हैं, इसके लिए कोशिश करनी चाहिए।

नए नियम लागू करना नहीं आसान

मिस्बाह ने खेल दोबारा शुरू होने पर संभावित बदलावों पर भी बात की। उन्होंने कहा कि, ' गेंद चमकाने के लिए सलाइवा या पसीने के इस्तेमाल पर रोक लगाने का नियम आसानी से लागू नहीं हो सकेगा।' उन्होंने कहा कि पाकिस्तान में तीन हफ्ते का कैंप और इंग्लैंड में खिलाड़ियों को क्वारंटाइन करना उन्हें तैयार कर देगा।

coronavirus
Kapil Tiwari
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned