एमएसके प्रसाद ने किया खुलासा- टीम मैनेजमेंट की मांग पर मयंक और पंत को विश्व कप टीम से जोड़ा था

एमएसके प्रसाद ने किया खुलासा- टीम मैनेजमेंट की मांग पर मयंक और पंत को विश्व कप टीम से जोड़ा था

Mazkoor Alam | Updated: 21 Jul 2019, 08:12:18 PM (IST) क्रिकेट

MSK Prasad ने बताया कि टीम मैनेजमेंट ने लिखित में सलामी बल्लेबाज की मांग की थी, इसलिए मयंक अग्रवाल को भेजा गया था

मुंबई : आईसीसी क्रिकेट विश्व कप 2019 ( ICC cricket world cup 2019 ) में मध्यक्रम के बल्लेबाज और तेज गेंदबाज आउराउंडर विजय शंकर के चोटिल होने पर भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ( BCCI ) चयन समिति ने उनकी जगह सलामी बल्लेबाज मयंक अग्रवाल को विश्व कप की भारतीय क्रिकेट टीम ( Indian cricket team ) में शामिल होने के लिए भेजा गया था। चयनकर्ताओं के इस फैसले की काफी आलोचना हुई थी। वेस्टइंडीज दौरे के लिएटीम इंडिया का चयन करने के बाद मुख्य चयनकर्ता एमएसके प्रसाद ने इसका भी खुलासा किया। उन्होंने कहा कि ऐसा टीम प्रबंधन की मांग पर किया गया था।

वेस्टइंडीज दौरे के लिए टीम इंडिया का ऐलान, शिखर धवन को नहीं मिली टेस्ट टीम में जगह

ऋषभ पंत को भी टीम प्रबंधन की मांग पर भेजा गया था

एमएसके प्रसाद ने बताया कि इंग्लैंड एंड वेल्स में हुए विश्व कप के दौरान जब ऑलराउंडर विजय शंकर के चोटिल होकर विश्व कप से बाहर हुए तो उससे पहले सलामी बल्लेबाज शिखर धवन भी चोटिल होकर टीम से बाहर हो चुके थे। उस समय टीम मैनेजमेंट ने शिखर की जगह बाएं हाथ के बल्लेबाज की मांग की थी। उन्होंने कहा था कि शिखर के बाहर होने के बाद टीम में कोई बाएं हाथ का बल्लेबाज नहीं है। तब हमारे पास ऋषभ पंत के अलावा बाएं हाथ के बल्लेबाज का कोई और विकल्प नहीं था। इसलिए उन्हें भेजा गया। मयंक अग्रवाल को विश्व कप टीम में चुने जाने पर उन्होंने कहा कि जब शंकर चोटिल हुए उसके तुरत बाद एक मैच के दौरान केएल राहुल भी बाउंड्री के पास गिर गए थे। हमारे सामने मेडिकल इमर्जेसी आई कि राहुल का खेलना संशय में है। उस समय टीम मैनेजमेंट ने लिखित में हमसे सलामी बल्लेबाज की मांग की और हम मयंक की तरफ गए।

वेस्टइंडीज दौरे से बाहर हुए हार्दिक पांड्या, पीठ दर्द की वजह से मिला आराम

एमएसके प्रसाद ने कहा वह सीरीज के बीच में नहीं करते बात

मुख्य चयनकर्ता ने कहा कि वह किसी सीरीज के बीच में संवाददाता सम्मेलन में भाग नहीं लेते। इस वजह से इस तरह की कई अफवाहों ने जन्म लिया। विजय शंकर की जगह कई लोगों ने मयंक अग्रवाल के चयन पर कई लोगों ने हैरानी जताई थी। आखिर एक मध्यक्रम के बल्लेबाज के रिप्लेसमेंट में सलामी बल्लेबाज को क्यों भेजा गया।
बता दें कि उस समय लोगों को लगा था कि चयनकर्ता मयंक अग्रवाल को भविष्य में भारत की वनडे टीम के हिस्से के रूप में देख रहा है। इस वजह से उन्हें विश्व कप टीम में शामिल होने के लिए भेजा गया है। लेकिन जब विंडीज दौरे के लिए चुनी गई वनडे टीम में इस सलामी बल्लेबाज का चयन नहीं हुआ तो एक बार फिर लोग इस पर बात कर रहे हैं कि आखिर जिस खिलाड़ी को भारतीय वनडे टीम के लायक भी नहीं समझा गया, आखिर क्यों उसे विश्व कप जैसे अहम टूर्नामेंट में टीम से जुड़ने के लिए भेजा गया था। यह विवाद इसलिए भी हो रहा है कि मयंक अग्रवाल को भेजते वक्त अंबाती रायडू जैसे दिग्गज खिलाड़ी की अनदेखी की गई थी।
बता दें कि वेस्टइंडीज दौर पर भारत को भारत को दो टेस्ट, तीन वनडे और तीन टी-20 मैच खेलने हैं।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned