बिना गेंद फेंके घोषित की टेस्ट की पारी, अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर सिर्फ एक बार हुआ है ऐसा

बिना गेंद फेंके घोषित की टेस्ट की पारी, अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर सिर्फ एक बार हुआ है ऐसा

Prabhanshu Ranjan | Publish: Oct, 13 2018 03:18:24 PM (IST) | Updated: Oct, 13 2018 03:19:57 PM (IST) क्रिकेट

कभी सोचा है टेस्ट मैच में एक भी गेंद ना फेंकी गई हो और कप्तान ने पारी घोषित कर दी हो ? न्यूजीलैंड के घरेलू क्रिकेट टूर्नामेंट प्लांकट शील्ड में अलग चीज देखने को मिली। यहां एक मैच की दो पारियां बिना कोई विकेट के बिना कोई रन के घोषित कर दी गईं।

नई दिल्ली। कभी सोचा है टेस्ट मैच में एक भी गेंद ना फेंकी गई हो और कप्तान ने पारी घोषित कर दी हो ? न्यूजीलैंड के घरेलू क्रिकेट टूर्नामेंट प्लांकट शील्ड में अलग चीज देखने को मिली। यहां एक मैच की दो पारियां बिना कोई विकेट के बिना कोई रन के घोषित कर दी गईं। यह सब हुआ सेंट्रल डिस्ट्रिक और कैंटबरी के बीच हुए बारिश से बाधित मैच में जिसमें आखिरकार सेंट्रल डिस्ट्रिक ने 145 रन से जीत हासिल की।

विलियम लुडिक ने जड़ा प्रथम श्रेणी में पहला शतक
वेबसाइट ईएसीपएनक्रिकइंफो की रिपोर्ट के मुताबिक, बारिश के कारण पूरे दो दिन का खेल धुल गया और मैच के अंतिम दिन सेट्रंल डिस्ट्रिक ने सात विकेट के नुकसान पर 301 रनों से शुरुआत की। टीम ने अपने खाते में 51 रन और जोड़े जिसमें विलियम लुडिक ने प्रथम श्रेणी क्रिकेट में अपना पहला शतक जड़ा। दिन के सातवें ओवर में टीम ने सात विकेट के नुकसान पर 352 रनों पर अपनी पारी घोषित कर दी। इसके बाद कैंटरबरी ने अपनी पहली पारी बिना खेल घोषित कर दी और सेंट्रल डिस्ट्रिक ने भी अपनी दूसरी पारी में भी यही किया। कैंटरबरी अपनी दूसरी पारी खेलने उतरी और 207 रनों पर ही ढेर हो कर मैच हार गई।

प्रथम श्रेणी में बस दूसरी बार हुआ ऐसा
इससे पहले प्रथम श्रेणी क्रिकेट में ऐसे दो ही उदाहरण देखने को मिले हैं। इन दोनों में इंग्लिश काउंटी हैम्पशायर शामिल थी। हेम्पशायर ने 2013 काउंटी चैम्पियनशिप में ग्लोसेस्टशायर और लीसेस्टशायर के खिलाफ ऐसा किया था।अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर सिर्फ एक बार 2000 में दक्षिण अफ्रीका और इंग्लैंड के बीच ऐसा हुआ है।

Ad Block is Banned