टेस्ट चैम्पियन न्यूजीलैंड टीम का स्वदेश लौटने पर नहीं होगा भव्य स्वागत, ये है बड़ी वजह

इस सप्ताह विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में भारत को आठ विकेट से हराने वाली कीवी टीम सिंगापुर के रास्ते स्वदेश पहुंचने पर सीधे 14 दिनों के लिए क्वारंटाइन हो जाएगी।

By: Mahendra Yadav

Published: 26 Jun 2021, 08:58 AM IST

सामान्य परिस्थितियों में जब कोई टीम विश्व चैंपियन बनकर स्वदेश लौटती है तो उसका स्वागत परेड और सार्वजनिक अभिनंदन के साथ होता है, लेकिन पहली बार टेस्ट चैंपियन बनी न्यूजीलैंड की टीम के साथ ऐसा नहीं होगा। कोविड-19 महामारी के कारण मौजूदा परिस्थितियों में टेस्ट चैम्पियनशिप जीतकर लौटी न्यूजीलैंड टीम के लिए कोई विजय जुलूस आयोजित नहीं होगा। इस सप्ताह विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में भारत को आठ विकेट से हराने वाली कीवी टीम सिंगापुर के रास्ते स्वदेश पहुंचने पर सीधे 14 दिनों के लिए क्वारंटाइन हो जाएगी।

टीम के 4 खिलाड़ी इंग्लैंड में ही रहेंगे
इसके अलावा, प्लेइंग इलेवन के चार सदस्य - कप्तान केन विलियमसन, तेज गेंदबाज काइल जैमीसन, सलामी बल्लेबाज डेवोन कॉनवे और ऑलराउंडर कॉलिन डी ग्रैंडहोमे टी-20 ब्लास्ट खेलने के लिए इंग्लैंड में रहेंगे। टीम के बाकी 11 सदस्य और सहयोगी स्टाफ के आठ सदस्य शनिवार सुबह न्यूजीलैंड पहुंचेंगे। न्यूजीलैंड क्रिकेट के मुख्य कार्यकारी अधिकारी क्रिस व्हाइट ने मीडिया में कहा,'हमने अभी तक इसे अंतिम रूप नहीं दिया है, लेकिन हम निश्चित रूप से उन्हें मनाने के लिए किसी न किसी रूप में उन्हें एक साथ लाना चाहेंगे। मुझे नहीं लगता कि कोई परेड होगी।

यह भी पढ़ें— ग्रीम स्वान बोले-'कोहली को कप्तानी से हटाना क्रिकेट के प्रति अपराध होगा'

परिवार से मिलने के लिए करना होगा इंतजार
व्हाइट ने कहा, मौजूदा माहौल चुनौतीपूर्ण है, लेकिन अगर हम अपने व्यावसायिक भागीदारों और अपने व्यापक क्रिकेट परिवार के साथ जश्न मना सकें तो सभी को एक साथ लाना बहुत अच्छा होगा। विलियमसन के दूर होने के बाद से यह जल्द ही नहीं हो सकता है या वस्तुत: ऐसा नहीं हो सकता है। विलियमसन की अनुपस्थिति में, वरिष्ठ गेंदबाज टिम साउदी ने डब्ल्यूटीसी गदा को उस फ्लाइट में ढोया जो विलियमसन की सीट पर रखी गई थी। व्हाइट ने कहा,'एक बड़ी उपलब्धि, हमारे महान दिनों में से एक। मुझे टीम और पूरे संगठन पर बहुत गर्व है। टीम को शनिवार सुबह 9.30 बजे से ठीक पहले ऑकलैंड में उतरना है और परिवारों के साथ पुनर्मिलन से पहले प्रबंधित क्वारंटीन में प्रवेश करना है।'

Mahendra Yadav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned