नई दिल्ली। मौजूदा दौर में भारतीय टीम भले ही दुनिया की सबसे मजबूत टीमों में से एक मानी जाती हो। लेकिन आज से 17 साल पहले भारतीय क्रिकेट का हाल बुरा था। भारतीय क्रिकेट के कई बड़े सितारों पर स्पॉट फिक्सिंग का आरोप लगा था। सचिन तेंदुलकर पर कप्तानी का भार आते ही बल्लेबाजी फ्लॉप हो गई थी। बंगाली दादा सौरभ गांगुली कप्तान के तौर पर अपना पहचान बना ही रहे थे। तब के समय की विश्व विजेता टीम आस्ट्रेलिया भारत के दौरे पर आई थी। लगातार 15 टेस्ट जीत चुकी कंगारु टीम जब इस दौरे पर आई, तो वो जीत की हॉट फेवरेट थी। स्टीव वॉ की कप्तानी में कंगारु टीम सीरीज के पहले मैच में भारत को 10 विकेट से हरा कर लय हासिल कर चुकी थी। लेकिन कोलकाता टेस्ट में वो हुआ, उसने भारतीय क्रिकेट को सातवें आसमान पर पहुंचा दिया। मैच की तस्वीर और पूरी स्टोरी पढ़े अगली स्लाईडों में ...

 

 

Ad Block is Banned