श्रीलंका के खिलाफ खुद नहीं खेलना चाहते थे पांड्या, जानें क्यों

Kuldeep Panwar

Publish: Nov, 14 2017 12:44:15 (IST) | Updated: Nov, 14 2017 12:52:38 (IST)

Cricket
श्रीलंका के खिलाफ खुद नहीं खेलना चाहते थे पांड्या, जानें क्यों

इस समय का सदुपयोग फिटनेस को सुधारने में करेंगे ताकि दक्षिण अफ्रीका दौरे पर अपनी क्षमता का सही इस्तेमाल कर सकें।

नई दिल्ली। भारत और श्रीलंका के बीच होने वाली 3 मैचों की टेस्ट सीरीज में भारतीय आलराउंडर हार्दिक पांड्या को टीम में शामिल नहीं किया गया है। हार्दिक के टीम में नहीं चुने जाने पर खेल विशेषज्ञों का मानना था की पांड्या चोट की वजह से बहार है। बता दे न्यूज़ीलैंड के साथ खेले गए आखिरी टी20 में पांड्या के हाथ में गेंदबाजी करते वक़्त चोट लग गयी थी।

हार्दिक पांड्या ने सोमवार को ये कहते हुए साफ़ कर दिया है कि उन्होंने खुद ही श्रीलंका के खिलाफ होने वाली तीन टेस्ट मैचों की सीरीज में शरीर को थोड़ी दिक्कतों के कारण आराम मांगा था। पांड्या ने कहा कि वह इस समय का सदुपयोग फिटनेस को सुधारने में करेंगे ताकि दक्षिण अफ्रीका दौरे पर अपनी क्षमता का सही इस्तेमाल कर सकें।

दक्षिण अफ्रीका सीरीज के लिए काफी उत्साहित हैं
भारत, दक्षिण अफ्रीका दौरे पर तीन टेस्ट, छह वनडे और तीन टी-20 मैचों की सीरीज खेलेगा। पांड्या ने समाचार चैनल सीएनएन-न्यूज-18 से कहा ईमानदारी से कहूं, तो मैंने आराम के लिए कहा था। मेरा शरीर सही नहीं है। लगातार क्रिकेट खेलने के कारण कुछ परेशानियां हैं। मैं क्रिकेट तब खेलना चाहता हूं जब मैं पूरी तरह फिट रहूं, अपना 100 फीसदी दे सकूं। उन्होंने कहा, मैं भाग्यशाली हूं कि मुझे आराम दिया गया। इस ब्रेक के दौरान मैं जिम में अभ्यास करूंगा और अपनी फिटनेस सुधारूंगा। मैं झूठ नहीं बोलूंगा। मैं दक्षिण अफ्रीका सीरीज के लिए काफी उत्साहित हूं। मैं इस आराम के समय का उपयोग अपनी फिटनेस को सुधारने में करूंगा।

जिंदगी में मुझे चुनौतियां पसंद हैं
पांड्या ने कहा कि वह सीरीज से पहले सकारात्मक बने रहेंगे और अच्छा प्रदर्शन करेंगे।उन्होंने कहा, "हां, मैं इसके लिए काफी उत्साहित हूं। लोग इसके बारे में बातें कर रहे हैं। यह काफी चर्चित सीरीज है। मुझे जिंदगी में चुनौतियां पसंद हैं, इससे मुझे प्ररेणा मिलती है। जैसा आपने कहा कि मेरी टीम में इस समय कमी महसूस हो रही है, लेकिन क्या पता मैं वहां अंतर पैदा कर दूं। मैं निश्चित हूं कि हम वहां अच्छा करने वाले हैं।"

पांड्या से जब करियर में टर्निंग प्वांइट के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, "मुझे जब मुंबई इंडियंस के साथ खेलने का मौका मिला वो मेरे करियर का टर्निग प्वांइट था। इसके बाद मैंने पीछे मुड़कर नहीं देखा।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned