इंग्लैंड के इस दिग्गज ने एक बार फिर साधा कुक पर निशाना, बोले समाप्त हो गया है कुक का करियर

इंग्लैंड क्रिकेट टीम के पूर्व खिलाड़ी केविन पीटरसन का कहना है कि एशेज सीरीज में आस्ट्रेलिया और इंग्लैंड दोनों ही टीमों की बल्लेबाजी खराब रही है।

By: Kuldeep

Published: 11 Dec 2017, 09:56 AM IST

नई दिल्ली। इंग्लैंड क्रिकेट टीम के पूर्व खिलाड़ी केविन पीटरसन का कहना है कि एशेज सीरीज में आस्ट्रेलिया और इंग्लैंड दोनों ही टीमों की बल्लेबाजी खराब रही है। इसके साथ ही पीटरसन ने इंग्लैंड टीम के बल्लेबाज एलस्टर कुक के करियर पर भी सवाल उठाए हैं।

ऐसा रहा तो 5-0 से हारेगा इंग्लैंड
वेबसाइट 'ईएसपीएनक्रिकइन्फो डॉट कॉम' की रिपोर्ट के अनुसार, इंग्लैंड और आस्ट्रेलिया के बीच खेले जाने वाले तीसरे टेस्ट मैच से पहले पीटरसन की यह टिप्पणी सामने आई है। उन्होंने दोनों टीमों के बीच खेले गए पिछले दो टेस्ट मैचों में इंग्लैंड के प्रदर्शन पर निराशा जाहिर की है। पीटरसन ने कहा, "पिछले दो टेस्ट मैचों में जिस प्रकार का प्रदर्शन हुआ है, उससे यह जाहिर होता है कि इंग्लैंड की टीम इस सीरीज में 5-0 से मात खा सकती है। टीम को पर्थ में खेले जाने वाले तीसरे टेस्ट मैच में अच्छी शुरुआत करनी होगी।"

जिम्मेदारी नहीं निभा पाए कुक
उन्होंने कहा, "इंग्लैंड के लिए कुक पर बहुत बड़ी जिम्मेदारी थी, जिसे वह निभा नहीं पाए। इसके अलावा, मार्क स्टोनमैन, जेम्स विंसे, डेविड मलान ने भी अच्छा प्रदर्शन नहीं किया। जोए रूट भी बड़ा स्कोर नहीं कर पाए। पीटरसन ने कहा, "मुझे ऐसा लगता है कि कुक की भी अधिक रुचि नहीं है। जिस प्रकार से वह पिच पर जाते हैं और आउट होते हैं, उनके शरीर की चाल-ढाल से पता चलता है कि एक खिलाड़ी के तौर पर अब उनका करियर समाप्त हो गया है। पीटरसन ने कहा, "मेरा मानना है कि दोनों ही टीमों की बल्लेबाजी अच्छी नहीं है। इसलिए, मुझे लगता है कि दोनों टीमों की स्थिति में ज्यादा अंतर नहीं है। ऐसे में अगर इंग्लैंड पर्थ में खेले जाने वाले मैच में अच्छा प्रदर्शन करती है, तो वह जीत जाएगी।

पीटरसन का करियर
बता दें कुक और पीटरसन के बीच मतभेद की खबरे आती रही है। अपने करियर को ले कर कई बार पीटरसन ने ट्वीट कर कुक पर निशाने भी साधे है। पीटरसन के मुताबिक उनके करियर को ख़तम करने के पीछे कुक का ही हाथ है। एक बार पीटरसन ने कहा था जब कोई भी कुक के बनाये हुए रिकॉर्ड के करीब पहुंचता है तो कुक उससे टीम से बहार करवा देते है। ऐसा ही उन्होंने मेरे और इयान बेल के साथ किया। बता दें अगर पीटरसन को टीम से निलंबित नहीं किया गया होता तो इंग्लैंड के लिए टेस्ट क्रिकेट में दस हज़ार रन बनाने वाले पहले खिलाड़ी पीटरसन होते। ये कीर्तिमान अभी एलस्टर कुक के नाम है।

Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned