न्यूजीलैंड के खिलाफ दूसरे टेस्ट से पहले पृथ्वी शॉ चोटिल, पैर में है सूजन

चोट के कारण Prithvi Shaw के पैर में सूजन है। इस कारण वह गुरुवार को अभ्यास सत्र से दूर रहे। वहीं शुभमान गिल ने जमकर अभ्यास किया।

Mazkoor Alam

27 Feb 2020, 05:00 PM IST

क्राइस्टचर्च : टीम इंडिया (Team India) को शनिवार 29 फरवरी से क्राइस्टचर्च में शुरू हो रहे दूसरे टेस्ट मैच में बड़ा झटका लग सकता है। न्यूजीलैंड के खिलाफ दूसरे टेस्ट से युवा सलामी बल्लेबाज पृथ्वी शॉ (Prithvi Shaw) बाहर हो सकते हैं। वह गुरुवार को टीम इंडिया के अभ्यास सत्र में नहीं उतरे। टीम मैनेजमेंट ने यह सावधानी पृथ्वी शॉ की तबीयत ठीक नहीं होने के कारण लिया है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, उनके पैर में चोट लगने के कारण सूजन आ गई है। अब उनके खून की जांच की जाएगी। इसके बाद ही उनके दूसरे टेस्ट में खेलने या न खेलने का फैसला लिया जाएगा।

टेस्ट रैंकिंग में भारत को बड़ा झटका, कोहली की छिनी बादशाहत, शमी-बुमराह टॉप-10 से बाहर

गिल ने खूब बहाया पसीना

पृथ्वी शॉ के न खेलने की संभावना को देखते हुए गुरुवार को टीम इंडिया के रिजर्व सलामी बल्लेबाज शुभमान गिल ने खूब पसीना बहाया। अभ्यास सत्र के दौरान टीम इंडिया के मुख्य कोच रवि शास्त्री ने उनके साथ काफी समय बिताया और वह उन्हें बल्लेबाजी टिप्स भी देते दिखें। इससे लग रहा है कि पृथ्वी की चोट गंभीर हो सकती है और अंतिम मैच में उनकी जगह गिल को एकादश में शामिल किया जा सकता है। बता दें कि बाएं हाथ के इस बल्लेबाज को अभी तक टीम इंडिया की तरफ से एक भी टेस्ट मैच खेलने को नहीं मिला है। अगर वह क्राइस्टचर्च में खेलने उतरते हैं तो यह उनका टेस्ट डेब्यू होगा।

महज 16 साल की उम्र में किया बड़ा कारनामा, काशवी गौतम ने वनडे में हैट्रिक समेत झटके 10 विकेट

टीम मैनेजमेंट को शॉ के फिट होने की उम्मीद

भारतीय टीम मैनेजमेंट को हालांकि इस बात की उम्मीद है कि मैच से पहले तक पृथ्वी शॉ अपने पैर की चोट से उबर जाएंगे। उन्हें सावधानीवश अभ्यास सत्र से बाहर रखा गया, ताकि उनकी चोट बढ़ न जाए। आज अभ्यास सत्र के दौरान टीम इंडिया के खिलाड़ी रग्बी खेलते दिखे। वैसे बता दें कि पहले टेस्ट में पृथ्वी शॉ का प्रदर्शन बेहद साधारण स्तर का रहा था। पहली पारी में टिम साउदी ने उन्हें पैवेलियन भेज दिया था तो दूसरी पारी में ट्रेंट बोल्ट चलता किया था। पृथ्वी शॉ के आउट होने के बाद क्रिकेट समीक्षकों ने उनकी तकनीक को लेकर भी सवाल उठाया था। समीक्षकों का मानना है कि शॉ का बैकलिफ्ट ज्यादा ऊंचा है। इस कारण वह तेज गेंदबाजों के सामने संघर्ष कर रहे हैं।

Show More
Mazkoor Content
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned