रणजी ट्रॉफी : इन आठ टीमें भिड़ेंगी क्‍वार्टर फाइनल में, इनके हैं अगले राउंड में पहुंचने की उम्‍मीद

रणजी ट्रॉफी : इन आठ टीमें भिड़ेंगी क्‍वार्टर फाइनल में, इनके हैं अगले राउंड में पहुंचने की उम्‍मीद

Mazkoor Alam | Publish: Jan, 14 2019 07:53:05 PM (IST) क्रिकेट

क्वार्टर फाइनल में पहुंची कुल आठ टीमें सेमीफाइनल में जाने के लिए एक-दूसरे के का सामना करेगी।

नई दिल्ली : भारत का सबसे अहम और प्रतिष्ठित घरेलू क्रिकेट टूर्नामेंट रणजी ट्रॉफी का नॉकआउट चरण मंगलवार से शुरू होने जा रहा है। क्वार्टर फाइनल में पहुंची कुल आठ टीमें सेमीफाइनल में जाने के लिए एक-दूसरे के का सामना करेगी। अगर कागजों पर बात की जाए तो जो आठ टीमें क्वार्टर फाइनल में पहुंची हैं, उनमें से खिताब की सबसे प्रबल दावेदार मौजूदा विजेता विदर्भ और कर्नाटक की टीम लग रही है।

पहली बार रणजी खेलने वाली उत्‍तराखंड का सामना मौजूदा विजेता विदर्भ से
पहले क्‍वार्टर फाइनल में विदर्भ को अपने घर नागपुर में सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद पहली बार रणजी खेल रही नई टीम उत्तराखंड का सामना करना है। उत्‍तराखंड प्लेट ग्रुप से अंतिम-8 में पहुंचने वाली इकलौती टीम है। उत्तराखंड का अपने ग्रुप में शानदार प्रदर्शन कर क्वार्टर फाइनल में जगह बनाई। उसने प्लेट ग्रुप में आठ में से छह मैचों में जीत हासिल कर कुल 44 अंक हासिल किए हैं। इस ग्रुप से बिहार की टीम ने भी छह जीत हासिल किए थे, लेकिन उसे एक मैच में उत्‍तराखंड से ही हार का सामना करना पड़ा था, जबकि उत्‍तराखंड की टीम अपराजेय रही थी। अब उसकी असली परीक्षा शुरू होगी, जब वह क्‍वार्टर फाइनल में विदर्भ का सामना करेगी। उसके सामने आने वाली यह अब तक की सबसे कड़ी चुनौती है। बता दें कि विदर्भ मौजूदा रणजी चैम्पियन है और वह लगातार दूसरी बार खिताब जीतने के लिए पूरा जोर लगा देगी। प्‍लेट ग्रुप में उत्तराखंड का जैसा प्रदर्शन रहा है, उसे देखते हुए वह उसे हल्‍के में नहीं लेगी। दूसरी तरफ उत्‍तराखंड ग्रुप मैचों वाले अपने प्रदर्शन को जारी रखने की कोशिश करेगा। अगर उसने अपने उस प्रदर्शन को दोहरा दिया तो विदर्भ को चौंकाने की काबिलियत रखती है।

उत्‍तर प्रदेश अपने घर में भिड़ेगी सौराष्‍ट्र से
दूसरे क्वार्टर फाइनल में सौराष्ट्र का सामना उत्तर प्रदेश से लखनऊ में होगा। बता दें कि उत्तर प्रदेश अभी तक सिर्फ एक बार 2005-06 में रणजी खिताब अपने नाम कर पाया है। सौराष्‍ट्र भी रणजी विजेता रह चुकी टीम है और उसके पास टीम इंडिया के नए दीवार चेतेश्‍वर पुजारा भी हैं, जो आस्‍ट्रेलिया टेस्‍ट सीरीज खत्‍म होने के बाद अपनी टीम से रणजी खेलने के लिए जुड़ गए हैं। इस समय वह शानदार फॉर्म में हैं और किसी भी टीम के लिए मुश्किल खड़ी कर सकते हैं। दूसरी तरफ उत्‍तर प्रदेश को अपने होम ग्राउंड में खेलने का फायदा होगा। उत्‍तर प्रदेश की सबसे बड़ी समस्‍या यही है कि उसके किसी प्‍लेयर ने पूरे टूर्नामेंट में स्‍थायित्‍व भरा प्रदर्शन नहीं किया है।

घर में कर्नाटक के सामने होगी राजस्‍थान
पिछली बार की सेमीफाइनलिस्‍ट कर्नाटक का क्‍वार्टर फाइनल में राजस्थान से मुकाबला है। कर्नाटक को यह मैच अपने घर बेंगलूरु में खेलनी है। आस्‍ट्रेलिया के चौथे टेस्‍ट में शानदार प्रदर्शन करने वाले ओपनर बल्‍लेबाज मयंक अग्रवाल कर्नाटक की टीम से जुड़ गए हैं। इसका फायदा कर्नाटक को मिलेगा। बीते सीजन में सेमीफाइनल कर्नाटक को विदर्भ के हाथों हार मिली थी। इस बार अगर कोई चौंकाने वाला परिणाम नहीं होता तो वह एक बार फिर सेमीफाइनल तक का सफर तय कर सकती है। हालांकि वह ग्रुप ए और बी से अंतिम-8 में पहुंचने वाली तीसरी और अंतिम टीम थी।

गुजरात और केरल के बीच है बराबरी का मुकाबला
ग्रुप-ए से ही क्वार्टर फाइनल में जगह बनाने वाली गुजरात को ग्रुप मुकाबलों में करीब-करीब अपने जैसा ही प्रदर्शन करने वाली ग्रुप बी की टीम केरल से चुनौती मिलेगी। गुजरात 2017-18 में एक बार रणजी ट्रॉफी अपने नाम कर चुका है। केरल ने ग्रुप-बी में 26 अंक हासिल कर अंतिम-8 में जगह बनाई है। गुजरात और केरल के बीच बराबरी का मुकाबला होने की उम्‍मीद है।

 

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned