scriptRavi shastri wanted draw but team india famous gabba win vs australia | रवी शास्त्री चाहते थे कि 'ड्रा हो जाए' लेकिन Team India ने जीत लिया था ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ ऐतिहासिक गाबा टेस्ट मैच | Patrika News

रवी शास्त्री चाहते थे कि 'ड्रा हो जाए' लेकिन Team India ने जीत लिया था ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ ऐतिहासिक गाबा टेस्ट मैच

भारतीय टीम ने 2020-21 में बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी में ऑस्ट्रेलिया को ऐतिहासिक गाबा टेस्ट मैच में हराकर शानदार सीरीज जीती थी। इस मैच से जुड़ी एक दिलचस्प कहानी भारतीय दिग्गज ऑफ स्पिनर रविंद्रचरन अश्विन ने बताई है

नई दिल्ली

Updated: June 05, 2022 03:52:56 pm

2020-21 में भारत के ऑस्ट्रेलिया दौरे की बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी (Border-Gavaskar Trophy) को कौन भूल सकता है, जहां चोटिल भारतीय टीम (Indian Team) ने ऑस्ट्रेलिया (Australia) को उसके गढ़ में हराकर ऐतिहासिक जीत दर्ज की थी। एडिलेड टेस्ट में 36 रनों पर ऑल आउट होने के बाद और खासकर विराट कोहली (Virat Kohli) जब वह बीच सीरीज में अपने पहले बच्चे के जन्म के चलते स्वदेश वापिस लौट आए थे तब क्रिकेट पंडितों का मानना था कि भारत का इस सीरीज में वाइटवॉश हो जाएगा। लेकिन अजिंक्य रहाणे (Ajinkya Rahane) के नेतृत्व में टीम इंडिया ने मेलबर्न और ब्रिस्बेन टेस्ट मैच में शानदार खेल दिखाया।
india_vs_australia_gabba_test.jpg
india vs australia gabba test
ये भी पढ़ें - IPL 2022 में नही मिला भाव, इंग्लैंड T20 Blast में दिखाया ताव, जड़ा तूफानी शतक

चौथे टेस्ट मैच तक सीरीज 1-1 से बराबर हो चुकी थी और सीरीज का निर्णायक पांचवा मैच ऑस्ट्रेलिया के गाबा मैदान (Gabba Stadium) में खेला जाना था। बता दें कि ऑस्ट्रेलिया गाबा में 28 साल से हारी नहीं थी, लेकिन उस मैच में ऋषभ पंत (Rishabh Pant) की शानदार पारी की बदौलत भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया को उसी के गढ़ में 2-1 से हराने में सफल रही। इस मैच में ऋषभ पंत द्वारा बनाए गए 89 रनों की बदौलत भारत ने 328 रनों का विशाल लक्ष्य चेज किया था
अब अश्विन ने सुनाई मैच की दिलचस्प कहानी -

लेकिन अब इस ऐतिहासिक टेस्ट मैच में भारत के दिग्गज ऑफ स्पिनर रविंद्रचरन अश्विन (Ravichandran Ashwin) ने स्पोर्ट्स यारी चैनल पर बात करते हुए कहा है कि कोच रवि शास्त्री (Ravi Shastri) उस मैच में चाहते थे कि यह मैच ड्रॉ हो जाए। लेकिन ऋषभ पंत और वॉशिंगटन सुंदर (Washington Sundar) के कड़े संघर्ष की बदौलत भारत ने इस मैच में ऐतिहासिक जीत दर्ज की।
उन्होंने कहा कि उसे (ऋषभ पंत) मन को समझना मुश्किल है। वह कुछ भी कर सकता है। वह उन खिलाड़ियों में से एक हैं जो अविश्वसनीय रूप से बड़े हिट लगा सकता हैं। उसके पास इतनी क्षमता है कि कभी-कभी वह सोचता है कि वह हर गेंद पर छ'क्का मार सकता है। उसे शांत रखना मुश्किल है, पुजारा ने सिडनी टेस्ट के दौरान ऐसा करने की कोशिश की, लेकिन वह वहां शतक लगाने से चूक गए। लेकिन इस खेल में क्या हुआ था, रवि भाई ने अंदर से कहा, मैं बाहर बैठा था। वह ड्रॉ चाहते थे। क्योंकि मैच ड्रा करने का मौका था, लेकिन किसे पता था कि हम जीत के लिए खेल रहे थे।
चोटिल हो गए थे अधिकांश खिलाड़ी -

बता दें कि इस ऐतिहासिक टेस्ट मैच के दौरान भारत के रविन्द्र जडेजा, विराट कोहली जैसे दिग्गज मौजूद नही थे। इस मैच में सबकी अपनी-अपनी योजना थी, मैंने अजिंक्य से जाकर पूछा कि क्या प्लान है, क्या हम जीत के लिए जा रहे हैं? उन्होंने मुझसे कहा कि 'पंत खेल रहे हैं और हम देखेंगे कि क्या होता है। इसी बीच मयंक अग्रवाल के 9 रनों पर आउट होने के बाद वाशिंगटन सुंदर ने अंदर जाकर 20 रन बनाए, तब हमारी योजना बदल गई, सुंदर के 22 रन का योगदान बेहद अहम था।
इस मैच में अश्विन पीठ में ऐंठन की वजह से गाबा टेस्ट खेलने से चूक गए थे। इससे पहले ऑफ स्पिनर अश्विन ने ने सिडनी में टेस्ट मैच को हनुमा विहारी के साथ पिच पर डटे रहे, जिससे भारत को ड्रॉ से दूर करने में मदद मिली। गौरतलब है कि बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी के दौरान, मोहम्मद शमी, रवींद्र जडेजा, उमेश यादव, अश्विन, जसप्रीत बुमराह सहित कई भारतीय खिलाड़ी चोटिल हो गए थे और अंतिम टेस्ट में, टी नटराजन और वाशिंगटन सुंदर ने क्रिकेट के सबसे लंबे प्रारूप में डेब्यू करते हुए शानदार प्रदर्शन किया और ऑस्ट्रेलिया को हराने में मदद की

ये भी पढ़ें - IPL 2022 में RCB के लिए 4 मैच में बनाए 18 रन, इंग्लैंड जाते ही दूर हुई पनौती, जड़े 39 गेंदों में 75 रन

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

Independence Day Live Updates : अपनी वीरांगनाओं पर हर भारतवासी को गर्व: PM मोदीIndependent Day पर देशभर के 1082 पुलिस जवानों को मिलेगा पदक, सबसे ज्यादा 125 जम्मू कश्मीर पुलिस कोIndependence Day 2022 : 26 जनवरी और 15 अगस्त के झंडारोहण में क्या फर्क है? जानिए झंडा फहराने के नियम'आजादी के अमृत महोत्सव' के तहत भारत-पाकिस्तान सीमावर्ती 30 गांवों के विकास के लिए शुरू हुई अनूठी पहलIndependent Day Special: 15 अगस्त भारत ही नहीं इन तीन देशों का भी स्वतंत्रता दिवस, जानिए इनकी कहानीश्रीनगर में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़, एक आतंकी को लगी गोली, जवान भी घायल38 साल बाद शहीद लांसनायक चंद्रशेखर का मिला शव, सियाचिन ग्लेशियर की बर्फ में दबकर हो गए थे शहीदराष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू का देश के नाम संबोधन, कहा - '2047 तक हम अपने स्वाधीनता सेनानियों के सपनों को पूरी तरह साकार कर लेंगे'
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.