अब Robin Uthappa ने भी विदेशी लीग में खेलने की उठाई मांग, BCCI नहीं देता इजाजत

BCCI का कहना है कि अपनी विशिष्टता हमारी पहचान है। इसलिए वह विदेशी लीगों में अपने खिलाड़ियों को खेलने की इजाजत नहीं देता है।

By: Mazkoor

Updated: 22 May 2020, 12:38 PM IST

नई दिल्ली : पिछले कुछ समय से कुछ भारतीय खिलाड़ियों का कहना है कि उन्हें विदेशी लीगों में खेलने की अनुमति मिलनी चाहिए, लेकिन भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) किसी भी खिलाड़ी को ऐसा करने की अनुमति नहीं देता है। यहां तक कि भारतीय खिलाड़ी क्रिकेट के तीनों फॉर्मेट से संन्यास लेने के बावजूद विदेशी लीग में नहीं खेल सकते। समय-समय पर यह मांग बाएं हाथ के बल्लेबाज सुरेश रैना (Suresh Raina), पूर्व हरफनमौला इरफान पठान (Irfan pathan), युवराज सिंह (Yuvraj Singh) जैसे खिलाड़ियों ने यह मांग उठाई है। इनमें से युवराज सिंह को अपवाद बताकर बीसीसीआई ने इजाजत दी थी। उनके पहले और उनके बाद भारतीय बोर्ड ने किसी को भी विदेशी लीग में खेलने की इजाजत नहीं दी है। अब भारतीय सलामी बल्लेबाज रॉबिन उथप्पा (Robin Uthappa) ने यह बीसीसीआई से यह मांग की है।

Anushka Sharma ने खुले में घूमता Dinosaur देखा, Virat Kohli चीखें, देखें Viral Video

कॉन्ट्रैक्ट से बाहर के खिलाड़ियों को मिले इजाजत

रॉबिन उथप्पा ने ए मीडिया से बात करते हुए कहा कि बीसीसीआई को ऐसे खिलाड़ियों को जो केंद्रीय सालाना अनुबंध से बाहर हैं, उन्हें विदेशी टी-20 लीग में खेलने की इजाजत मिलनी चाहिए। उथप्पा ने कहा कि भारतीय खिलाड़ियों को कम से कम दो विदेशी टी-20 लीग में खेलने की अनुमति मिलनी चाहिए। उन्होंने कहा कि जब हमें विदेशी लीग में जाने और खेलने की अनुमति नहीं मिलती तो दुख होता है। उथप्पा ने कहा कि अगर खिलाड़ी जा सकते हैं और विदेशी लीगों में खेलना चाहते हैं तो यह कम से कम अच्छा होगा। इससे कुछ अन्य लोगों के साथ खेलने का मौका मिलेगा। खेल के एक छात्र के रूप में आप हमेशा सीखना चाहते हैं और जितना चाहें, उतना बढ़ सकते हैं और ऐसा कर सकते हैं।

महिला क्रिकेटरों को मिल सकती है अनुमति तो पुरुषों को क्यों नहीं

रॉबिन उथप्पा ने कहा कि वीमेंस बिग बैश लीग में स्मृति मंधाना और हरमनप्रीत कौर को खेलने की अनुमति मिल सकती है तो पुरुष खिलाड़ियों को विदेशी खिलाड़ियों को को क्यों नहीं मिल सकती है। उथप्पा ने कहा कि मौजूदा बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली प्रोगेसिव हैं और वह इस स्थिति को स्पष्ट करेंगे और खिलाड़ियों के लिए आगे बढ़ने का रास्ता साफ करेंगे। उथप्पा ने कहा कि वह इन बिंदुओं पर गौर करेंगे। उथप्पा ने कहा कि गांगुली प्रगतिशील सोच वाले इंसान हैं। वह भारत को हमेशा अगले स्तर पर ले जाने के लिए तैयार रहते हैं।

Harbhajan Singh ने बताया क्रिकेट में क्या काम करता है Saliva, प्रयोग बंद होने पर क्या पड़ेगा असर

इन खिलाड़यों को नहीं मिली थी अनुमति

बता दें कि रॉबिन उथप्पा से पहले, जब सुरेश रैना और इरफान पठान ने विदेशी लीग में खेलने की मांग की थी, तब बीसीसीआई ने कहा था कि विशिष्टता हमारी पहचान है और इस कारण हम अपने खिलाड़ियों को विदेशी लीग में खेलने की अनुमति नहीं देंगे। इन दोनों खिलाड़ियों से पहले युवराज सिंह ने विदेशी लीग में खेलने की अनुमति मांगी थी तो हालांकि उन्हें विदेशी लीग में खेलने की इजाजत दे दी गई थी। बाद में बीसीसीआई ने यह स्पष्ट किया था कि युवराज का मामला अपवाद था। वह किसी और खिलाड़ी को विदेशी लीग में खेलने की इजाजत नहीं देंगे।

Show More
Mazkoor Content
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned