वर्ल्ड कप फाइनल के नतीजे से सचिन भी नाखुश, बोले- एक और सुपर ओवर कराया जा सकता था

वर्ल्ड कप फाइनल के नतीजे से सचिन भी नाखुश, बोले- एक और सुपर ओवर कराया जा सकता था

Kapil Tiwari | Updated: 17 Jul 2019, 10:50:32 AM (IST) क्रिकेट

सचिन तेंदुलकर ( Sachin Tendulkar ) ने कहा है कि वर्ल्ड कप ( World Cup ) फाइनल मैच में एक और सुपर ओवर कराकर मैच का नतीजा निकाला जा सकता था।

नई दिल्ली। वर्ल्ड कप 2019 फाइनल में इंग्लैंड ने न्यूजीलैंड को आईसीसी के जिस नियम के तहत हराया था, उसको लेकर अभी तक विवाद जारी है। इंग्लैंड को विजेता घोषित करने वाले उस नियम की लगातार आलोचना की जा रही है, क्योंकि पूरे मैच में न्यूजीलैंड ने इंग्लैंड को हर मोर्चे पर कांटे की टक्कर दी थी, लेकिन खराब किस्मत की वजह से न्यूजीलैंड खिताब से वंचित रह गया। आईसीसी के उस नियम को लेकर अब सचिन तेंदुलकर ने भी नाराजगी जाहिर की है।

वर्ल्ड कप फाइनल में ओवर थ्रो विवाद से ICC का किनारा, अंपायरों से हुई थी बड़ी 'गलती'

सचिन ICC के नियम से हैं नाखुश

दरअसल, सचिन ने कहा है कि वर्ल्ड कप फाइनल जैसे मैच की गंभीरता को देखते हुए एक और सुपर ओवर करा कर मैच का नतीजा निकाला जा सकता था। सचिन ने कहा, "मुझे लगता है कि विजेता का फैसला दोनों टीमों में से किसने ज्यादा बाउंड्रीज लगाई हैं इसके बजाए एक और सुपर ओवर कराकर किया जाना चाहिए था। सिर्फ विश्व कप का फाइनल नहीं, हर मैच अहम होता है, जैसा की फुटबाल में जब मैच अतिरिक्त समय में जाता है तो कुछ और मायने नहीं रखता।"

कोई भी टीम विश्व कप फाइनल नहीं हारी, इसके बावजूद ट्रॉफी नहीं मिलने से निराश कीवी

विराट की इस मांग का भी किया समर्थन

इसके अलावा सचिन ने विराट कोहली की उस मांग का भी समर्थन किया है कि सेमीफाइनल में हारने वाली टीम को एक मौका और मिले, इसलिए आईपीएल की तरह नॉकआउट को फॉर्मूला अपनाया जाना चाहिए। सचिन ने कहा है, ''मुझे लगता है कि शीर्ष दो में रहते हुए लीग दौर का अंत करने वाली टीमों को टूर्नामेंट में लगातार अच्छा प्रदर्शन करने का फायदा मिलना चाहिए।"

वर्ल्ड कप फाइनल में हार से बेहद उदास जिमी नीशम, बच्चों को खेल में करियर ना बनाने की दी सलाह

ICC के नियम की और भी क्रिकेटरों की है आलोचना

आपको बता दें कि सबसे ज्यादा बाउंड्रीज के आधार पर वर्ल्ड कप फाइनल जैसे मैच का नतीजा निकाले जाने वाले नियम की और भी कई खिलाड़ियों ने आलोचना की है। युवराज सिंह और रोहित शर्मा ने भी इस नियम की आलोचना की थी। आपको बता दें कि फाइनल में मैच टाई हो जाने के बाद सुपर ओवर हुआ था, लेकिन सुपर ओवर में एक बार फिर मैच टाई हो गया और नियम के मुताबिक, सबसे ज्यादा बाउंड्रीज लगाने वाली टीम को विजेता घोषित किया गया।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned