दक्षिण अफ्रीका ने पहले वनडे में इंग्लैंड को दी सात विकेट से मात, डिकॉक ने बनाया बड़ा रिकॉर्ड

Quinton De Kock दूसरे ऐसे खिलाड़ी बनें, जिन्होंने कप्तानी, विकेटकीपिंग और सलामी बल्लेबाजी की तिहरी भूमिका अदा करते हुए शतक लगाया है।

Mazkoor Alam

05 Feb 2020, 01:25 PM IST

केपटाउन : इंग्लैंड क्रिकेट टीम (England Cricket Team) के हाथों चार टेस्ट मैचों की सीरीज 3-1 से गंवाने के बाद दक्षिण अफ्रीका क्रिकेट टीम (South Africa Cricket Team) ने तीन मैचों की वनडे सीरीज में शानदार शुरुआत की है। केपटाउन के न्यूलैंड्स मैदान पर खेले गए पहले वनडे में मेजबान टीम ने मेहमान टीम को सात विकेट से मात देकर सीरीज में 1-0 की बढ़त बना ली है। वनडे सीरीज में कप्तानी संभाल रहे दक्षिण अफ्रीका के विकेटकीपर बल्लेबाज क्विंटन डिकॉक (Quinton De Kock) ने 107 रन बनाकर मैन ऑफ द मैच बने। इस दौरान डिकॉक ने ऑस्ट्रेलिया के विकेटकीपर बल्लेबाज एडम गिलक्रिस्ट का एक बड़ा रिकॉर्ड तोड़ा।

इस मैच में टॉस हारकर इंग्लैंड ने पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 50 ओवर में आठ विकेट पर 258 रन बनाकर प्रोटियाज के सामने जीत के लिए 259 रनों का लक्ष्य रखा था। इसे दक्षिण अफ्रीका ने 47.4 ओवर में तीन विकेट खोकर हासिल कर लिया।

रोहित शर्मा ने हासिल किया एक और बड़ा मुकाम, अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में पूरे किए 14,000 रन

टेम्बा बावुमा और डिकॉक की शानदार बल्लेबाज

इंग्लैंड से मिले 259 रनों के लक्ष्य के सामने दक्षिण अफ्रीका ने रीजा हेंड्रिक्स के रूप में पहला विकेट जल्दी खो दिया। इसके बाद कप्तान डिकॉक (107) और टेम्बा बावुमा (98) ने मिलकर 150 से भी अधिक रनों की साझेदारी कर अपनी टीम को जीत की राह पर डाल दिया। टीम का कुल योग जब 198 रन था तो डिकॉक आउट होकर पैवेलियन लौट गए। उन्होंने 113 गेंद की पारी में 11 चौके और एक सिक्स लगाया। इसके बाद रुसी वान डेर डुसैन (38 नाबाद) के साथ मिलकर उन्होंने मेजबान टीम को जीत की देहरी पर पहुंचा दिया। टेम्बा बावुमा दुर्भाग्यशाली रहे कि वह दो रनों से शतक से चूक गए। टीम का कुल योग जब 234 रन था तो वह आउट होकर पैवेलियन लौट गए। उन्होंने 103 गेंदों की पारी में पांच चौके और दो छक्के लगाए। इसके बाद डुसैन ने जेजे स्मट्स (7 नाबाद) के साथ मिलकर दक्षिण अफ्रीका को जीत दिला दी।

इंग्लैंड की तरफ से कोई भी गेंदबाज प्रभाव छोड़ने में कामयाब नहीं हो सका। उसके सिर्फ सतीन गेंदबाज ही विकेट ले सकें। क्रिस वोक्स, जो रूट और क्रिस जोर्डन को एक-एक विकेट मिला।

डेनली को छोड़ कोई भी विकेट पर नहीं टिक सका

इंग्लैंड की ओर से जो डेनली (87) के अलावा कोई भी बल्लेबाज विकेट पर टिक कर खेल नहीं सका। डेनली के अलावा कुछ हद तक सलामी बल्लेबाज जेसन रॉय (32) और निचले क्रम में क्रिस वोक्स (40) ही कुछ हद तक टिक कर खेल सकें। डेनली ने 103 गेंदों पर छह चौके और दो छक्के लगाए। यह इन तीनों बल्लेबाज के मेहनत का ही फल था कि इंग्लैंड आठ विकेट पर 258 रन के स्कोर तक पहुंच सकी।

दक्षिण अफ्रीका की ओर से सबसे सफल गेंदबाज तबरेज शम्सी रहे। उन्होंने तीन विकेट लिए, जबकि ब्यूरॉन हेंड्रिक्स, जेजे स्मट्स, एंडिले फेहलुक्वायो और लुथो सिपाम्ला को एक-एक विकेट मिला।

शर्मनाक रिकॉर्ड : शिवम दुबे ने एक ओवर में 34 रन देकर बने सबसे महंगे भारतीय गेंदबाज

डिकॉक ने की गिलक्रिस्ट की बराबरी

इस मैच के दौरान दक्षिण अफ्रीका के कप्तान क्विंटन डिकॉक ने एक बड़ा रिकॉर्ड कायम किया। उन्होंने बतौर कप्तान, सलामी बल्लेबाज और विकेटकीपर शतक लगाने वाले दूसरे खिलाड़ी बनें। डिकॉक से पहले यह कारनामा एडम गिलक्रिस्ट कर चुके हैं। उन्होंने 2006 में श्रीलंका के खिलाफ 2006 में पर्थ में 116 रन बनाए थे। डिकॉक ने आज केपटाउन में 107 रन की पारी खेलकर इस रिकॉर्ड की बराबरी की।

Mazkoor Content
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned