गौतम गंभीर ने निर्भया के दोषियों की फांसी पर जताई खुशी, बोले- सजा देने में देरी हुई

Highlight

- गौतम गंभीर के अलावा बबीता फोगाट और गीता फोगाट ने भी जताई खुशी

- शुक्रवार तड़के निर्भया के दोषियों को दी गई फांसी

- 7 साल बाद मिला निर्भया को इंसाफ

Kapil Tiwari

20 Mar 2020, 03:09 PM IST

नई दिल्ली। निर्भया केस में 7 साल के लंबे इंतजार के बाद आखिरकार शुक्रवार को इंसाफ की घड़ी आ ही गई। शुक्रवार तड़के निर्भया गैंगरेप केस के चारों दोषियों मुकेश सिंह, विनय शर्मा, पवन गुप्ता, अक्षय ठाकुर को फांसी के फंदे पर लटका दिया गया। इंसाफ की इस घड़ी के बाद पूरे देश में खुशी की लहर है। सिर्फ निर्भया के माता-पिता ही नहीं बल्कि फिल्म और खेल जगत के कई बड़े चेहरों ने भी निर्भया को इंसाफ मिलने पर खुशी जताई है।

फांसी की खबर पर खेल जगत से आईं प्रतिक्रियाएं

- निर्भया के दोषियों को फांसी दिए जाने के बाद हरियाणा की महिला पहलवान बबीता फोगाट ने इस दिन को न्याय दिवस बताया है। उन्होंने ट्विटर पर लिखा है, 'निर्भया न्याय दिवस। चारों दरिंदो को दी गई फांसी।' वहीं गीता फोगाट ने भी ट्वीट करते हुए लिखा कि सात साल बाद इंसाफ का सूरज ऊगा।

- भाजपा नेता और पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर ने भी ट्वीट कर इसे इंसाफ की जीत बताया है। गंभीर ने ट्वीट कर कहा है, "निर्भया, जानते हैं हम लेट हैं।" आपको बता दें कि ये मामला सात साल पुराना है। पिछले कुछ महीनों से दोषियों को लगातार कानूनी संरक्षमण मिल रहा था। आखिरकार दोषियों के लिए सभी दरवाजे बंद हो गए और उन्हें फांसी के फंदे पर लटका दिया गया।

- पहलवान योगेश्वर दत्त ने ट्वीट कर लिखा है, "सत्य परेशान हो सकता है, लेकिन पराजित नहीं। और अंततः निर्भया के दोषियों को आज फांसी हुई। सात साल बाद ही सही, देश की बेटी को इंसाफ तो मिला।"

Kapil Tiwari Content Writing
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned