वेस्टइंडीज और श्रीलंका के बीच आज से होगी भिड़ंत, क्रिकेट इतिहास में पहली बार होगा ऐसा

श्रीलंका की टीम 36 साल से टेस्ट क्रिकेट खेल रही है, यह उनका चौथा कैरिबिआई दौरा है और पहला ऐसा दौरा है जिसमे 2 से ज्यादा टेस्ट खेले जाएंगे।

By: Akashdeep Singh

Published: 06 Jun 2018, 03:05 PM IST

नई दिल्ली। अपनी पुरानी फॉर्म को वापस पाने की जद्दोजहद में लगी श्रीलंकाई क्रिकेट टीम बुधवार से वेस्टइंडीज के खिलाफ पहले टेस्ट मैच में क्वींस पार्क ओवल मैदान पर उतरेगी। श्रीलंका की कोशिश वेस्टइंडीज में अपनी पहली टेस्ट सीरीज जीत हासिल करने की होगी और इसी इरादे से वो पहले मैच में जीत चाहेगी। दोनों टीमें दो साल के अंतराल के बाद टेस्ट में एक-दूसरे के आमने-सामने हो रही हैं। इससे पहले, वेस्टइंडीज और श्रीलंका अक्टूबर-2015 में सफेद कपड़ों में भिड़े थे। श्रीलंका की टीम 36 साल से टेस्ट क्रिकेट खेल रही है। यह उनका चौथा कैरिबिआई दौरा है और पहला ऐसा दौरा है जिसमे 2 से ज्यादा टेस्ट खेले जाएंगे। श्रीलंका की टीम वेस्ट इंडीज का दौरा 10 सालों के अंतर पर कर रही है।


बेहतर फॉर्म में है श्रीलंका
इस मैच की अगर बात की जाए तो श्रीलंका का पलड़ा मेजबान टीम पर भारी है और वह इतिहास रच सकती है। उसने अपने अंतिम पांच टेस्ट मैचों में से दो में जीत हासिल की तो वहीं तीन मैच ड्रॉ रहे हैं। वहीं जेसन होल्डर की कप्तान वाली विंडीज ने अपना आखिरी टेस्ट दिसंबर 2017 में न्यूजीलैंड के खिलाफ खेला था। इस मैच में टीम की जिम्मेदारी सीनियर खिलाड़ियों के कंधों पर होगी। दोनों टीमों का एक समय विश्व क्रिकेट में रुतबा हुआ करता था, लेकिन मौजूदा स्थिति यह है कि दोनों टीमें जीत के लिए संघर्ष करती दिखी हैं।


विंडीज के इन खिलाड़ियों पर होगा दारोमदार
वेस्ट इंडीज की बल्लेबाजी का दारोमदार क्रैग ब्रैथवेट पर होगा। वह विंडीज की बल्लेबाजी की धुरी हैं। उनके अलावा टीम शाई होप, रोस्टन चेस पर भी काफी हद तक निर्भर करेगी। विंडीज ने इस सीरीज के लिए डेवोन स्मिथ और केरन पावेल को वापस बुलाया है जिससे टीम की बल्लेबाजी को गहराई मिलेगी। गेंदबाजी में टीम की दारोमदार शेनन गेब्रिएल पर होगा। उनके अलावा कप्तान होल्डर, केमर रोच, मिग्युएल कमिस और लेग स्पिनर देवेंद्र बिशू का साथ उन्हें मिलेगा।


श्रीलंका को इनपर है भरोसा
श्रीलंका ने हाल ही में बांग्लादेश को दो टेस्ट मैचों की सीरीज में 1-0 से मात दी थी। उसकी परेशानी खिलाड़ियों की चोट है। टीम की बल्लेबाजी रोशन सिल्वा, कुशल मेंडिस, और धनंजय डी सिल्वा पर निर्भर रहेगी। टीम के पास कप्तान दिनेश चंडीमल जैसा बल्लेबाज है जो मध्यक्रम को स्थिरत प्रदान करेगा। इन सभी के अलावा निरोशन डिकवेला, कुशल परेरा और हरफनमौला खिलाड़ी एंजेलो मैथ्यूज पर भी काफी कुछ निर्भर रहेगा। गेंदबाजी सुरंगा लकमल पर श्रीलंका की जिम्मेदारी होगी। लाहिरू गमागे और लाहिरू कुमारा उनका साथ देंगे। स्पिन में श्रीलंका के पास रंगना हेराथ और अकिल धनंजय जैसे अच्छे गेंदबाज हैं।


टीमें :

वेस्टइंडीज : जेसन होल्डर (कप्तान), देवेंद्र बिशू, क्रैग बै्रथवेट, रोस्टन चेस, मिग्युएल कमिंस, शेन डॉवरिच (विकेटकीपर), शेनन गैब्रिएल, जेमर हेमिल्टन, शिमरोन हेटमायेर, शाई होप, केरन पावेल, केरम रोच, डेवोन स्मिथ।

श्रीलंका : दिनेश चंडीमल (कप्तान), महेला उदावाटे, कुशल मेंडिस, कुशल जानिथ परेरा, धनंजय डी सिल्वा, रोशेन सिल्वा, एंजेलो मैथ्यूज, निरोशन डिकवेला (विकेटकीपर), रंगना हेराथ, दिलरुवान परेरा, अकिला धनंजय, जैफ्री वेंडरसे, लाहिरू गमागे, कासुन रजिथा, सुरंगा लकमल, लाहिरू कुमारा, अशिथा फर्नाडो।

Show More
Akashdeep Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned