श्रीलंकाई स्टार खिलाड़ी नहीं जाना चाहते पाकिस्तान दौरे पर, श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड ने बनाया दबाव

श्रीलंकाई स्टार खिलाड़ी नहीं जाना चाहते पाकिस्तान दौरे पर, श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड ने बनाया दबाव

Mazkoor Alam | Updated: 04 Sep 2019, 08:23:53 PM (IST) क्रिकेट

Cricket Board अपने खिलाड़ियों पर पाक दौरा के लिए दबाव बना रहा है और वह इस संबंध में नौ सिंतबर को बैठक भी करने वाला है।

कोलंबो : श्रीलंका क्रिकेट टीम ( Sri Lanka cricket team ) को 27 सितंबर से नौ अक्टूबर के बीच पाकिस्तान में तीन टी-20 और तीन वनडे मैचों की द्विपक्षीय सीरीज खेलनी है। लेकिन 2009 के हादसे को याद कर श्रीलंका के कई खिलाड़ी पाकिस्तान नहीं जाना चाहते हैं। वह बगावत पर उतर आए हैं। दूसरी तरफ श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड ( Sri lanka Cricket Board ) अपने खिलाड़ियों पर वहां जाकर सीरीज खेलने के लिए दबाव बना रहा है। इसकी जानकारी पाकिस्तानी मीडिया ने दी।

विदेशी लीग खेलने के लिए अपने खिलाड़ियों नहीं दी एनओसी

रिपोर्ट के अनुसार, दौरे की तारीख से टकरा रही कैरिबियन प्रीमियर लीग जैसी विदेशी लीग में खेलने के लिए खिलाड़ियों ने बोर्ड से अनापत्ति प्रमाण पत्र मांगा था, वह बोर्ड ने रोक रखी है। बता दें कि सीपीएल चार सितंबर से शुरू होकर 12 अक्तूबर तक चलेगी। इसी दौरान श्रीलंका को पाकिस्तान में द्विपक्षीय सीरीज खेलनी है। श्रीलंका बोर्ड सूत्रों के हवाले से बताया गया है कि लसिथ मलिंगा, निरोशन डिकोवेला और थिसारा परेरा का सीपीएल की फ्रेंचाइजी टीमों के साथ करार है तो ऑलराउंडर इसुरु उदाना को दक्षिण अफ्रीका में टी-20 टूर्नामेंट खेलना है।

युवराज सिंह फिर मैदान पर उतरने को तैयार, अब वह सीपीएल और बीबीएल में आ सकते हैं खेलते नजर

कई खिलाड़ी नहीं जाना चाहते पाकिस्तान

जब से श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड ने पाकिस्तान के साथ पाकिस्तान में द्विपक्षीय सीरीज के लिए हामी भरी है, तब से ही ऐसी खबरें आ रही हैं कि कुछ श्रीलंकाई खिलाड़ी पाकिस्तान के दौरे पर नहीं जाना चाह रहे हैं। इस लिस्ट में लसिथ मलिंगा, एंजेलो मैथ्यूज, दिमुथ करुणारत्ने, कुशल परेरा, कुशल मेंडिस, लाहिरू थिरिमाने जैसे दिग्गज खिलाड़ियों के नाम शामिल हैं।

बोर्ड खिलाड़ियों के साथ करेगा बैठक

रिपोर्ट के अनुसार, श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड ने खिलाड़ियों के मन से डर दूर करने के लिए उनके साथ नौ सितंबर को एक बैठक करने की योजना बनाई है। इस बैठक में वह अपने खिलाड़ियों को यह जानकारी देगा कि पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड श्रीलंकाई खिलाड़ियों की मुहैया के लिए क्या-क्या सुरक्षा मुहैया कराने वाले हैं। इस बैठक के बाद श्रीलंका के खेल मंत्री बीरन फर्नाडो भी खिलाड़ियों से मिलेंगे। बता दें कि बीरन फर्नाडो ने भी टीम के साथ पाकिस्तान दौरे पर जाने की इच्छा जताई है।

जसप्रीत बुमराह के गेंदबाजी एक्शन पर उठे सवाल, सुनील गावस्कर भड़के

इस वजह से डर रहे हैं श्रीलंकाई खिलाड़ी

2009 में श्रीलंका की टीम पर आतंकी हमला हुआ था। इसके बाद दौरा रद्द कर श्रीलंका टीम लौट आई थी। इसके बाद से पाकिस्तान में करीब-करीब पूरी तरह से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट बंद है। इस बीच सिर्फ जिम्बाब्वे और वेस्टइंडीज की टीमों ने ही एकदिवसीय मैचों के लिए पाकिस्‍तान का दौरा किया था। इस वजह से पीसीबी श्रीलंका दौरे को एक मौके की तरह देख रहा है कि अगर श्रीलंका का पाकिस्तान दौरा सफल रहता है तो वहां अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में वापसी हो सकती है।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned