श्रीलंकाई स्पिनर अकिला धनंजय का गेंदबाजी एक्‍शन संदिग्‍ध, आइसीसी ने किया निलंबित

हाल ही में इंग्‍लैंड-श्रीलंका टेस्‍ट सीरीज के दौरान पहले टेस्‍ट मैच के दौरान अंपायर ने अकिला की गेंदबाजी एक्‍शन पर सवाल उठा था।

By: Mazkoor

Published: 10 Dec 2018, 09:51 PM IST

दुबई : सोमवार को इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (आइसीसी) ने श्रीलंकाई गेंदबाज अकिला धनंजय के गेंदबाजी एक्‍शन को अवैध करार दिया। इसके साथ ही उन्‍हें तत्‍काल प्रभाव ने अंतरराष्‍ट्रीय क्रिकेट में गेंदबाजी से सस्‍पेंड कर दिया गया है। बता दें कि हाल ही में इंग्‍लैंड-श्रीलंका टेस्‍ट सीरीज के दौरान पहले टेस्‍ट मैच के दौरान अंपायर ने अकिला की गेंदबाजी एक्‍शन पर सवाल उठा था। इसके बाद उनकी गेंदबाजी एक्‍शन की जांच के लिए उन्‍हें आस्‍ट्रेलिया बुलाया गया था। धनंजय ने पिछले महीने 23 नवंबर को ब्रिसबेन के नेशनल क्रिकेट सेंटर में आइसीसी जांच कमिटी के सामने अपनी गेंदबाजी का टेस्‍ट दिया था। इस जांच की रिपोर्ट में पाया गया कि उनकी गेंदबाजी एक्‍शन सही नहीं है। इसके बाद सोमवार को आइसीसी ने तत्‍काल प्रभाव से निलंबित कर दिया।

यह कहता है नियम
आइसीसी के नियम के मुताबिक एक गेंदबाज अधिकतम 15 डिग्री तक अपना हाथ मोड़ सकता है, लेकिन जांच में पाया गया कि उनका हाथ इससे ज्‍यादा मुड़ता है। इसीलिए आइसीसी के नियम 11.1 के तहत उन्‍हें अंतरराष्‍ट्रीय क्रिकेट में गेंदबाजी करने से निलंबित कर दिया गया। इसी नियम के तहत वह घरेलू क्रिकेट में भी गेंदबाजी नहीं कर पाएंगे, लेकिन आइसीसी का नियम 11.5 के अनुसार, अगर प्‍लेयर के देश का क्रिकेट बोर्ड अगर उसे घरेलू क्रिकेट में गेंदबाजी करने की अनुमति देता है तो वह घरेलू क्रिकेट में गेंदबाजी कर सकता है।

कर सकते हैं वापसी
बता दें कि आइसीसी की ओर से गेंदबाजी से निलंबित किए जाने के बावजूद अकिला धनंजय का करियर खत्‍म नहीं हुआ है। वह अपनी गेंदबाजी एक्‍शन में जरूरी बदलाव कर आइसीसी के नियम 4.5 के तहत गेंदबाजी एक्‍शन की जांच की दोबारा मांग कर सकते हैं और अगर दोबारा जांच में उनका एक्‍शन सही पाया गया तो उन्‍हें फिर से अंतरराष्‍ट्रीय क्रिकेट में गेंदबाजी की इजाजत मिल जाएगी। पहले भी ऐसा कई गेंदबाजों के साथ हो चुका है। इस क्‍लब में श्रीलंका के महानतम गेंदबाज मुथैया मुरलीधरन भी शामिल रहे हैं।

Mazkoor Content
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned