पूर्व कप्तान गावस्कर ने टीम विराट के टैटू,हेयर स्टाइल पर कसा ऐसा तंज, आप जानकर रह जाएंगे दंग

पूर्व कप्तान गावस्कर ने टीम विराट के टैटू,हेयर स्टाइल पर कसा ऐसा तंज, आप जानकर रह जाएंगे दंग

Kuldeep Panwar | Updated: 04 Sep 2017, 01:48:00 PM (IST) क्रिकेट

टीम इंडिया के पूर्व कप्तान रहे सुनील गावस्कर ने विराट कोहली के नेतृत्व में टीम के सिलेक्शन पर सवाल उठा दिए हैं।

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट टीम भले ही इन दिनों अच्छे फॉर्म में खेल रही हो । मेजबान श्रीलंका को वन डे और टेस्ट सीरीज में मात दिया हो ,पर पूर्व कैप्टन गावस्कर ने टीम में खिलाडियों के सिलेक्शन पर सवाल खड़ा कर दिया हैं। श्रीलंका के साथ हुई पांच सीरीज के वनडे मैच को 5-0 से जीतकर एक नया रिकॉर्ड बनाने के बाद टीम इंडिया के पूर्व कप्तान रहे सुनील गावस्कर ने विराट कोहली के नेतृत्व में टीम के सिलेक्शन पर सवाल उठा दिए हैं।

Sunil Gavaskar,Virat Kohli

टीम के चुनाव पर गावस्कर ने उठाया सवाल -
वर्तमान भारतीय टीम में खिलाड़ियों के सिलेक्शन पर गावस्कर ने सवाल खड़ा करते हुए कहा कि ऐसा लगता है कि सभी अच्छे खिलाडी बाहर कर दिए गए हैं। टीम में खिलाड़ियों के शामिल होने के लिए नया हेयरस्टाइल बनाना होगा और बॉडी पर टैटू बनावाने से उनकी टीम में सलेक्शन की संभावनाएं बढ़ जाती हैं। हालांकि, टीम इस समय शादरदार फॉर्म में दिखाई दे रही है। उनका कहना है कि जिस तरह इस सीरीज में टीम चुनी जा रही है, उससे लग रहा है कि कई प्लेयर्स को खेलने का मौका नहीं मिल रहा है। एक अखबार के कॉलम में गावस्कर ने लिखा कि लगता है नए हेयरस्टाइल और टैटू के बाद इन खिलाड़ियों को टीम में खेलने का मौका मिले। दरअसल, गावस्कर टीम के फैशननेबल होने पर व्यंग्य कर रहे हैं। टीम में शामिल विराट कोहली, के एल राहुल से लेकर हार्दिक पांड्या तक नए स्टाइल में नजर आ रहे हैं।

गावस्कर ने कुछ दिनों पहले एलिस्टर कुक के बारे में बयान दिया था -
पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर ने कुछ दिनों पहले ये बयान दिया था कि इंग्लैंड के एलिस्टर कुक अगर कुछ साल और टेस्ट क्रिकेट खेलेंगें तो वह सचिन का रिकॉर्ड तोड़ सकते हैं। उन्होंने कहा कि वह अभी 32 साल का ही है और यदि वह छह से आठ साल तक खेलता है तो उसके पास रिकार्ड तोडऩे का मौका रहेगा।

सचिन का टेस्ट मैचों में 15921 रनों का रिकॉर्ड है और कुक अब तक 11553 रन बना चुके हैं। गावस्कर ने कहा कुक को इंग्लैंड की और से खेलते हुए सबसे बड़ा फायदा यह है कि वे हमेशा एक वर्ष में 11-12 टेस्ट मैच खेलते हैं। एक वर्ष में अगर 11 से 12 मैचों में यदि आप 50 रन भी बनाते हो तो हर साल 600 रन बना सकते हो।'' उन्होंने कहा कि ''इसलिए अगले छह सात सालों में ऐसा दौर भी आ सकता है जबकि कुक शानदार फॉर्म में हो और एक साल में 1000 रन बना दे। इससे निश्चित तौर पर उनके पास मौका रहेगा कि वे सचिन के टेस्ट में सबसे ज्यादा रन के रिकॉर्ड को तोड़ सकें।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned