ये हैं मौजूदा दौर के Lazy Cricketers, इनमें Indian Cricketers भी हैं शामिल

Mahendra Singh Dhoni ने खराब फिटनेस के कारण Gautam Gambhir और Virendra Sehwag को टीम से बाहर कर दिया था।

By: Mazkoor

Updated: 26 May 2020, 05:12 PM IST

नई दिल्ली : 150 सालों से भी ज्यादा समय से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेला जा रहा है, लेकिन मौजूदा दौर में फिटनेस (Fitness in Cricket) का जितना जोर है, वैसा पहले कभी नहीं रहा। अब विश्व की हर टीम पूरी तरह से चुस्त और फुर्तीले खिलाड़ियों को ही अपनी राष्ट्रीय टीम में जगह देती है, लेकिन पहले प्रतिभा और योग्यता पर जोर हुआ करता था। इसी कारण टीम इंडिया में वीएस चंद्रशेखर (VS Chandrashekhar) , बिशन सिंह बेदी (Bishon Singh Bedi), संदीप पाटिल (Sandeep Patil), रवि शास्त्री (Ravi Shastri) और भारतीय क्रिकेट बोर्ड (BCCI) के मौजूदा अध्यक्ष और टीम इंडिया (Team India) के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) शायद कभी क्रिकेट नहीं खेल पाते। इनमें से सभी क्रिकेटर की विकेटों के बीच की दौड़ और क्षेत्ररक्षण दोनों खराब था। अबूझ लेग स्पिनर माने जाने वाले चंद्रशेखर के तो दाहिने हाथ में पोलियो का असर भी था। इसके बावजूद इन्होंने लंबे समय तक टीम इंडिया का प्रतिनिधित्व किया। लेकिन ऐसा नहीं है कि मौजूदा दौर में सभी क्रिकेटर फुर्तीले ही हैं। टीम इंडिया समेत हर टीम में एकाध क्रिकेटर ऐसे हैं, जो सुस्त (Lazy Cricketers) हैं जिनकी विकेटों के बीच दौड़ तो खराब है ही, अच्छे क्षेत्ररक्षक भी नहीं हैं। आइए जानते हैं ऐसे ही मौजूदा पांच क्रिकेटरों (World's Lazy Cricketers) के बारे में।

2000 के बाद फिटनेस को लेकर आया अवेयरनेस

आधुनिक क्रिकेट में बल्लेबाजी और गेंदबाजी के साथ-साथ फिटनेस को भी महत्व दिया जाने लगा हैं। पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी (Mahendra Singh Dhoni) ने खराब फिटनेस के कारण गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) और वीरेंद्र सहवाग (Virendra Sehwag) को टीम से बाहर कर दिया था। इसके अलावा धोनी की टी-20 टीम से वीवीएस लक्ष्मण (VVS Laxman), सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) और राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) भी इसी कारण बाहर रखा गया था। आइए जानते हैं मौजूदा दौर के सुस्त क्रिकेटरों के बारे में।

सरफराज अहमद, पाकिस्तान

पाकिस्तान क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान और विकेटकीपर बल्लेबाज सरफराज अहमद (Sarfraz Ahamed) की आईसीसी एकदिवसीय क्रिकेट विश्व कप 2019 में टीम इंडिया के खिलाफ उबासी लेती एक तस्वीर जबरदस्त वायरल हुई थी। इसके अलावा उनका विकेटों के बीच दौड़ भी बेहद खराब है। हालांकि वह तमाम फिटनेस टेस्ट पास कर ही पाकिस्तान की टीम में चुने गए थे, लेकिन कुछ क्रिकेट विशेषज्ञों ने सार्वजनिक रूप से फिटनेस में सुधार करने की सलाह दी थी। खराब फॉर्म और फिटनेस के कारण सरफराज न सिर्फ कप्प्तानी से, बल्कि टीम से भी बाहर कर दिए गए हैं।

 

mohammad_shahzad.jpg

मोहम्मद शहजाद, अफगानिस्तान

अफगानिस्तान के विकेटकीपर बल्लेबाज मोहम्मद शहजाद (Mohammad Shehzad) को काफी प्रतिभाशाली माना जात है। वह हार्ड हिटिंग में माहिर हैं और अफगानी प्रशंसकों के चहेते भी। वह उन्हें अफगानी धोनी कहते हैं। धोनी का आदर्श मानने वाले शहजाद की विकेटकीपिंग भी अच्छी है, लेकिन उनकी विकेटों के बीच की दौड़ बहुत खराब है। पिछले साल हुए विश्व कप में इसी कारण टीम मैनेजमेंट ने उन्हें टीम से बाहर कर दिया था और मीडिया को यह बताया था कि उन्हें चोट लगी है।

 

chris_gayle.jpg

क्रिस गेल, वेस्टइंडीज

क्रिस गेल (Chris Gayle) जब बल्लेबाजी करने आते हैं तो यह बात सबने नोट की होगी कि वह सिंगल्स और डबल्स लेना नहीं चाहते, क्विकी तो एकदम नहीं। वह हमेशा बड़े शॉट मारने में यकीन करते हैं। इसके अलावा वह बाउंड्री पर कभी फील्डिंग नहीं करते, क्योंकि यहां बहुत भागना पड़ता है। एक मध्यम तेज गेंदबाज के रूप में करियर शुरू करने वाला यह खिलाड़ी बाद में विस्फोटक बल्लेबाज बन गया और ऑफ स्पिन गेंदबाजी लगा। अगर इस क्रिकेटर को वर्तमान क्रिकेट जगत का सबसे आलसी क्रिकेटर कहा जाए तो गलत नहीं होगा।

 

pmgsy.jpg

केदार जाधव, भारत

टीम इंडिया के सबसे खराब क्षेत्ररक्षकों में से एक हैं केदार जाधव (Kedar Jadhav)। वह ऐसे क्षेत्ररक्षक हैं, जिन्हें कप्तान मैदान पर छिपाना चाहता है। इसके अलावा वह लगातार चोटों से पीड़ित रहते हैं। इसके बावजूद वह अच्छी बल्लेबाजी और उपयोगी स्पिन गेंदबाजी की बदौलत टीम इंडिया के लिए सीमित ओवर के क्रिकेट में काफी उपयोगी खिलाड़ी बन गए थे। हालांकि इस दौरान अपने क्षेत्ररक्षण से जाधव ने कई बार टीम और प्रशंसकों को निराश किया है।

 

rohit_sharma.jpg

रोहित शर्मा, भारत

रोहित शर्मा (Rohit Sharma) टीम इंडिया के सलामी बल्लेबाज हैं। वह सीमित ओवरों के क्रिकेट में भारत के उपकप्तान भी हैं। अपनी तूफानी बल्लेबाजी से वह कई मौकों पर टीम इंडिया को जीत दिला चुके हैं। लेकिन विकेटों के बीच उनकी दौड़ अच्छी नहीं मानी जाती है। हालांकि उनके बड़े शॉट खेलने की क्षमता में यह कमी छिप जाती है।

kedar_jadhav.jpg
Show More
Mazkoor Content
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned