ऐसा चला कोहली का बल्ला कि सचिन और सहवाग भी छूट गए पीछे

सुनील गावस्कर से छह पारियां कम खेलकर ही आगे निकल गए विराट कोहली

By: Manoj Sharma Sports

Updated: 12 Oct 2019, 08:54 AM IST

पुणे। भारतीय कप्तान विराट कोहली ने शुक्रवार को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेले जा रहे मैच में अपने टेस्ट करियर का सातवां दोहरा शतक पूरा किया।

इसी के साथ वह भारत के लिए सबसे ज्यादा दोहरे शतक लगाने वाले बल्लेबाज बन गए हैं। इस साल कोहली ने टेस्ट में एक भी शतक नहीं जमाया था लेकिन इस मैच में उन्होंने ये कमी भी पूरी कर दी।

भारतीय कप्तान का यह 81वां टेस्ट मैच है जिसमें उनका यह सातवां दोहरा शतक है। इसी क्रम में उन्होंने अपने आदर्श सचिन तेंदलुकर और वीरेंद्र सहवाग को पीछे छोड़ा है। इन दोनों ने अपने टेस्ट करियर में छह-छह दोहरे शतक जमाए हैं।

सबसे ज्यादा दोहरे शतक लगाने की सूची में ऑस्ट्रेलिया के डॉन ब्रैडमैन का नाम सबसे ऊपर है। ब्रेडमैन ने टेस्ट में 12 दोहरे शतक जमाए हैं। उनके बाद श्रीलंका के कुमार संगाकारा 11 दोहरे शतकों के साथ दूसरे स्थान पर हैं।

वेस्टइंडीज के ब्रायन लारा नौ दोहरे शतकों के साथ तीसरे स्थान पर हैं। वीआर हेमंड और महेला जयवर्धने के टेस्ट में सात-सात दोहरे शतक हैं।

कोहली साथ ही टेस्ट में सबसे ज्यादा बार 150 रनों से ज्यादा का स्कोर बनाने वाले कप्तान बन गए हैं। उन्होंने इस मामले में ब्रैडमैन को पीछे किया है। ब्रैडमैन ने कप्तान के तौर पर आठ बार 150 से ज्यादा का स्कोर किया था। कोहली नौ बार यह कर चुके हैं।

इसके अलावा कोहली सात हजार टेस्ट रन बनाने वाले भारत के सातवें बल्लेबाज बने। कोहली के अलावा सचिन (15921), राहुल द्रविड़ (13265), सुनील गावस्कर (10122), वीवीएस लक्ष्मण (8781), सहवाग (8503) और सौरभ गांगुली (7212) ने सात हजार से अधिक रन बनाए हैं। अपनी इसी पारी के दौरान कोहली ने भारत के सबसे सफल बल्लेबाजों में से एक दिलीप वेंगसरकर (6868) को पीछे छोड़ा।

यही नहीं, कोहली ने अपना शतक पूरा करते ही एक और कीर्तिमान अपने नाम किया। वह 40 अंतर्राष्ट्रीय शतक लगाने वाले भारत के पहले कप्तान बन गए हैं। विराट ने अपने टेस्ट करियर का 26वां शतक पूरा करते ही कप्तान के तौर पर 19वां टेस्ट शतक पूरा किया। उनके नाम कप्तान के रूप में वनडे क्रिकेट में 21 शतक हैं।

इस मामले में ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान रिकी पोंटिंग सबसे आगे है। उनके नाम अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में कप्तान के रूप में कुल 41 शतक हैं। दक्षिण अफ्रीका के पूर्व कप्तान ग्रेम स्मिथ 33 शतकों के साथ इस सूची में तीसरे नंबर पर हैं।

कोहली ने हालांकि, इस दमदार पारी के दम पर कप्तान के रूप में शतक जड़ने के मामले में टेस्ट क्रिकेट में पोंटिंग के रिकॉर्ड की बराबरी कर ली है। पोंटिंग ने भी कप्तान के रूप मे अपने करियर में कुल 19 टेस्ट शतक जड़े थे। दोनों खिलाड़ी संयुक्त रूप से अब दूसरे पायदान पर काबिज है। टेस्ट में कप्तान के रूप में सबसे अधिक शतक लगाने का रिकॉर्ड स्मिथ (25) के नाम है।

30 वर्षीय कोहली पारी के आधार पर सबसे तेज 26 टेस्ट शतक लगाने के मामले में चौथे नंबर पर भी पहुंच गए हैं।उन्होंने इस प्रक्रिया में सुनील गावस्कर को पछाड़ा। कोहली को 26 शतक लगाने में 138 पारियां लगी जबकि गावस्कर ने इस काम को करने के लिए 144 पारियां ली थीं।

Show More
Manoj Sharma Sports
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned