सहवाग, आकाश चोपड़ा और राहुल रिंघवी ने DDCA से तोड़ा नाता, अपने-अपने पदों से दिया इस्तीफा

सहवाग, आकाश चोपड़ा और राहुल रिंघवी ने DDCA से तोड़ा नाता, अपने-अपने पदों से दिया इस्तीफा

| Updated: 17 Sep 2018, 03:10:57 PM (IST) क्रिकेट

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व क्रिकेटर वीरेंद्र सहवाग, आकाश चोपड़ा और राहुल सिंघवी ने आज डीडीसीए से अपना त्याग पत्र दे दिया है।

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व विस्फोटक बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग ने दिल्ली एवं जिला क्रिकेट संघ (डीडीसीए) से अपना नाता तोड़ लिया है। हाल ही में संपन्न हुए डीडीसीए चुनाव में रजत शर्मा की जीत के बाद सहवाग को बतौर एडवाइजर जोड़ा गया था। वीरेंद्र सहवाग के साथ-साथ दिल्ली के आकाश चोपड़ा और राहुल सिंघवी को भी डीडीसीए की क्रिकेट कमेटी मे एडवाइजर के तर्ज पर शामिल किया गया था। इन तीनों ने आज अपने-अपने पद से इस्तीफा दे दिया। बता दें कि एक दिन पहले ही गौतम गंभीर को विजय हजारे ट्रॉफी के लिए दिल्ली की वनडे टीम का कप्तान नियुक्त किया गया था।

डीडीसीए ने इस्तीफा किया मंजूर-
दिल्ली एवं जिला क्रिकेट संघ के सूत्रों के मुताबकि इन तीनों का इस्तीफा मंजूर कर लिया गया है। बताया जा रहा है कि डीडीसीए को उच्चतम न्यायालय के निर्देशों के अनुसार बनाये गए नए संविधान को दो दिन के अंदर ही सौंपना है। लिहाजा यह जरुरी है कि नई समितियों का गठन कर लिया जाए। अब देखना है कि इन तीन दिग्गजों के स्थान पर डीडीसीए किन लोगों को अपने साथ जोड़ती है।

व्यस्त कार्यक्रम को बताया कारण-
इस्तीफा दिए जाने के कारणों पर बात करते हुए सहवाग ने बताया कि हम तीनों अपने दैनिक जीवन के व्यस्त कार्यक्रम के कारण डीडीसीए की क्रिकेट समिति के काम को आगे जारी नहीं रख पाएंगे। हालांकि विश्वस्त सूत्रों ने बताया कि इन तीनों के इस्तीफे के पीछे मनोज प्रभाकर की नियुक्ति का मामला मुख्य कारण है। बताते चले कि इन तीनों ने मनोज प्रभाकर को दिल्ली की टीम में बतौर गेंदबाजी कोच शामिल करने की अनुशंसा की थी। लेकिन दिल्ली के नव नियुक्त कप्तान और दिग्गज क्रिकेटर गौतम गंभीर प्रभाकर की नियुक्ति के विरोध में थे।

नए संविधान में अवैध हो सकती थी नियुक्ति-
सहवाग ने आगे बताया कि हम सब एक साथ आए और अपना समय और प्रयास दिया जिससे कि क्रिकेट कमेटी के रूप में अपनी भूमिका के दायरे में दिल्ली क्रिकेट के सुधार में मदद और योगदान दे सकें। हालांकि डीडीसीए के करीबी सूत्रों ने बताया कि कोर्ट के नए निर्देशों पर जो संविधान बनने जा रही है, उसके प्रावधानों के अनुसार इन तीनों की नियुक्ति अवैध थी। ऐसे में इन लोगों को आज नहीं तो कल इस्तीफा देना ही पड़ता। बताते चले कि राहुल सिंघवी मुंबई इंडियंस से जुड़े हैं, जबकि सहवाग डीडीसीए अध्यक्ष के चैनल में विशेषज्ञ की भूमिका भी निभाते हैं।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned