लक्ष्मण का बयान मैदान पर ऑस्ट्रेलिया से दोस्ती निभाने की जरूरत नहीं

Kuldeep Panwar

Publish: Sep, 13 2017 10:42:00 (IST)

Cricket
लक्ष्मण का बयान मैदान पर ऑस्ट्रेलिया से दोस्ती निभाने की जरूरत नहीं

मैदान पर दोनों टीम एक दूसरे की खिलाफ जब होती है, तो मैदान की सरगर्मी स्टेडियम में बैठे दर्शकों में जोश जूनून भर देती है।

नई दिल्ली । भारत और ऑस्ट्रेलिया की बीच का हर मैच रोमांच से भरपूर होता है । मैदान पर दोनों टीम एक दूसरे की खिलाफ जब होती है, तो मैदान की सरगर्मी स्टेडियम में बैठे दर्शकों में जोश जूनून भर देती है।वर्तमान समय में दोनों ही देश के कप्तान काफी नौजवान हैं,अग्रेसिव हैं । ऐसे में मैच और भी ज्यादा दिलचस्प हो जाती है।

दोनों कप्तान का अग्रेसिव होना अच्छी बात है -
पूर्व भारतीय क्रिकेटर वीवीएस लक्ष्मण को भी इन दो युवा कप्तानों की राइवलरी में कोई खामी नजर नहीं आती। उनका मानना है कि विराट और स्मिथ मैदान पर जीतने के लिए उतरते हैं, दोस्ती निभाने के लिए नहीं। 21 सितंबर से शुरू हो रही पांच मैचों की वनडे सीरीज पर चर्चा करते हुए लक्ष्मण ने कहा, 'यह पक्के तौर पर नंबर 1 राइवलरी है। दोनों टीमें जब भी आमने-सामने होती हैं तो रोमांच अपने चरम पर होता है और इस बार भी कुछ अलग नहीं होने वाला। इन दोनों टीमों के कप्तान विराट और स्मिथ युवा हैं और मॉर्डन क्रिकेट के आइकन हैं। बहुत कम समय में इन दोनों ने इंटरनैशनल क्रिकेट में जो प्रभाव छोड़ा है वह काबिलेतारीफ है। इन दोनों का अग्रेसन अपनी जगह सही है।

lakxman

कोहली स्मिथ की तुलना में बेहतर कप्तान -
भारत के पूर्व स्टार बल्लेबाज वीवी लक्ष्मण की नजर में भी कोहली स्मिथ की तुलना में बेहतर कप्तान हैं। उन्होंने कहा, ‘‘कोहली बेहतर कप्तान हैं। दोनों युवा कप्तान हैं, लेकिन हमने देखा है कि टेस्ट में स्टीव स्मिथ पूर्वानुमान लगाने में उतने प्रभावी नहीं हैं। टेस्ट श्रृंखला के दौरान गेंदबाजी में बदलाव करते हुए उनके फैसले काफी अच्छे नहीं थे।’’ लक्ष्मण ने कहा, ‘‘कोहली को साथ ही धोनी जैसे अनुभवी खिलाड़ी की मौजूदगी का भी फायदा मिलता है, जो लंबे समय तक टीम की अगुआई कर चुके हैं और काफी सफल रहे हैं।’’ लक्ष्मण ने साथ ही कहा कि उन्हें मौजूद भारतीय टीम में कोई कमजोर पक्ष नजर नहीं आता।

भारत का हर क्षेत्र मजबूत हो रहा है -
लक्ष्मण ने कहा, ‘‘श्रीलंका दौरे पर टीम ने आक्रामक क्रिकेट खेला और सभी नौ मैचों में जीत दर्ज की जो दर्शाता है कि टीम प्रत्येक विभाग में सुधार कर रही है। खिलाड़ी गेंदबाजी, बल्लेबाजी, क्षेत्ररक्षण सभी विभागों में अपने प्रदर्शन में सुधार करना चाहते हैं।’’ लक्ष्मण ने कहा, ‘‘भारतीय टीम प्रत्येक विभाग में काफी संतुलित है और मुझे इस टीम में कोई कमजोर पक्ष नजर नहीं आता।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned