टीम इंडिया के पूर्व कोच पैडी अप्टन ने खिलाड़ियों को दी थी ऐसी अजीब सलाह, आग बबूला हो गए थे गैरी कर्स्टन

पैडी अप्टन का कहना है कि उन्होंने टीम इंडिया के खिलाड़ियों को जो सलाह दी थी, वह मात्र सुझाव था। जब गैरी कर्स्टन को इस बात की भनक लगी तो वे आग बबूला हो गए थे।

By: Mahendra Yadav

Published: 03 Jul 2021, 10:52 AM IST

किसी भी मुकाबले से पहले टीम को जीतने के लिए ट्रेनिंग और अभ्यास कराया जाता है। इसमें कोच की भूमिका अहम होती है। लेकिन भरतीय क्रिकेट टीम के कोच ने खिलाड़ियों को एक बार बड़ी अजीब सलाह दी थी। इस घटना का खुलासा खुद कोच ने अपनी किताब में किया है। दरअसल, टीम इंडिया के पूर्व मेंटल एंड कंडीशनिंग कोच रहे पैडी अप्टन ने मैच से पहले टीम इंडिया के खिलाड़ियों को शारीरिक संबंध बनाने की सलाह दी थी। इस बात का खुलासा पैडी अप्टन ने अपनी किताब 'द बेययफुट कोच' में किया है।

नाराज हो गए थे गैरी कर्स्टन
पैडी अप्टन ने अपनी किताब में लिखा है कि टीम इंडिया को दी गई इस सलाह से तत्कालीन हेड कोच गैरी कर्स्टन काफी नाराज हो गए थे। हालांकि बाद में पैडी ने उनसे इस बारे में माफी भी मांग ली थी। वर्ष 2011 गैरी कर्स्टन की कोचिंग में ही भारत ने वनडे वर्ल्ड कप जीता था। वहीं पैडी अप्टन का कहना है कि उन्होंने टीम इंडिया के खिलाड़ियों को जो सलाह दी थी, वह मात्र सुझाव था। जब गैरी कर्स्टन को इस बात की भनक लगी तो वे आग बबूला हो गए थे। पैडी अप्टन टीम इंडिया के पूर्व मेंटल एंड कंडीशनिंग कोच रहने के साथ साथ अप्टन राजस्थान रॉयल्स के कोच भी रह चुके हैं।

यह भी पढ़ें— धोनी फेवरेट कप्तान उनके लिए तो गोली भी खा सकते हैं: के.एल राहुल

paddy_upton_garry__curston.png

पैडी ने मानी गलती
बाद में पैडी अप्टन को अपनी इस सलाह पर गलती का अहसास हुआ। उन्होंने माना कि उन्हें ऐसा नहीं करना चाहिए था। वहीं अप्टन ने अपनी किताब में राहुल द्रविड़ और गौतम गंभीर जैसे खिलाड़ियों का नाम लिया है। उन्होंने लिखा कि चैंपियंस ट्रॉफी के दौरान उन्होंने खिलाड़ियों के लिए नोट्स तैयार करते हुए शारीरिक संबंध के विषय पर जानकारी साझा की थी। अप्टन ने किताब के अध्याय ‘ईगो एंड ग्रेटेस्ट प्रोफेशनल एरर’ में अपने उन नोट्स का जिक्र किया।

यह भी पढ़ें— श्रीलंका दौरे पर गई भारतीय टीम को राणातुंगा ने दूसरे स्तर की टीम करार दिया

राहुल द्रविड़ की तारीफ की
इसके अलावा अप्टन ने राहुल द्रविड की तारीफ की। उनका कहना है कि द्रविड़ ऐसे क्रिकेटर रहे हैं जो युवा खिलाड़ियों को हमेशा आगे बढ़ाते हैं और उनकी छवि पर कोई सवाल नहीं खड़े कर सकता। साथ ही उन्होंने कहा कि राहुल द्रविड अपने पूरे कॅरियर में किसी विवाद का भी हिस्सा नहीं रहे। पैडी अप्टन का मानना है कि दुनियाभर की टीमें खिलाड़ियों को सिर्फ प्रतिभा के आधार पर नहीं बल्कि उनके सरल चरित्र के आधार पर भी चुनती हैं।

Mahendra Yadav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned