N Srinivasan ने किया खुलासा MS Dhoni ने बेहद शानदार खिलाड़ी को CSK में लेने से कर दिया था मना

N Srinivasan ने कहा कि Team India टीम इंडिया के पूर्व कप्तान Mahendra Singh Dhoni की कामयाबी के बारे में जो कुछ भी कहा जाता है, वह आंकड़ों पर आधारित है।

By: Mazkoor

Updated: 04 Aug 2020, 05:32 PM IST

नई दिल्ली : भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) के पूर्व अध्यक्ष एन श्रीनिवासन (N Srinivasan) ने महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) से जुड़े एक वाकये को याद करते हुए बताया कि किस तरह उन्होंने एक बेहद शानदार खिलाड़ी को चेन्नई सुपर किंग्स (Chennai Super Kings) में लेने से यह कहते हुए मना कर दिया था कि इसके आने से टीम की एकजुटता को नष्ट हो जाएगी। चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) के मालिक श्रीनिवासन ने कहा कि वह एक बेहद शानदार खिलाड़ी को टीम में लेना चाहते थे। उन्होंने धोनी को इस बारे में सुझाव दिया तो उन्होंने कहा, नहीं सर उसे नहीं, वह टीम की एकता बरबाद कर देगा। हमारे लिए टीम की एकजुटता अहम है।

IPL 2020 : UAE में होने के बावजूद ब्रांड वैल्यू पर असर पड़ने की उम्मीद नहीं, यह है कारण

धोनी बोले, फ्रेंचाइजी आधारित गेम के लिए यह बेहद जरूरी

श्रीनिवासन ने बताया कि महेंद्र सिंह धोनी ने उनसे कहा था कि फ्रेंचाइजी अधारित गेम के लिए एकजुटता बहुत जरूरी है। आप अमरीका में देखिए वहां फ्रेंचाइजी आधारित गेम लंबे समय से चल रहे हैं। वहीं भारत में अभी इसकी शुरुआत हुई है। हालांकि श्रीनिवासन ने साथ में यह भी कहा कि लेकिन इंडिया सीमेंट्स (India Cements) में हमें जूनियर लेवल पर टीम के साथ काम करने का पहले से अनुभव है। बता दें कि श्रीनिवासन इंडिया सीमेंट्स के मालिक हैं और इंडिया सीमेंट्स कंपनी के पास ही चेन्नई सुपर किंग्स का स्वामित्व है।

बढ़ेगा Rahul Dravid का कद, NCA Chief के अलावा कोविड-19 टॉस्क फोर्स चीफ की मिलेगी जिम्मेदारी

श्रीनिवासन बोले, धोनी प्रतिभा पर यकीन करते हैं

एन श्रीनिवासन के साथ महेंद्र सिंह धोनी के रिश्ते काफी अच्छे हैं। उन्होंने कहा कि टीम इंडिया के पूर्व कप्तान की कामयाबी के बारे में जो कुछ भी कहा जाता है, वह आंकड़ों पर आधारित है। एक उदाहरण के लिए आप देखिए, हर टी-20 टीम में गेंदबाजी कोच होते हैं। जब टीम किसी के खिलाफ उतरती है तो वह विपक्षी टीम के सारे बल्लेबाजों का वीडियो देखती है। कोच देखते हैं कि सामने वाले कि क्या ताकत और कमजोरी है। लेकिन धोनी इसमें शामिल नहीं होते। वह शुद्ध रूप से सहज प्रतिभा पर विश्वास करते हैं। श्रीनिवासन ने कहा कि इस बैठक में गेंदबाजी कोच (Bowling Coach) के साथ मुख्य कोच स्टीफन फ्लेमिंग (Stephen Fleming) हर समय मौजूद होते हैं। हर व्यक्ति अपनी राय देता है, मगर धोनी इसमें शामिल नहीं होते। वह मैदान पर ही खिलाड़ियों को जज करते हैं। श्रीनिवासन ने कहा कि किसी भी खिलाड़ी के बारे में मौजूदा वक्त में इतना डेटा उपलब्ध होता है कि डेटा और सहजता के बीच लकीर खींचना आसान नहीं होता।

Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned