Zak Crawley ने पाकिस्तान के खिलाफ खेली ऐतिहासिक पारी, बनाए कई रिकॉर्ड्स

Zak Crawley ने अपनी इस पारी की बदौलत उन्होंने न सिर्फ इंग्लैंड को विशालकाय स्कोर तक पहुंचाया, बल्कि निजी रिकॉर्डों की भी झड़ी लगा दी।

By: Mazkoor

Updated: 23 Aug 2020, 02:34 AM IST

नई दिल्ली : पाकिस्तान के खिलाफ इंग्लैंड (Pakistan vs England) के युवा बल्लेबाज जैक क्रॉवले (Zak Crawley) ने तीसरे टेस्ट मैच की पहली पारी में अपने करियर के पहले शतक को ही दोहरे स्कोर में बदल दिया। इतने पर ही वह नहीं रुके। इसके बाद ढाई सौ के स्कोर को पार किया और मजबूती से तिहरे शतक की ओर बढ़ रहे थे कि इंग्लैंड की पारी का रन गति तेज करने के चक्कर में यासिर शाह (Yasir Shah) की गेंद पर 267 रन पर स्टंप हो गए और अपने पहले ही शतक को तिहरे शतक में बदलने से चूक गए। हालांकि अपनी इस पारी की बदौलत उन्होंने न सिर्फ इंग्लैंड को विशालकाय स्कोर तक पहुंचाया, बल्कि निजी रिकॉर्डों की भी झड़ी लगा दी।

टेस्ट चैम्पियनशिप में दोहरा शतक लगाने वाले इंग्लैंड के पहले बल्लेबाज

पाकिस्तान के विरुद्ध टेस्ट सीरीज के अंतिम मैच में जैक क्रॉवले ने अपने टेस्ट करियर का पहला शतक लगाया। वह भी दोहरा शतक। यह दोहरा शतक उनके करियर के 8वें टेस्ट मैच में ही आ गया। अपनी 267 रन की पारी में क्रॉवले ने 34 चौके और एक सिक्स लगाया। इस दोहरे शतक के साथ ही इंग्लैंड की ओर से विश्व टेस्ट चैंपियनशिप में दोहरा शतक लगाने वाले वह पहले खिलाड़ी बने। इंग्लैंड की ओर से टेस्ट चैम्पियनशिप में रोरी बर्न्स ने पहला शतक लगाया था तो पहली बार 150 रन से अधिक की हरफनमौला बेन स्टोक्स ने खेली थी, जबकि 200 और 250 रन से अधिक की पारी पहली बार इसी पारी में क्रॉवले ने लगाया।

IPL 2020 से पहले Ricky Ponting करेंगे R Ashwin से चर्चा, मुख्य कोच बोलें- माननी होगी बात

टेस्ट चैम्पियनशिप में दोहरा शतक लगाने वाले सातवें बल्लेबाज

अगर विश्व टेस्ट चैंपियनशिप में दोहरा शतक लगाने वाले दुनियाभर के बल्लेबाजों की बात की जाए तो उनमें जैक क्रॉवले सातवें स्थान पर हैं। टेस्ट चैम्पियनशिप में इससे पहले तीन दोहरा शतक भारत की ओर से और इतने ही ऑस्ट्रेलिया की ओर से लग चुका है।सबसे पहला दोहरा शतक ऑस्ट्रेलिया के स्टीव स्मिथ (Steve Smith) ने लगाया है। उनके अलावा मार्नस लाबुशाने (Marnus Labuchagne) और डेविड वॉर्नर (David Warner) भी यह कारनामा दोहरा चुके हैं, जबकि भारत की ओर से मयंक अग्रवाल (Mayank Agarwal), विराट कोहली (Virat Kohli) और रोहित शर्मा (Rohit Sharma) भी यह कमाल कर चुके हैं।

दोहरा शतक लगाने वाले तीसरे युवा

इतना ही नहीं, इंग्लैंड की ओर से टेस्ट क्रिकेट में दोहरा शतक लगाने वाले जैक क्रॉवले तीसरे सबसे युवा खिलाड़ी बने। इंग्लैंड की तरफ से सबसे कम उम्र में दोहरा शतक लगाने का कमाल साल 1938 में लेन हटन ने किया था। उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ ओवल में 364 रन की जब पारी खेली थी, तब वह 22 साल 60 दिन के थे। वहीं दूसरे नंबर पर बाएं हाथ मध्यक्रम के पूर्व स्टाइलिश बल्लेबाज डेविड गॉवर हैं। उन्होंने 1979 में भारत के खिलाफ एजबेस्टन में नाबाद 200 रन की पारी खेली थी। अब इस लिस्ट में तीसरे नंबर पर जैक क्रॉवले हैं। उन्होंने आज 22 साल 201 दिन में पाकिस्तान के खिलाफ 267 रन की पारी खेली। वहीं इस लिस्ट में चौथे नंबर पर बी एडरिच हैं, उन्होंने 1938-39 में जब दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ डरबन में 219 रन की पारी खेली थी, तब वह 22 साल 352 दिन के थे।

क्रॉवले बोले, 91 रन पर घबरा रहे थे

जैक क्रॉवले ने कहा कि जब वह लगभग 91 रन पर पहुंचे, तब से शतक लगाने तक वह सच में नर्वस थे। उन्होंने कहा कि हालांकि जोस बटलर इसका पता नहीं चला। इसकी वजह शायद यह थी कि वह अपनी घबराहट अच्छे से छिपा रहे थे। क्रॉवले ने कहा कि जोस के साथ बल्लेबाजी करना आसान है। वह बहुत शांत दिमाग के हैं और आपको हमेशा सतर्क रहने के लिए कहते हैं। क्रॉवले ने कहा कि हम अच्छी साझेदारी बनाने में कामयाब रहें। क्रिकेट के मैदान पर यह उनका सबसे सुखद अहसास है। उम्मीद है कि ऐसा और होगा।

Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned