सबसे वफादार साथी के लिए हैवान बने इंसान, महाराष्ट्र में रस्सी से बंधे 90 'कुत्ते' मरे मिले

सबसे वफादार साथी के लिए हैवान बने इंसान, महाराष्ट्र में रस्सी से बंधे 90 'कुत्ते' मरे मिले
,,

Amit Kumar Bajpai | Updated: 08 Sep 2019, 11:00:16 PM (IST) क्राइम

  • जंगल के आसपास मिले 100 कुत्ते, जिनमें 90 मर चुके थे
  • सभी कुत्तों की टांगें रस्सी से बंधी हुई थीं
  • पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर जांच चालू की

मुंबई। महाराष्ट्र से हैवानियत की हद पार करने वाली खबर सामने आ रही है। यहां के बुलधाना जिले के जंगल में 90 मरे हुए कुत्ते पड़े मिले हैं, जिनकी टांगें रस्सी से बंधी हुई थीं। पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक एक अधिकारी ने बताया कि यह घटना पूर्वी महाराष्ट्र के एक वन क्षेत्र की है। यहां के गिरदा-सावलदाबारा मार्ग पर कई जगह मरे हुए कुत्ते पड़े मिले।

जानकर हैरान रह जाएंगे चंद्रयान-2 के प्रज्ञान का विज्ञान, देखें वीडियो

उन्होंने आगे बताया कि पांच अलग-अलग स्थानों पर 100 से ज्यादा कुत्ते पड़े मिले। इनमें से 90 कुत्ते मरे हुए थे, जबकि कुछ जीवित थे। लोगों को इस घटना का पता तब चला जब इनकी बदबू आसपास फैली।

अधिकारी ने आगे बताया कि बदबू से परेशान होने पर गांव वाले नजदीकी पुलिस चौकी पहुंचे। इसके बाद वन विभाग को घटना की जानकारी दी गई।

जब पुलिस और वन विभाग के अधिकारियों ने मौके पर जाकर देखा तो उनके होश उड़ गए। फिर उन्होंने इलाका तलाशा तो उन्हें कुछ कुत्ते जिंदा मिले, जिन्हें उन्होंने रस्सी से छुड़ाया।

इसके बाद रविवार को पशु क्रूरता निषेध अधिनियम 1960 और भारतीय दंड संहिता की विभिन्न धाराओं के अंतर्गत अज्ञात लोगों के खिलाफ फॉरेस्ट गार्ड की शिकायत पर मुकदमा दर्ज किया गया।

अधिकारी के मुताबिक इन कुत्तों की मौत की असल वजह तभी पता चल सकेगी जब इनका पोस्टमार्टम हो जाएगा।

अधिकारी ने बताया कि वह कुत्ते पकड़ने वालों से पूछताछ कर रहे हैं ताकि इसकी वजह पता चल सके। वहीं, उन्होंने शक जताया कि संभवता आवारा कुत्तों को शहर में पकड़कर मारा गया होगा और उनकी बॉडी को जंगली क्षेत्र में फेेंक दिया गया होगा।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned