सुसाइड केस में बड़ा खुलासा, पत्नी ने पत्र में लिखा- पति की प्रेमिका की 'आत्मा' से थी परेशान

अहमदाबाद सुसाइड केस में नया मोड़ आता जा रहा है। नए नए सुसाइड नोट से कई राज खुल रहे हैं।

 

Prashant Kumar Jha

September, 1309:09 PM

क्राइम

नई दिल्ली: अहमदाबाद में एक ही परिवार के तीन सदस्यों की आत्महत्या करने के मामले में बड़ा खुलासा हुआ है। सुसाइड नोट में पति की प्रेमिका की आत्मा परेशान करने का जिक्र किया गया है। दरअसल, पुलिस को कुणाल त्रिवेदी के घर से उनकी पत्नी कविता के हाथ से लिखा एक सुसाइड नोट बरामद हुआ। पत्नी ने सुसाइड नोट में लिखा कि कुणाल की एक प्रेमिका थी। जिससे वह शादी करना चाहता था। लेकिन किसी कारणवश दोनों की शादी नहीं हो पायी। इसी के चलते उस लड़की ने आत्महत्या कर ली थी। कुणाल भी इसको लेकर परेशान रह रहा था। लेकिन कुणाल की प्रेमिका की आत्मा आए दिन मुझे परेशान करती थी।" कविता ने अपने सुसाइड नोट में आगे लिखा "उसने अपना बंग्लो एक करोड़ रुपए में बेचा दिया था और पति पत्नी ने उस पैसे को बांट लिया था। मैं अपना पैसा आपको दे रही हूं। आज दिन तक मैंने जो भी बचत की है, वो श्रीन बेटी के लिए है। लेकिन श्रीन को मैं अपने साथ ले जा रही हूं। वो हिस्सा भी मैं आपको देना चाहती हूं।"

कुणाल और कविता में होता था विवाद

अहमादाबाद के डीसीपी का कहना है कि कुणाल और कविता ने बहुत पहले ही सुसाइड प्लान तैयार कर लिया था। इसकी तैयारी भी पूरी हो चुकी थी। 8 सितंबर को कविता ने अपनी बहन के घर ड्राइवर के हाथ तीन बैग भेजे। जिसमें कपड़े, सोने के गहने और नकद रुपए थे। उसी बैग में कविता की लिखी गई ये चिठ्ठी मिली। वहीं कुणाल की मां का कहना है कि कुणाल गुस्से वाला इंसान था। वह हमेशा अपनी प्रेमिका का नाम लेकर कविता के साथ झगड़ा करता था।

ये भी पढ़ें: अहमदाबाद सोसाइड केसः इस वजह से बच गई कुणाल की मां, नहीं रहती थी बेटे की इस बात से खुश

कविता ने दर्द बयां किया

सुसाइड नोट में कविता ने आत्मा का जिक्र करते हुए आगे लिखा कि "ना तो वो मारना चाहती है और ना ही वो जीने देना चाहती है। जिस वजह से काफी सोचने के बाद ये कदम उठा रहे हैं। कभी आपने ऐसा सोचा है कि इंसान को इतनी तकलीफ आ सकती है। हर दो चार दिन में एक नई बात सुनने को मिलती है। और वह हमें शांति से जीने नहीं देना चाहती है। दुनिया इस बात को नहीं समझेगी उल्टा पागल कहेगी। इसलिए हम सब साथ जा रहे हैं। कुणाल की और से कोई जबरदस्ती नहीं है, मैंने बहुत सोचने के बाद ही ये फैसला किया है।

कुणाल ने परिवार के साथ की थी सामूहिक आत्महत्या

 

आपको बता दें कि परिवार के मुखिया कुणाल त्रिवेदी अपने परिवार के साथ नरोदा के अवनी स्काई में किराए के फ्लैट में रहते थे। 45 वर्षीय कुणाल खुद को फांसी लगाई थी। जबकि उसकी पत्नी कविता और 16 वर्षीय बेटी श्रीन की लाश घर में पड़ी मिली थीं। वहीं कुणाल की मां पर जहर का असर नहीं हुआ था। फिलहाल कुणाल की मां अस्पताल में भर्ती है। दरअसल कुणाल की मां ने अपने बेटे की आदत से परेशान थी और वो बेटे को हमेशा तंत्र-मंत्र और काला जादू से दूर रहने की बात कहती थी। कुणाल ने खुद इस बात का खुलासा अपने सुसाइड नोट में किया था।

prashant jha
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned