दाती महाराज के बाद एक और बाबा गिरफ्तार, बीमार बच्ची के साथ किया घिनौना काम

दाती महाराज के बाद एक और बाबा गिरफ्तार, बीमार बच्ची के साथ किया घिनौना काम

Kaushlendra Pathak | Publish: Sep, 03 2018 01:14:00 PM (IST) क्राइम

पुलिस ने एक और बाबा को छेड़छाड़ के आरोप में गिरफ्तार किया है।

नई दिल्ली। आसाराम, राम रहीम और दाती महाराज के बाद अब एक और बाबा के बारे में चौंकाने वाला खुलासा हुआ है। बाबा नब्बे भगत उर्फ नवाब सिंह पर यौन शोषण का संगीन आरोप लगा है। दिल्ली पुलिस ने दक्षिण दिल्ली स्थित एक आश्रम से नाबालिग लड़की से छेड़छाड़ के आरोप में नवाब सिंह को गिरफ्तार किया है।

बीमारी लड़की के साथ किया घिनौना काम


डीसीपी (साउथ) विजय कुमार के मुताबिक, आरोपी का नाम बाबा नब्बे भगत उर्फ नवाब सिंह (42 साल) है और वह भाटी खुर्द गांव का रहने वाला है। बाबा पिछले 10 सालों से अपना आश्रम चला रहा है। उन्होंने बताया कि पुलिस को 17 अगस्त को शिकायत मिली थी जिसके बाद बाबा की गिरफ्तारी की गई है। डीसीपी का कहना है कि लड़की की मां ने डाक के जरिए पुलिस को बाबा के खिलाफ शिकायत भेजी थी। उसने खत में बताया है कि उसकी बेटी का बाबा ने शोषण किया। अपनी शिकायत में मां ने बताया कि उसकी बेटी बीमार थी तो वह 14 अगस्त को उसे बाबा के आश्रम में ले गई थी ताकि बच्ची को बाबा का आशीर्वाद मिल सके। उसने पुलिस को बताया कि आश्रम पहुंचने पर महिला को बाजार से कुछ सामान लाने के लिए भेज दिया गया और बेटी को यहीं छोड़ने के लिए कहा गया। जब वह लौटी तो हैरान रह गई कि उसकी बेटी बाबा की गोद में बैठी थी और वह कथित तौर पर उसे गलत तरीके से छू रहा था। महिला ने बताया कि जैसे ही उसने बाबा यह हरकत करते देखा, वह जोर से बाबा पर चिलाई और पुलिस में शिकायत करने की बात कही। लेकिन, बाबा उल्टा महिला को अंजाम भुगतने की धमकी देने लगा। डर के कारण महिला सीधे पुलिस के पास नहीं गई। उसने चिट्ठी के जरिए अपनी शिकायत पुलिस से की।

पुलिस गिरफ्तर में आरोपी बाबा

शिकायत मिलने के बाद पुलिस ने तुरंत कार्रवाई शुरू कर दी। पहले तो महिला को ढूंढा गया, लेकिन महिला को कोई पता नहीं चला। उसके बाद महिला के किसी रिश्तेदार ने पुलिस से सारी सच्चाई बताई। इसके बाद पुलिस की टीम 30 अगस्त को बाबा के नाम आईपीसी की धारा 354 और पॉक्सो एक्ट के सेक्शन 8 के तहत फतेहपुर बेरी थाने में एफआईआर दर्ज की गई। पुलिस ने यह भी बताया कि आरोपी बाबा को शनिवार को उसके घर से गिरफ्तार करने से पहले पीड़िता का मजिस्ट्रेट के सामने सीआरपीसी की धारा 164 के अंतर्गत बयान दर्ज कराया गया। फिलहाल,पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर कोर्ट के सामने पेश किया जहां उसे 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया।

Ad Block is Banned