दिल्ली के बदरपुर इलाके में 7वीं क्लास के बच्चे पर ब्लेड से हमला, सीट को लेकर हुआ था विवाद

दिल्ली के बदरपुर इलाके में 7वीं क्लास के बच्चे पर ब्लेड से हमला, सीट को लेकर हुआ था विवाद

Kapil Tiwari | Publish: Jul, 14 2018 08:49:20 AM (IST) क्राइम

घटना बदरपुर के केंद्रीय विद्यालय की है। छात्रों के बीच सीट को लेकर विवाद हुआ था।

नई दिल्ली। राजधानी दिल्ली में अपराध दिनोंदिन बढ़ता ही जा रहा है और पुलिस इस पर लगाम लगाने में नाकामयाब है। चौंकाने वाली बात ये है कि राजधानी दिल्ली में आपराधिक वारदातों को अंजाम देने वालों में नाबालिगों की संख्या बढ़ती ही जा रही है। हैरान कर देने वाला एक मामला दक्षिणी दिल्ली के बदरपुर इलाके से सामने आया है, जहां एक 7वीं क्लास के छात्र पर उसके दोस्तों ने ही ब्लेड से हमला कर दिया। पीड़ित छात्र पर ब्लेड से कितनी बेरहमी से वार किया गया है, वो इन तस्वीरों को देखकर अंदाजा लगाया जा सकता है।

सीट को लेकर विवाद में ब्लेड से किया हमला
न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक, बदरपुर के केंद्रीय विद्यालय की ये घटना है, जहां स्कूल में सीट को लेकर 2 छात्रों के बीच विवाद हो गया। झगड़ा इस कदर बढ़ गया कि क्लास के बाद कुछ छात्रों ने अपने ही क्लासमेट पर ब्लेड से हमला कर दिया। पीड़ित छात्र का आरोप है कि स्कूल के टीचर्स ने बात इतनी बढ़ने के बावजूद दोषी छात्रों पर कोई कार्रवाई नहीं की है। मामला पुलिस तक पहुंच गया है, लेकिन पुलिस ने अभी खबर मिलने तक कोई कार्रवाई नहीं की है। हालांकि पुलिस मामले की छानबीन जरूर कर रही है।

 

स्कूल प्रशासन और पुलिस के हाथ हैं खाली
घटना शुक्रवार की है। सीट को लेकर हुए विवाद में छात्रों के एक ग्रुप ने बदले की मंशा से इस वारदात को अंजाम दिया। बदले में छात्रों के ग्रुप ने पीड़ित की कमर पर ब्लेड से वार कर दिया। आरोपी छात्रों ने अपने ही क्लासमेट पर इस कदर ब्लेड से वार किया कि उसकी कमर पर करीब 1 से डेढ़ फीट लंबा ब्लेड का जख्म साफ देखा जा सकता है। बच्चे की कमरी को देखकर अंदाजा लगाया जा सकता है कि ब्लेड कितना धारदार था।

पिछले साल 7 साल के प्रद्युमन की हुई थी हत्या
स्कूल में छात्रों के बीच इस तरह की घटनाएं कोई नई बात नहीं है। बीते साल सितंबर के महीने में गुड़गांव के रेयान इंटरनेशनल स्कूल में भी ऐसी ही एक दिल दहला देने वाली वारदात हुई थी, जहां 7 साल के एक मासूम बच्चे की हत्या कर दी गई थी। आरोपी उसी के साथ का एक नाबालिग था, जिसने स्कूल को बंद कराने के लिए इस हत्या को अंजाम दिया था।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned