दिल्लीः सिपाही की घिनौनी हरकत, काउंसलिंग के बहाने किशोरी से किया दुष्कर्म

दिल्लीः सिपाही की घिनौनी हरकत, काउंसलिंग के बहाने किशोरी से किया दुष्कर्म

Dhiraj Kumar Sharma | Updated: 20 Sep 2019, 03:17:44 PM (IST) क्राइम

  • दिल्ली में एक बार फिर खाकी पर लगा दाग
  • किशोरी को काउंसलिंग के बहाने ले गया सिपाही फिर कर डाला दुष्कर्म
  • परिजनों की शिकायत के बाद भी दर्ज नहीं हो रहा था केस

नई दिल्ली। दिल्ली पुलिस के दामन को उनके ही एक सिपाही ने दागदार कर दिया है। खाकी का घिनौना रूप सामने आया है। दरअसल उत्तर-पूर्वी दिल्ली के न्यू उस्मानपुर इलाके में अगवा होने के बाद घर पहुंची 16 वर्षीय किशोरी ने दिल्ली पुलिस के एक सिपाही पर बड़ा आरोप लगाया है।

युवती के मुताबिक काउंसलिंग के बहाने सिपाही उसे अपने साथ बाइक पर यमुना खादर ले गया।

आरोपित ने वहां किशोरी के साथ दुष्कर्म किया।

वारदात के बाद आरोपित ने कुछ रुपये देकर पीड़िता को जुबान बंद रखने के लिए धमकाया।

बाद में वह किशोरी को घर के पास छोड़कर फरार हो गया।

चंद्रयान-2: लैंडर विक्रम को लेकर ISRO चीफ के सिवन ने कर दिया बड़ा ऐलान, अब होने वाला है करिश्मा!

rape_2.jpg

यह है पूरा मामला
भले ही खाकी कानून की हिफाजत के लाख दावे करती हो लेकिन कई बार ऐसा देखने को मिला है कि पुलिस के अपनी सिपाही उसे दाग लगाने में कोई कसर नहीं छोड़ते।

ताजा मामला तो कुछ ऐसा ही इशारा कर रहा है।

देश की राजधानी दिल्ली में खाकी को तार तार कर देने वाली खबर ने हर किसी के होश उड़ा दिए हैं।

युवती के साथ काउंसलिंग के नाम पर दरिंदगी करने वाले सिपाही को लेकर हर किसी में गुस्सा है।

हद तो तब हो गई जब युवती का परिवार किशोरी को लेकर न्यू उस्मानपुर थाने पहुंचा तो वहां उनकी सुनवाई नहीं हुई।

स्थानीय लोगों को जब वारदात की जानकारी हुई तो उन्होंने थाने का घेराव किया।

कई घंटे चली नारेबाजी के बाद पुलिस अधिकारी नींद से जागे और उन्होंने कार्रवाई का आश्वासन देकर लोगों को शांत करवाया।

पुलिस ने पीड़िता के बयान पर दुष्कर्म और पॉक्सो के तहत केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

सिपाही को हिरासत में लेकर उससे पूछताछ की जा रही है।

वरिष्ठ पुलिस अधिकारी आरोपित सिपाही विश्राम के खिलाफ सख्त एक्शन की बात कर रहे हैं।

पीड़िता परिवार के साथ ब्रह्मपुरी इलाके में रहती है। परिवार में माता-पिता व अन्य सदस्य हैं।

पीड़िता ने दसवीं के बीच में ही पढ़ाई छोड़ दी थी। चार दिन पूर्व इलाके में रहने वाला एक लड़का पीड़िता को बहला-फुसलाकर अपने साथ ले गया। परिवार अपने स्तर पर पीड़िता की तलाश करता रहा।

जिस लड़के पर परिवार को शक था, उन्होंने उसके परिवार से भी संपर्क कर पीड़िता की जानकारी मांगी।

इस बीच मंगलवार रात को पीड़िता खुद ही अपने घर वापस लौट आई।

काफी विचार करने के बाद परिवार ने बुधवार रात पीड़िता को अगवा कर ले जाने वाले युवक की शिकायत करने का मन बनाया और वह थाने पहुंच गये।

delhi_4902249_835x547-m.jpg

आरोप है कि रातभर थाने में बिठाने के बाद भी पुलिस ने उनकी सुनवाई नही की।

इसके बदा न्यू उस्मानपुर थाने का सिपाही विश्राम पीड़िता को काउंसलिंग कराने की बात कर अपने साथ बाइक पर बिठाकर ले गया।

इस बीच पीछे-पीछे परिजन थाने पहुंचे तो पीड़िता थाने नही पहुंची थी। सिपाही को कॉल किया गया तो उसका नंबर बंद था।

परिवार वापस घर आ गया। इस बीच करीब 10.30 बजे पीड़िता रोते हुए घर पहुंची और उसने सारी बात परिवार को बताई।

पीड़िता का कहना था कि आरोपित सिपाही उसे तीसरे पुश्ते के जंगल में ले गया और वहां उसके साथ गलत काम किया।

गुरुवार शाम करीब चार बजे वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों के कहने पर पीड़िता का मेडिकल कराया गया। बाद में उसके बयान पर केस दर्ज कर सिपाही को हिरासत में ले लिया गया।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned