दिल्ली हिंसाः ताहिर हुसैन पर केस दर्ज, AAP ने किया निलंबित

  • आम आदमी पार्टी ने किया जांच पूरी होने तक निलंबित।
  • खजूरी खास इलाके में दिल्ली पुलिस की टीम ने फैक्ट्री में लगाई सील।
  • कथितरूप से ताहिर की छत से पत्थरबाजी-पेट्रोल बम फेंके गए।

Amit Kumar Bajpai

28 Feb 2020, 07:21 AM IST

नई दिल्ली। उत्तर-पूर्वी दिल्ली में भड़की हिंसा के बाद सामने आ रहे मौत के आंकड़ों के बीच आम आदमी पार्टी नेता ताहिर हुसैन पर दिल्ली पुलिस ने बड़ी कार्रवाई की है। ताहिर के खिलाफ दिल्ली पुलिस ने धारा 302 के तहत मामला दर्ज किया है। कथितरूप से हिंसा के लिए पत्थर-पेट्रोल बम जुटाए जाने के मामले की जांच को लेकर ताहिर हुसैन के घर और फैक्ट्री को सील कर दिया गया है। वहीं, आम आदमी पार्टी ने हुसैन को अस्थायी रूप से निलंबित कर दिया है।

दिल्ली हिंसा पर कन्हैया कुमार का बड़ा आरोप, जनता ने गोडसे को सरकार बनाया इसलिए ऐसा हो रहा है

आम आदमी पार्टी द्वारा इस संबंध में अपने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म ट्विटर पर जानकारी दी गई। आप ने लिखा, "दिल्ली हिंसा मामले में पार्षद ताहिर हुसैन को जांच पूरी होने तक आम आदमी पार्टी से निलंबित कर दिया है।"

वहीं, दिल्ली पुलिस के प्रवक्ता एमएस रंधावा ने कहा कि ताहिर हुसैन के मामलों की जांच चल रही है सबूत जुटाए जा रहे हैं और हम जल्दी ही एक्शन लेंगे। हम आपके साथ सभी तथ्य साझा करेंगे। रंधावा ने कहा कि हमारे पास बहुत सारे सबूत हैं जांच चल रही है। हम जल्दी आपके साथ साझा करेंगे।

दरअसल, उत्तर-पूर्वी दिल्ली के नेहरू विहार से आप पार्षद ताहिर हुसैन का नाम दंगों में उनके घर के जरिये हिंसा फैलाने में सामने आया। ताहिर हुसैन की इमारत का कथितरूप से इस्तेमाल उन्होंने दंगाइयों को पत्थरबाजी करने, पेट्रोल बम और तेजाब फेंकने के लिए करने की इजाजत दी।

रिपोर्टों के मुताबिक ताहिर खुद भी उस वक्त छत पर मौजूद रहे, जिस समय वहां से बम-पत्थर फेंके जा रहे थे। पुलिस ने अब ताहिर के घर और कारखाने को सील कर दिया है।

वहीं, आप के बागी विधायक और भारतीय जनता पार्टी के मौजूदा नेता कपिल मिश्रा ने ताहिर हुसैन पर हिंसा फैलाने के साथ ही इंटेलीजेंस ब्यूरो के सिक्योरिटी असिस्टेंट अंकित शर्मा की हत्या में संलिप्त रहने का आरोप लगाया। बुुधवार से लेकर बृहस्पतिवार तक कपिल मिश्रा तमाम ट्वीट और वीडियो के जरिये ताहिर हुसैन को अंकित शर्मा का हत्यारोपी करार देते रहे।

दिल्ली हिंसा में IB कर्मचारी अंकित शर्मा की मौत को लेकर हुआ बड़ा खुलासा, दिल्ली पुलिस सवालों के घेरे में

जबकि तमाम मीडिया रिपोर्ट्स और न्यूज चैनलों की कवरेज के दौरान भी ताहिर हुसैन के घर के भीतर और छत से भारी मात्रा में जुटाए गए पत्थर, पेट्रोल बम, गुलेल और तेजाब के अलावा काफी आपत्तिजनक सामान मौजूद दिखाया। कई वीडियो भी दिखाए गए जिनमें ताहिर हुसैन के घर की छत से दंगाई पत्थरबाजी करते और पेट्रोल बम फेंकते दिखाई दे रहे थे।

बृहस्पतिवार शाम को दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच ने उत्तर-पूर्वी इलाके में हुई हिंसा की जांच के लिए दो विशेष जांच दल (SIT) का गठन किया। क्राइम ब्रांच की इन दो स्पेशल इंवेस्टीगेशन टीमों को डीसीपी जॉय टिर्की और डीसीपी राजेश देव के नेतृत्व में गठित किया गया है।

मौजपुर का एक खतरनाक वीडियो आया सामने, एनएसए अजीत डोभाल ने लगाई दिल्ली पुलिस स्पेशल सीपी की क्लास

गठन के साथ ही इन दोनों एसआईटी ने तुरंत जांच संभाल ली और अब तक इस मामले में दर्ज की गईं सभी एफआईआर इन्हें ट्रांसफर कर दी गईं। दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच के एडिशनल कमिश्नर बीके सिंह इन दोनों टीमों को सुपरवाइज करेंगे।

गौरतलब है कि आईपी कर्मी अंकित शर्मा के पिता रविंदर कुमार ने आरोप लगाया था कि ताहिर राष्ट्र-विरोधी है। जब अंकित पत्थरबाजी होने वाले चांद बाग इलाके की जगह गया, ताहिर की इमारत से करीब 15-20 लोग आए और 5-6 लोगों को इमारत के अंदर ले गए। जिन लोगों ने इन्हें बचाने की कोशिश की, उनपर गोलियां भी चलाईं। लोग उसकी इमारत से पत्थरबाजी कर रहे थे। अंकित पर चाकू से हमला किया गया।

bjp leader AAP
Show More
अमित कुमार बाजपेयी
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned