युवक ने फांसी लगाकर की आत्महत्या, SHO को ठहराया जिम्मेदार

युवक ने फांसी लगाकर की आत्महत्या, SHO को ठहराया जिम्मेदार

Anil Kumar | Publish: Oct, 13 2018 08:08:43 PM (IST) | Updated: Oct, 13 2018 08:08:44 PM (IST) क्राइम

एक शख्स ने अपनी आत्महत्या के लिए एक एसएचओ को जिम्मेदार ठहराया है।

नई दिल्ली। राजधानी दिल्ली से रुह कंपा देने वाली एक घटना सामने आई है। दरअसल एक शख्स ने अपनी आत्महत्या के लिए एक एसएचओ को जिम्मेदार ठहराया है। इस घटना के बाद अब इलाके में हंगामा खड़ा हो गया है। बता दें कि मामला कोटला मुबारकपुर का है जहां पर एक युवक ने अपने घर में फंदा लगाकर आत्महत्या कर लिया। मृतक की बहन ने बताया है कि मरने से पहले उसके भाई ने दीवार पर एक नोट लिखा है। जिसमें उन्होंने अपनी मौत के लिए कोटला थाने के एसएचओ को जिम्मेदार ठहराया है। अब इस तरह के आरोप लगने के बाद पूरा पुलिस महकमे में हड़कंप मचा है।

दिल्ली: जिम जा रही दो लड़कियों को बंदूक की नोक पर लूटा बदमाशों ने लूटा, सीसीटीवी में कैद हुई वारदात

जांच में जुटी पुलिस

आपको बता दें कि इस घटना को लेकर डीसीपी विजय कुमार ने कहा है कि पूरे घटना की जांच की जा रही है। इस घटना की गंभीरता को देखते हुए इसकी जांच कोटला मुबारकपुर थाने क एसएचओ के बजाए ग्रेटर कैलाश थाने के एसएचओ को दे दी गई है। बता दें कि मृतक की पहचान 20 वर्षीय सुदीप के रूप में हुई है। मृतक की बहन का आरोप है कि उसके भाई को कोटला थाने के एसएचओ परेशान करते थे। इससे डरकर शुक्रवार की रात को आत्महत्या कर लिया। इधर पुलिस का कहना है कि मृतक के खिलाफ लूटपाट के कई मामले दर्ज हैं। जो कि अभी विचाराधीन है। शुक्रवार को भी साकेत कोर्ट में सुनवाई हुई थी जहां पर सुदीप के पिता भी मौजूद थे। फिलहाल आगे की जांच की जा रही है।

Ad Block is Banned