सूरत में बिहार के युवक की मौत: परिजन बोले हत्या, पुलिस ने कहा- रोड एक्सीडेंट में मौत

सूरत में बिहार के युवक की मौत: परिजन बोले हत्या, पुलिस ने कहा- रोड एक्सीडेंट में मौत

Kapil Tiwari | Publish: Oct, 13 2018 09:03:37 PM (IST) क्राइम

गुजरात के सूरत में बिहार के युवक की हत्या हो गई थी। परिवार ने हत्या का आरोप लगाया था, जबकि पुलिस ने रोड एक्सीडेंट में मौत का खुलासा किया है।

सूरत। गुजरात के सूरत में बिहार के जिस युवक की मॉब लिचिंग की खबर शनिवार को मीडिया में सामने आई उसे पुलिस ने नकार दिया है। दरअसल, 35 साल के अमरजीत सिंह की गुजरात के सूरत में पीट-पीटकर मारे जाने की खबर आज सामने आई थी, लेकिन अब इस मामले पर पुलिस का बयान आया है, जिसमें ये कहा गया है कि अमरजीत सिंह की मौत पिटाई की वजह से नहीं बल्कि एक रोड एक्सीडेंट में हुई है। पुलिस का कहना है कि इस बात के कोई सबूत नहीं मिले हैं, जो ये साबित कर सकें कि अमरजीत की हत्या की गई है, बल्कि वो एक रोड एक्सीडेंट में मारा गया है।

परिजन कह रहे हैं हत्या की बात

वहीं पुलिस की इस थ्योरी से अलग अमरजीत के परिवार का यही कहना है कि उसकी हत्या की गई है। परिवारवालों का आरोप है कि उनका बेटा भी गुजरात में प्रवासियों को निशाना बना रहे लोगों का शिकार हो गया है। आपको बता दें कि आज मीडिया में ये खबर सामने आई थी कि बिहार के गया जिले के रहने वाले 35 वर्षीय अमरजीत सिंह की सूरत के अल्थान इलाके में हत्या कर दी गई। कहा जा रहा था कि अमरजीत सिंह को शुक्रवार की रात कुछ लोगों ने पीट-पीटकर मार डाला।

पुलिस ने घटनास्थल से बरामद की क्षतिग्रस्त मोटरसाइकिल

इस घटना को लेकर पुलिस ने कहा है कि सूरत के पांडेसर निवासी अमरजीत सिंह शुक्रवार देर रात भगवान महावीर कॉलेज के पास सड़क पर घायलावस्था में मिले थे। जानकारी के मुताबिक, अमरजीत मोटरसाइकिल से अपने घर लौट रहा था, तभी अज्ञात वाहन ने उसको टक्कर मार दी। अमरजीत सिंह को देखकर वहां से गुजर रहे कुछ लोगों ने उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया। इलाज के दौरान अमरजीत की मौत हो गई। पुलिस ने बताया है कि अमरजीत के सिर में पीछे के हिस्से में चोट लगी थी और मौके से पुलिस ने अमरजीत की क्षतिग्रस्त बाइक को भी बरामद किया है।

अमरजीत के भाई ने लगाया हत्या का आरोप

वहीं अमरजीत के भाई ने एक अंग्रेजी अखबार को दिए इंटरव्यू में बताया है कि शुक्रवार को करीब रात 10 बजे हमारी उससे बात हुई थी। इसके बाद वो किसी से मिलने के लिए गया था, लेकिन बाद में हमारे पास कॉल आई कि वो मृत पाया गया है। परिजनों ने इस घटना को लेकर हंगामा किया और अमरजीत के शव को लेने से इनकार कर दिया। हालांकि बाद में वो शव को लेकर अपने गांव रवाना हो गए।

कौन था अमरजीत?

आपको बता दें कि अमरजीत सिंह सूरत के पांडेसरा सीता नगर में रहता था। मूल रूप से वो बिहार के गया जिले का रहने वाला था। अमरजीत सूरत में लेबर कॉन्ट्रेक्टर के तौर पर कार्य करता था। अमरजीत शुक्रवार रात को साढ़े दस बजे मोटरसाइकिल लेकर घर जा रहा था। इसी दौरान महावीर कॉलेज से साई रेजिडेंसी जाने वाले रोड पर अज्ञात वाहन ने उसको टक्कर मार दी। हादसे में गंभीर रुप से घायल अमरजीत की मौत हो गई।

परिवार ने गैर गुजरातियों पर हमले का दिया एंगल

सूचना मिलने पर खटोदरा पुलिस पहुंची और शव को पोस्टमार्टम के लिए न्यू सिविल अस्पताल ले आई। सूचना मिलने पर परिवार के लोग भी अस्पताल पहुंच गए। उन्होंने बताया कि अमरजीत सालों से सूरत में काम कर रहा था। यहां काम करते हुए उसने अपना घर भी बना लिया था। परिवार के लोगों ने पोस्टमार्टम के पहले हत्या की आशंका जताई। उन्होंने इस पूरे मामले को साबरकांठा जिले में बच्ची से बलात्कार की घटना के बाद उत्तर भारतीय पर हो रहे हमले से जोड़ कर मीडिया को जानकारी दी।

बाद में पुलिस ने मामले की पूरी जानकारी दी और पता चला कि अमरजीत की मौत रोड एक्सीडेंट में हुई थी।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned