पांच सौ रुपए का कर्ज नहीं चुका सका तो दोस्त की पत्नी से कर ली शादी, अब धरने पर बैठा पति

पांच सौ रुपए का कर्ज नहीं चुका सका तो दोस्त की पत्नी से कर ली शादी, अब धरने पर बैठा पति

Kaushlendra Pathak | Updated: 26 Sep 2018, 01:54:09 PM (IST) क्राइम

दो दोस्तों के बीच एक ऐसा मामले सामने आया है, जो चर्चा का विषय बना हुआ है।

नई दिल्ली। कर्नाटक में एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है। बताया जा रहा है कि बेलगावी में एक शख्स ने दोस्त की पत्नी से ही शादी कर ली। सबसे हैरानी वाल बात यह है कि यह शादी केवल पांच सौ रुपए के लिए की गई है। अब पीड़ित शख्स इसके विरोध में डेप्युटी कमिश्नर दफ्तर के बाहर धरना पर बैठ गया है। पीड़ित की प्रशासन से मांग है कि उसे उसकी पत्नी वापस दिलाई जाए।

यह है पूरा मामला...

जानकारी के मुताबिक, बेलहोंगल तालुका के मुराकीभावी गांव के बासवराज कोनान्नवर और गोकाक के मुडाकनट्टी के रहनेवाले रमेश हुक्केरी एक होटेल में साथ सप्लायर का काम करते थे। उसी दौरान दोनों की दोस्ती हो गई। बासवराज की पत्नी पार्वती भी इसी होटल में काम करती थी। बताया जा रहा है कि बासवराज और पार्वती की शादी साल 2011 में हुई थी। उनकी एक तीन साल की बेटी भी है। काम करने के दौरान पार्वती और रमेश भी एक-दूसरे के संपर्क में थे। किसी कारण बासवराज ने रमेश से पांच सौ रुपए उधार लिए थे। कहा जा रहा है कि बासवराज ने यह पैसे रमेश को नहीं दिए, इसलिए उसने पार्वती से शादी कर ली। बासवराज का आरोप है कि दो महीने पहले रमेश ने पार्वती को अगवा कर लिया और कर्ज न चुकाने के चलते शादी कर ली। बासवराज के मुताबिक पार्वती उसके दूसरे बच्चे की मां बनने वाली थी। वहीं, दूसरी ओर शादी के बाद रमेश ने पार्वती को उसके मायके भेज दिया। बासवराज का कहना है कि पत्नी के अगवा होने के बाद उसने तुरंत शिकायत दर्ज कराने की कोशिश की, लेकिन किसी ने इसे गंभीरता से नहीं लिया। मंगलवार को बासवराज ने कहा कि पिछले दो महीने से पार्वती रमेश के साथ रह रही है और उसके पास नहीं लौटना चाहती है। उसने एक ऑडियो क्लिप भी दिखाई है, जिसमें रमेश कथित रूप से उसे पार्वती से दूर रहने की धमकी दे रहा है। फिलहाल, डेप्युटी कमिश्नर ने पुलिसकर्मियों को शिकायत दर्ज करने के आदेश दिए हैं। साथ ही उन्होंने आश्वासन भी दिए कि जल्द ही इस मामले में कार्रवाई की जाएगी।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned