फिर खुली पोल: प्रचार पाने के लिए पोते ने काटी दादी की चोटी

जेवर के दयानतपुर गांव में प्रचार पाने के लिए पौत्र ने दादी की चोटी काट डाली। चोटी काटने वाले 11 साल के पौत्र को पुलिस ने चेतावनी देकर छोड़ दिया है।

By:

Published: 07 Aug 2017, 01:49 PM IST

जेवर। क्षेत्र के दयानतपुर गांव में केवल प्रचार पाने के लिए पौत्र ने अपनी दादी की चोटी काट डाली। फिर शोर मचा दिया गया कि किसी रहस्यमय शक्ति ने चोटी काट दी है। हालांकि, कुछ ही देर में असलियत सामने आ गई। चोटी काटने वाले 11 साल के पौत्र को पुलिस ने चेतावनी देकर छोड़ दिया है। बता दें कि इस समय हरियाणा, दिल्ली, उत्तर प्रदेश से रोजाना महिलाअों की चोटी कटने की खबरें आ रही हैं।

 

बारीकी से जांच में हुआ खुलासा

दयानतपुर की पुष्पा की रविवार दोपहर चोटी कटने की खबर फैली। तफ्तीश के दौरान पुलिस को परिवारवालों पर शक हुआ। बारीकी से जांच की गई तो पुष्पा ने पुलिस को बता दिया कि उसके जेठ के 11 साल के पौत्र ने चोटी काटी है। घटना के समय परिवार के लोग साथ बैठे थे। परिवार के युवकों ने मजाक में कहा कि उनकी चोटी काट देते हैं। इससे हल्ला हो जाएगा और प्रचार मिल जाएगा। दादी कहना है कि उसने ऐसा करने से मना किया लेकिन पोता नहीं माना।

 

जेवर क्षेत्र में कट चुकी हैं कई महिलाओं की चोटियां
जेवर क्षेत्र में बीते दो दिनों में कई महिलाओं की चोटी कटने की घटनाएं सामने आई हैं। इन सभी मामलों में किसी भी महिला ने चोटी काटने वाले को नहीं देखा है। पुलिस इन सभी मामलों की जांच में जुटी है। चोटी कटने से पीडि़त एक महिला का बेहोशी के बाद अस्पताल में उपचार चल रहा है।

 

आगरा में हो चुकी है महिला की हत्या
उत्तर प्रदेश के आगरा में चोटी काटने के शक में एक दलित महिला की हत्या हो चुकी है। यहां लोगों ने इस महिला को चोटी काटने का शक होने पर पीट-पीटकर मार डाला था।

श्मशान में हवन करेंगे भाजपा विधायक
जानकारी के अनुसार गाजियाबाद में लोनी के भाजपा विधायक नंदकिशोर गूर्जर ने कहा है कि चोटी कटने से लोगों को बचाने के लिए वे मंगलवार को संगम विहार के श्मशान घाट में हवन और यज्ञ करेंगे।

 

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned