हाथरस के पुलिस अधीक्षक, सीओ, इंस्पेक्ट समेत कई अन्य निलंबित, नार्को टेस्ट भी होगा

  • पीड़िता के परिवार का भी नार्को टेस्ट होगा
  • एसपी और अन्य निलंबित सभी पुलिसकर्मियों का नार्को टेस्ट होगा

By: विकास गुप्ता

Published: 02 Oct 2020, 10:10 PM IST

लखनऊ । हाथरस गैंगरेप मामले में उत्तर प्रदेश सरकार ने बड़ी कार्रवाई की है। शुक्रवार देर शाम सरकार ने हाथरस मामले में लापरवाही बरतने के चलते जिले के एसपी विक्रांत वीर, सीओ और इंस्पेक्टर को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है। हाथरस मामले में पीड़िता के परिवार का भी नार्को टेस्ट होगा। उनके अलावा एसपी और अन्य निलंबित सभी पुलिसकर्मियों का नार्को टेस्ट होगा। इसके साथ हाथरस के जिलाधिकारी पर भी किसी बड़ी कार्रवाई की तलवार लटक रही है। शामली के एसपी विनीत जायसवाल को हाथरस का नया एसपी बनाया गया है।

पुलिस अधीक्षक विक्रांत वीर, क्षेत्राधिकारी राम शब्द, प्रभारी निरीक्षक दिनेश कुमार वर्मा, वरिष्ठ उप निरीक्षक जगवीर सिंह और हेड मोहर्रिर महेश पाल के अलावा अन्य को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है। अब इनका नारको टेस्ट होगा।

इस मामले में शुरुआत से ही प्रशासनिक लापरवाही सामने आई है। मुख्यमंत्री कार्यालय ने सीधा हस्तक्षेप करके एसआईटी का गठन किया था और डीएम-एसपी के खिलाफ विस्तृत रिपोर्ट मांगी थी। इस मामले में हाथरस के जिलाधिकारी पर भी कार्रवाई हो सकती है। अभी इसके लेकर कुछ भी स्पष्ट नहीं हो सका है।

विकास गुप्ता
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned