मुंबई: तीन दिन से लापता हैं एचडीएफसी बैंक के वाइस प्रेसिडेंट सिद्धार्थ संघवी, अपहरण का शक

मुंबई: तीन दिन से लापता हैं एचडीएफसी बैंक के वाइस प्रेसिडेंट सिद्धार्थ संघवी, अपहरण का शक

Saif Ur Rehman | Publish: Sep, 08 2018 12:50:05 PM (IST) क्राइम

आखिरी बार उनकी कार को कोपर खैराने क्षेत्र में छह सितंबर को ट्रेस किया गया था।

मुंबई। निजी क्षेत्र के बैंक हाउसिंग डिवेलपमेंट फाइनेंस कॉर्पोरेशन यानी एचडीएफसी बैंक के वाइस प्रेसिडेंट सिद्धार्थ संघवी कई दिनों से लापता हैं। संदिग्ध परिस्तिथियों में संघवी गुम हो गए हैं। बीते तीन दिन से उनका कुछ पता नहीं चल रहा है। पांच सितंबर से वह अपने कमला मिल्स दफ्तर से गायब बताए जा रहे हैं। आखिरी बार उनकी कार को कोपर खैराने क्षेत्र में छह सितंबर को ट्रेस किया गया था। उनकी पत्नी ने एनएम जोशी मार्ग पुलिस स्टेशन में की शिकायत की है। पुलिस ने गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है।

दिल्ली पुलिस का खुलासा, गिरफ्तार आंतकी यूपी से हथियार खरीदकर लौट रहे थे कश्मीर

 

 

मणिपुर के मुख्यमंत्री को मारने की साजिश का हिस्सा रहा आतंकी गिरफ्तार, दो लाख रुपए का था ईनाम

अपहरण का शक

मीडिया में आई खबरों केे मुताबिक एक बेटे के पिता सिद्धार्थ संघवी बुधवार रात करीब 8:30 बजे अपने कार्यालय मालाबार हिल्स के पास स्थित अपने आवास के लिए निकले थे। मगर वह अपने घर पर नहीं पहुंचे। सिद्धार्थ की कार अगली सुबह कॉपर खैराने के पास मिली थी और कार की सीट पर खून के दाग भी मिले। पुलिस को ये मामला अपहरण का लग रहा है। पुलिस ने बताया है कि पहली नजर में यह केस अपहरण का व्यतीत हो रहा है लेकिन पुख्ता तौर पर कुछ नहीं कहा जा सकता। सिद्धार्थ की आखिरी लोकेशन कमला मिल्स की बताई जा रही है, इसके बाद उनका फोन बंद हो गया। पुलिस सिद्धार्थ की मोबाइल लोकेशन और कॉल रिकॉर्ड के आधार पर मामले की जांच कर रही है।

हाईटेक होगी भारत-पाक की सीमा, गृहमंत्री अगले महीने लॉन्च करेंगे पहली 'स्मार्टफेंस' पायलट परियोजना

सबसे ज्यादा महाराष्ट्र में लापता हुए लोग

राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड्स ब्यूरो (एनसीआरबी) के 2016 के आंकड़ों के मुताबिक देशभर में 5,49,008 ( (2,34,334 पुरूष, 3,14,674 महिलाएं) लोग लापता हुए। वहीं देश में सबसे ज्यादा मामले महाराष्ट्र में सामने आए यहां 94,919 लोग गुमशुदा हुए, जिसमें 49,338 महिलाएं और 45,581 पुरूष शामिल रहे। वहीं मुंबई में पिछले पांच साल के दौरान 26,000 से ज्यादा लड़कियां और महिलाएं लापता हुई हैं. इनमें से 24,444 मिल गईं जबकि 2,264 अब भी लापता हैं। यह जानकारी महाराष्ट्र सरकार के आंकड़े से सामने आई है।

Ad Block is Banned