शशिकला परिवार के ठिकानों पर छापे में 1400 करोड़ की अघोषित आय का खुलासा : आईटी

prashant jha

Publish: Nov, 14 2017 06:41:42 (IST)

Crime
शशिकला परिवार के ठिकानों पर छापे में 1400 करोड़ की अघोषित आय का खुलासा : आईटी

आयकर विभाग के अधिकारियों का कहना है कि चेन्नई में शशिकला के संबंधियों और जया टीवी के ठिकानों पर छापे में अकूत बेनामी संपत्ति का पता चला है।

चेन्नई: एआईएडीएमके से दरकिनार पार्टी महासचिव वीके शशिकला के परिवार से जुड़े ठिकानों पर आयकर विभाग की छापेमारी में बड़ा खुलासा हुआ है। तमिलनाडु की दिवंगत पूर्व सीएम जयललिता की करीबी शशिकला आय से ज्यादा संपत्ति के मामले में बेंगलूरु की जेल में बंद है। आयकर विभाग के अधिकारियों का कहना है कि चेन्नई में शशिकला के संबंधियों और जया टीवी के ठिकानों पर छापे में अकूत बेनामी संपत्ति का पता चला है।

187 ठिकानों पर छापा

आयकर विभाग के मुताबिक छापेमारी में करीब 1400 करोड़ रुपए से ज्यादा की अघोषित आय का पर्दाफाश हुआ है। छापे में क्या-क्या दस्तावेज और वस्तुएं बरामद हुईं, इस बारे में अभी आधिकारिक बयान नहीं आया है। 187 ठिकानों पर पड़े थे छापे आयकर विभाग ने पिछले गुरुवार को शशिकला और उनके संबंधियों के कुल 187 ठिकानों पर छापे की कार्रवाई की थी। आईटी रेड से शशिकला खेमे में हड़कंप मच गया था। जेल में बंद शशिकला भी बेचैन नजर आईं और शनिवार व रविवार को पूरे दिन जया टीवी न्यूज चैनल और अखबारों से जानकारी जुटाने में लगी रही।

जेल में दिनभर परेशान होती रही शशिकला

बता दें कि शशिकला आय से अधिक संपत्ति मामले में 4 साल की जेल की सजा काट रही है। जेल के विश्वसनीय सूत्रों के हवाले से सामने आया कि शुक्रवार और शनिवार देर रात करीब एक बजे तक शशिकला न्यूज चैनल से जानकारी लेती रही। शनिवार को वह जेल की लाइब्रेरी गईं और वहां दैनिक अखबारों की कॉपी पढऩे लगी। वह आईटी रेड की खबरों को पढ़कर थोड़ा उदास और परेशान नजर आई । खबर देखने के बाद शशिकला शांत होकर अपने कमरे में लौट गई।

आठ किलो सोना जब्त

सूत्रों के मुताबिक आठ किलोग्राम सोना और संपत्ति के कई कागजात आयकर विभाग के अधिकारियों ने जब्त किए हैं।अधिकारियों ने बताया कि विभाग को शशिकला से जुड़े लोगों और कंपनियों की ओर से इस साल आयकर रिटर्न दाखिल किए जाने का इंतजार था। एक आयकर अधिकारी ने बताया कि कागजातों की जांच और स्पष्टीकरण मिल जाने पर उनसे कर की मांग की जाएगी।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned