केरल यौन शोषण मामला: पुलिस ने बढ़ाई पीड़ित की सुरक्षा, 13 बार रेप करने के आरोप में बिशप को जारी हुआ है समन

केरल यौन शोषण मामला: पुलिस ने बढ़ाई पीड़ित की सुरक्षा, 13 बार रेप करने के आरोप में बिशप को जारी हुआ है समन

Saif Ur Rehman | Publish: Jul, 22 2018 04:01:34 PM (IST) क्राइम

पुलिस ने रेप पीड़ित नन की सुरक्षा बढ़ा दी है।

कोट्टायम। पुलिस ने कोट्टायम के समीप स्थित उस कॉन्वेंट की सुरक्षा बढ़ा दी है जिसमें रहने वाली एक नन ने कैथलिक बिशप पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया है। पहचान न उजागर करने की शर्त पर अधिकारी ने कहा, "सुरक्षा की मांग करने वाली उसकी शिकायत पर कार्रवाई कर रही पुलिस टीम ने सुरक्षा बढ़ाई है।" पुलिस टीम कुछ ऐसी नन से मिलने के लिए फिलहाल बेंगलुरू में है, जो पहले इस कॉन्वेंट में रह चुकी हैं।

कर्नाटक: क्लब के तीन लॉकर से मिला बेशकीमती सामान, 500 करोड़ की संपत्ति के दस्तावेज भी शामिल

क्या है पूरा मामला?

पंजाब के जालंधर स्थित रोमन कैथलिक डायोसीज के बिशप फ्रैंको मुलक्कल के लिए मुसीबतें जून में शुरू हुई, जब एक नन ने उनके खिलाफ 2014 और 2016 के बीच कई बार यौन उत्पीड़न करने का आरोप लगाया। नन का आरोप है कि बिशप ने 13 बार उसका यौन शोषण किया। कोट्टायम जिला पुलिस प्रमुख को दी गई अपनी शिकायत में नन ने आरोप लगाया कि रोमन कैथलिक चर्च के जालंधर धर्मप्रदेश के बिशप ने चार साल पहले पास के एक कस्बे में कई बार उसका यौन उत्पीड़न किया। बिशप फ्रैंको मुक्कल शिरोमणि अकाली दल के नेताओं के करीबी माने जाते हैं। बिशप के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है और कुरुवलांगदु कॉन्वेंट में नन व अन्य सहवासियों से 114 पृष्ठों का विस्तृत बयान लिया गया है। नन ने आरोप लगाया कि उत्पीड़न कॉन्वेंट के अंदर हुआ था। 44 वर्षीय नन का आरोप है कि साइरो-मालाबार कैथोलिक चर्च से बिशप फ्रैंको मुलक्कल के विरूद्ध शिकायत की गई तो चर्च ने इस पर कोई कार्रवाई नहीं की। इसके बाद उसे पुलिस की मदद लेनी पड़ी। पुलिस ने बिशिप के विरूद्ध समन जारी किया है। जिसके तहत आरोपी को जालंधर से पूछताछ के लिए केरल भेजा जाएगा। वहीं मुलक्कल लगातार कह रहे हैं कि उन्होंने कुछ गलत नहीं किया है।

12 साल की उम्र में गैंगरेप तो कोई हुआ यौन शोषण का शिकार, पाकिस्तान में ऐसी है किन्नरों की लाइफ

Ad Block is Banned