जम्मू-कश्मीरः अवंतीपुरा में आतंकवादियों और सुरक्षा बलों के बीच मुठभेड़ जारी

  • आतंकियों के छिपे होने का सुरक्षा बलों को मिला था इनपुट।
  • इलाके में तलाशी अभियान चलाए जाने के दौरान हुई मुठभेड़।

Amit Kumar Bajpai

October, 2208:15 PM

क्राइम

जम्मू। घाटी से अभी-अभी एक बड़ी खबर आई है। जम्मू एवं कश्मीर के अवंतीपुरा में सुरक्षा बलों और आतंकवादियों के बीच मुठभेड़ चल रही है। अभी रविवार को ही भारतीय सेना द्वारा पीओके में आतंकी शिविरों को नष्ट कर दिया गया था, जिसमें दर्जन भर आतंकी और पाकिस्तानी सैनिक ढेर हो गए थे।

बड़ी खबरः 'चंद्रयान 2 को लेकर टूट गए सपने, आखिरकार फेल गया मिशन', क्योंकि जो चीज दिखाई दी वो तो...

ताजा जानकारी के मुताबिक सुरक्षा बलों को मंगलवार शाम को खुफिया सूचना मिली थी कि अवंतीपुरा में आतंकी छिपे हुए हैं। इनपुट मिलने के बाद सुरक्षा बलों ने तुरंत ही अवंतीपुरा में सर्च ऑपरेशन शुरू कर दिया।

ब्रेकिंगः JK गर्वनर सत्यपाल मलिक की बड़ी चेतावनी, अगर अब नहीं सुधरे तो अंदर घुसकर कर देंगे...

सुरक्षा बलों के जवान इलाके में अलग-अलग जगहों पर जाकर आतंकियों की तलाश में जुट गए। इसी बीच सुरक्षा बलों की एक टुकड़ी आतंकियों के पास पहुंच गई, जिसके बाद उन्होंने तुरंत गोलीबारी चालू कर दी। इसके बाद सुरक्षाबलों की ओर से जवाबी फायरिंग शुरू कर दी गई।

इससे पहले सोमवार को घाटी में पत्रकारों से बातचीत करते हुए राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने कहा था, "टेररिस्ट कैंप को हम बिल्कुल नष्ट कर देंगे और अगर ये नहीं बाज आए तो हम अंदर जाएंगे।"

मलिक ने यह बयान एक पत्रकार के जवाब में दिया, जिसने रविवार को पीओके में आतंकी शिविरों के ऊपर भारतीय सेना द्वारा की गई कार्रवाई के संबंध में सवाल किया था।

कमांडरों की कॉन्फ्रेंस के बाद रक्षा मंत्री का बड़ा ऐलान, पाकिस्तान को दी वार्निंग.. देशवासी हो जाएं..

गौरतलब है कि रविवार को भारतीय सेना ने तोपों (आर्टिलरी गन्स) का इस्तेमाल कर पीओके में मौजूद आतंकी शिविरों को नष्ट कर दिया था। इन आतंकी शिविरों के जरिये पाकिस्तान भारतीय सीमा में आतंकियों को घुसपैठ कराने की लगातार कोशिश कर रहा था।

मलिक ने कहा, "लड़ाई अच्छी नहीं होती और पाकिस्तान को सुधर जाना चाहिए। अगर पाकिस्तान अपनी हरकतों से बाज नहीं आता, तो कल जो हुआ उससे ज्यादा होगा।"

उन्होंने आगे कहा, "यहां के लोगों के लिए मैं कहना चाहूंगा अब एक नया कश्मीर होगा... इसमें हिस्सा लीजिए और इसे आगे बढ़ाइए।"

इस संबंध में रविवार शाम को जनरल बिपिन रावत ने मीडिया को बताया, "हमें मिल रहीं रिपोर्टों के आधार पर, 6-10 पाकिस्तानी सैनिक ढेर हुए हैं और तीन आतंकी शिविर नष्ट कर दिए गए हैं। इतनी ही संख्या में आतंकी भी ढेर किए गए हैं।"

अभी-अभीः महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के बारे में सामने आई पूरी हकीकत, इसलिए... ऐसे किया गया है...

सेना प्रमुख ने कहा कि शनिवार शाम को आतंकियों ने तंगधार के जरिये घुसपैठ की कोशिश की थी। भारतीय सेना ने इस गोलीबारी कर मुहतोड़ जवाब दिया और वहां मौजूद आतंकी ढांचों को भारी नुकान पहुंचाया।

उन्होंने कहा, "हमने जवाबी कार्रवाई की, पाकिस्तान ने हमारी चौकी पर गोलीबारी कर हमला किया था, जिसमें हमें नुकसान हुआ। लेकिन वो कोई घुसपैठ कर पाते इससे पहले.. हमने यह फैसला ले लिया था कि हम उनके आतंकी शिविरों को निशाना बनाएंगे। हमारे पास इन आतंकी शिविरों के कोआर्डिनेट्स (सटीक लोकेशन) थे।"

पाक सैनिकों-आतंकियों को ठोकने के बाद आर्मी चीफ की बड़ी चेतावनी, हमसे मत... वर्ना अगली बार..

आर्मी चीफ ने आगे कहा, "जवाबी कार्रवाई में हमने आतंकी ढांचे को गंभीर नुकसान पहुंचाया। तंगधार सेक्टर के सामने बने आतंकी शिविरों को नष्ट कर दिया गया।"

रावत ने यह भी कहा कि जब से अनुच्छेद 370 रद्द किया गया है, तब से सेना को बार-बार यह इनपुट मिल रहे थे कि सीमापार से आतंकी घुसपैठ करके यहां अमन-चैन बिगाड़ना चाहते हैं।

जनरल रावत ने कहा, "घाटी में धीरे-धीरे हालात सामान्य हो रहे हैं, लेकिन जाहिर सी बात है कि देश के भीतर और बाहर यानी पाकिस्तान और पीओके में कुछ ऐसे हैं जो चुपचाप आतंकियों और एजेंसियों के लिए काम कर रहे हैं और वो यहां के शांतिपूर्ण माहौल को बिगाड़ने की कोशिश कर रहे हैं।"

Show More
अमित कुमार बाजपेयी
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned