Jammu Kashmir: Sopore में CRPF पार्टी पर आतंकी हमला, एक जवान शहीद, स्थानीय की भी मौत

  • Jammu Kashmir: Sopore में CRPF पार्टी पर आतंकी हमला
  • आतंकी हमले ( Terrorist Attck ) में एक जवान शहीद, एक स्थानीय की भी मौत
  • घाटी में त्राल ( Tral ) और सोपोर ( Sopore ) में आतंकी वारदात

By: Kaushlendra Pathak

Published: 01 Jul 2020, 12:22 PM IST

नई दिल्ली। कोरोना वायरस ( coronavirus in India ) संकट के बीच आतंकी गतिविधि भी थमने का नाम नहीं ले रहा है। सुबह में जम्मू-कश्मीर ( Jammu Kashmir ) के पुलवामा ( Pulwama ) के त्राल ( Tral ) में आतंकियों के साथ मुठभेड़ की खबर सामने आई थी। वहीं, अब सोपोर ( Sopore ) में आतंकियों ने CRPF पर हमला किया है। इस हमले में CRPF का एक जवान शहीद हो गया है, जबकि तीन अन्य जवान घायल हुए हैं। वहीं, एक स्थानीय के भी मारे जाने की खबर है।

Sopore में आतंकी हमला

जानकारी के मुताबिक, सोपोर इलाके ( Terrorist Attack in Sopore ) में बुधवार सुबह CRPF की एक पार्टी पेट्रोलिंग पर निकली थी। तभी घात लगाकर बैठे आतंकियों ने उन पर ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दी। सुरक्षा बलों की ओर से भी जवाबी कार्रवाई की गई। दोनों ओर से ताबड़तोड़ फायरिंग जारी है। लेकिन, इस मुठभेड़ ( Encounter in Sopore ) में CRPF 179 बटालियन के हेड कॉन्स्टेबल ( Head Constable ) शहीद हो गए हैं। वहीं, एक स्थानीय नागरिक की भी मौत हो गई। इस हमले में अब तक तीन जवान के साथ-साथ एक आम नागरिक भी गंभीर रूप से घायल हो गए हैं, जिन्हें हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है। फिलहाल, इलाके में सर्च ऑपरेशन जारी है और खबर लिखे जाने तक फायरिंग जारी है।

छह दिन में दूसरी घटना

रिपोर्ट के अनुसार, इलाके में दो से तीन आतंकवादियों के छिपे होने की खबर है। गौरतलब है कि सुरक्षाबलों पर हमले ( Terrorist Attack on Crpf Party ) की 6 दिन में यह दूसरी घटना है। इससे पहले शुक्रवार को अनंतनाग ( Anantnag ) के बिजबेहड़ा में सीआरपीएफ की पार्टी पर आतंकियों ने हमला किया था, जिसमें एक जवान शहीद हो गया था। जबकि, एक पांच वर्षीय बच्चे की मौत हुई थी। इधर, पुलवामा ( Encounter in Pulwama ) के त्राल में भी आतंकियों के साथ मुठभेड़ चल रही है। बताया जा रहा है कि इलाके में दो से तीन आतंकियों के छिपे होने की सूचना है।

घाटी में आतंकी का सफाया

यहां आपको बता दें कि घाटी में लगातार आतंकियों ( Terrorist ) का सफाया हो रहा है। इस महीने में सुरक्षा बलों ने अब तक 51 आतंकियों का सफाया किया है। जबकि, इस साल सौ से ज्यादा आतंकियों के मारे जाने की खबर है। लॉकडाउन ( India Lockdown ) के दौरान ज्यादातर आतंकियों का सफाया हुआ है। आलम ये है कि पिछले कुछ समय से घाटी में लगातार मुठभेड़ हो रहे हैं। इस एनकाउंटर में देश के कई जवान भी शहीद हुए हैं। वहीं, स्थानीय लोग भी मारे जा रहे हैं। इधर, पाकिस्तान की ओर आतंकियों को लगातार घुसपैठ कराने की कोशिश हो रही है।

Show More
Kaushlendra Pathak Content
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned