कश्मीर: आतंकियों ने फिर बनाया सेना को निशाना, एलओसी के पास की गोलीबारी

उत्तरी कश्मीर में एलओसी के पास केरन सेक्टर में आतंकियों ने सेना की गश्ती दल पर हमला किया।

By: Chandra Prakash

Published: 07 Jun 2018, 12:56 PM IST

श्रीनगर: गृहमंत्री राजनाथ सिंह के श्रीनगर दौरे से बीच आतंकियों ने एकबार फिर सुरक्षाबलों को निशाना बनाया है। उत्तरी कश्मीर में एलओसी के पास केरन सेक्टर में आतंकियों ने सेना की गश्ती दल पर हमला किया। खबर है कि हमले के बाद आतंकवादियों के समूह के साथ सेना की मुठभेड़ भी हुई। जिसमें दो जवान जख्मी हो गए। ने पूरे इलाके को घेर सर्च ऑपरेशन शुरू कर दिया है।

सेना की कार्रवाई से बौखलाए आतंकी

सेना के प्रवक्ता ने कहा कि यहां से लगभग 120 किलोमीटर दूर नियंत्रण रेखा (एलओसी) से सटे गांव में सुबह गोलीबारी शुरू हुई। उन्होंने कहा कि यह संभवत: घुसपैठ की कोशिश थी, जिसे सेना ने नाकाम कर दिया। सुरक्षाबलों कश्मीर में सेना लगातार आतंक विरोधी अभियान चला रही है, जिससे आतंकी संगठन बुरी तरह बौखलाए हुए हैं, जिसके चलते हर रोज सुरक्षाबलों को निशाना बना रहे हैं।

यह भी पढ़ें: जनऔषधि के लाभार्थियों से बोले पीएम, हमारी सरकार में दवाओं के दाम 90 फीसदी कम हुए

कश्मीर दौरे पर हैं गृहमंत्री राजनाथ

बता दें कि केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ इस वक्त जम्मू कश्मीर में ही है। दो दिवसीय दौरे पर गुरुवार को सिंह श्रीनगर पहुंचेंगे। वह राज्यपाल एन.एन.वोहरा, मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती और राज्य एवं केंद्र विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों से कानून एवं व्यवस्था की समीक्षा करेंगे। इस दौरान यह भी विचार किया जाएगा कि क्या मौजूदा समय में संघर्षविराम की स्थिति को ईद के बाद भी विस्तृत किया जाए या नहीं।

ईद बाद भी जारी रहेगा संघर्षविराम!

राज्य सरकार ईद के बाद भी संघर्षविराम को कायम रखना चाहती है। शीर्ष सूत्रों का कहना है कि सेना के फील्ड कमांडर्स का कहना है कि एक तरफ से संघर्षविरामसे आतंकवादियों को भर्तियों के जरिए अपनी संख्या बढ़ाने में मदद मिल रही है।

अलगाववादियों को करेंगे बातचीत के लिए तैयार
राजनाथ सिंह की इस यात्रा का एक और एजेंडा वार्ता के लिए अलगाववादी नेताओ को बातचीत के लिए तैयार करना है। राजनाथ का कहना है कि केंद्र सरकार अलगाववादियों सहित सभी के साथ वार्ता करने के लिए तैयार है। भाजाप के राष्ट्रीय महासचिव राम माधव ने हाल ही में अलगाववादियों से केंद्र के साथ सार्थक वार्ता में शामिल होने को कहा था।

Show More
Chandra Prakash Content Writing
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned