झारखंड: हजारीबाग में सांप्रदायिक तनाव, लोगों ने 4 मोटरसाइकिलों में लगाई आग

झारखंड: हजारीबाग में सांप्रदायिक तनाव, लोगों ने 4 मोटरसाइकिलों में लगाई आग

Anil Kumar | Publish: Dec, 06 2018 07:59:52 PM (IST) | Updated: Dec, 06 2018 08:11:33 PM (IST) क्राइम

हिंदू संगठनों ने आरोप लगाया है कि इचाक से आ रही बाइक रैली को एसडीएम मेघा भारद्वाज ने रोका और फिर उनकी पिटाई कर दी गई।

रांची। झारखंड के हजारीबाग जिले में एक मामले को लेकर सांप्रदायिक तनाव बढ़ गया है। मामला इतना बढ़ गया कि लोगों ने चार मोटरसाइकलों को आग के हवाले कर दिया और पुलिस थाने का घेराव कर प्रदर्शन किया गया। बताया जा रहा है कि हिन्दू संगठन शौर्य दिवस का जुलूस निकाल रहे थे, जिसे पुलिस ने रोक दिया। हिंदू संगठनों ने आरोप लगाया है कि इचाक से आ रही बाइक रैली को एसडीएम मेघा भारद्वाज ने रोका और फिर उनकी पिटाई कर दी गई। इससे गुस्साए लोगों ने कोर्रा थाने का घेराव किया और फिर तोड़फोड़ की। बता दें कि जब इस मामले की सूचना सदर विधायक मनीष जायसवाल को मिली तो वे फौरन ही थाने पहुंचे और प्रशासन की इस कार्रवाई की कड़ी निंदा की। इसके साथ ही विधायक ने तनाव भड़काने वाले अधिकारियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की मांग की।

झारखंड: हजारीबाग में सांप्रदायिक तनाव,लोगों ने 4 मोटरसाइकिलों में लगाई आग

उपद्रवियों पर पुलिस ने किया लाठी चार्ज

आपको बता दें कि विधायक मनीष जायसवाल ने हिन्दू संगठनों के जुलूस को रोके जाने पर अपनी नाराजगी जताई। बताया जा रहा है कि जुलूस रोके जाने से नाराज लोगों ने झंड़ा चौक पर पथराव किया और लोग उपद्रव मचाने लगे। पुलिस ने लोगों को रोकने के लिए लाठी चार्ज किया। इससे पूरे इलाके में भगदड़ जैसे हालात बन गए। अचानक सैंकड़ों की तादात में पुलिस बल घटनास्थल पर पहुंच गए। घटना के बाद लोग अपनी-अपनी दुकानें बंद कर भागने लगे। फिलहाल बड़ी घटना न हो जाए इसलिए मौके पर भारी संख्या में पुलिस बल को तैनात कर दिया गया है। बता दें कि अभी यह बात स्पष्ट नहीं हो पाया है कि जुलूस को क्यों रोका गया था और दो समुदायों के बीच इस झड़प का क्या कारण था?

Ad Block is Banned